Monday, June 17, 2024
Homeदेश-समाजअनिल बन खलील ने हिंदू लड़की को फँसाया, वर्षों तक रेप के दौरान 3...

अनिल बन खलील ने हिंदू लड़की को फँसाया, वर्षों तक रेप के दौरान 3 बार कराया गर्भपात: भेद खुला तो इस्लाम कबूलने का बनाया दबाव, हमीरपुर पुलिस ने दबोचा

जब खलील को पता चला कि उसकी पूरी पोल पीड़िता के आगे खुल चुकी है, तब उसने हिंदू पीड़िता पर इस्लाम कबूल करने का दबाव बनाना शुरू कर दिया। पीड़िता ने जब मना किया तो उसके साथ मारपीट की गई। उसका तीन बार गर्भपात भी करवाया गया, जिसके कारण वह बेहद कमजोर हो गई है। पीड़िता ने पुलिस से खलील पर कड़ी कार्रवाई की माँग की है।

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर जिले से लव जिहाद का मामला सामने आया है। यहाँ एक मुस्लिम युवक ने हिन्दू लड़की का रेप करके इस्लाम कबूल करवाने का प्रयास किया है। आरोपित लड़की को हिन्दू नाम से मिला था। वह शादीशुदा था, लेकिन खुद को कुँवारा बताया था। उसने पीड़िता को 2 वर्षों तक बंधक बनाए रखा और कई बार गर्भपात भी करवाया गया। इस दौरान उसने लड़की की कई बार पिटाई की। पुलिस ने केस दर्ज कर के शनिवार (8 जून 2024) को आरोपित को गिरफ्तार कर लिया।

यह मामला हमीरपुर जिले के थाना क्षेत्र बिम्वार का है। यहाँ मूल रूप से गोरखपुर जिले की रहने वाली एक लड़की ने जिलाधिकारी (DM) से मिलकर 1 जून 2024 को आवेदन दिया। शिकायत में पीड़िता ने बताया कि वह हरियाणा में फ्लिपकार्ट कम्पनी में जॉब कर रही थी। इसी कम्पनी में उसकी मुलाकात एक लड़के से हुई, जिसने खुद को अनिल यादव बताया। अनिल यादव ने पीड़िता को कुछ ही दिनों में अपने प्यार के जाल में फँसा लिया। इसके बाद शादी का झाँसा देकर वह साल 2022 से पीड़िता से लगातार रेप करने लगा।

कुछ दिनों बाद लड़की को पता चला कि जिसे वह अनिल यादव समझ रही है, वह असल में खलील खान है। जानकारी होने पर लड़की ने खुद को खलील से दूर करने की कोशिश की। इस पर खलील नाराज हो गया। उसने लड़की को बंधक बना लिया। इस दौरान उसने पीड़िता को शारीरिक और मानसिक तौर पर बुरी तरह प्रताड़ित किया। बंधक बनाए जाने के दौरान लड़की के साथ वह रेप करता रहा। जब वह मना करती तो खलील उसे बुरी तरह पिटाता। लगभग 2 साल तक बंधक रहने के दौरान पीड़िता 3 बार प्रेग्नेंट हुई। तीनों बार खलील ने दवा खिलाकर उसका गर्भपात करवा दिया।

लगातार 3 बार गर्भपात की वजह से लड़की बेहद कमजोर हो गई। 8 मार्च 2024 को जैसे-तैसे पीड़िता खलील के गाँव गई और वहाँ उसके अम्मी-अब्बा मिले। खलील के अम्मी-अब्बा ने बताया कि उनका बेटा पहले से शादीशुदा है। उसका अपनी बीवी से कोर्ट में केस भी चल रहा है। जब खलील को पता चला कि उसकी पूरी पोल पीड़िता के आगे खुल चुकी है, तब उसने लड़की पर इस्लाम कबूल करने का दबाव बनाना शुरू कर दिया। पीड़िता ने पुलिस से खलील पर कड़ी कार्रवाई की माँग की है।

पुलिस ने खलील के खिलाफ 1 जून 2024 को FIR दर्ज कर ली। खलील पर IPC की धारा 376 (2)(n), 342, 313, 323 और 506 के साथ उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम के सेक्शन 3/5(1) के तहत कार्रवाई की गई है। ऑपइंडिया के पास शिकायत कॉपी मौजूद है। शनिवार (8 जून) को पुलिस को खलील की लोकेशन हमीरपुर के बिरहना तिराहा के पास मिली। दबिश देकर पुलिस ने खलील को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ऋषिकेश AIIMS में भर्ती अपनी माँ से मिलने पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ, रुद्रप्रयाग हादसे के पीड़ितों को भी नहीं भूले

उत्तराखंड के ऋषिकेश से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यमकेश्वर प्रखंड का पंचूर गाँव में ही योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -