Wednesday, December 7, 2022
Homeदेश-समाजवतन वापस आए विंग कमांडर अभिनंदन, हुआ ज़ोरदार स्वागत

वतन वापस आए विंग कमांडर अभिनंदन, हुआ ज़ोरदार स्वागत

विंग कमांडर अभिनन्दन की रिहाई के बीच भारतीय सीमा को हाई अलर्ट पर रखा गया है। वहाँ पर बड़ी संख्या में सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं। सुरक्षाबलों को किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने का निर्देश दिया गया है।

भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन को वाघा सीमा से भारत लाया गया। इस तरह से भारतीय जाँबाज़ की वतन वापसी हुई। सुबह भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनन्दन वर्तमान को भारतीय उच्चायुक्त को सौंप दिया गया था। उनकी वापसी पर पूरे देश में जश्न का माहौल है। उनकी वापसी की सूचना सुनते ही चेन्नई में लोगों ने पूजा-पाठ किया।

पाकिस्तान द्वारा IAF पायलट अभिनन्दन को भारत सौंपने का आधिकारिक पत्र

लगभग 9 बजे IAF विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान अटारी सीमा पर पहुँचे। उनके साथ लाहौर से वाघा-अटारी सीमा तक भारतीय उच्चायोग के अधिकारी भी थे। वह भारतीय सरज़मीं पर है और जल्द ही उन्हें अमृतसर ले जाया जाएगा।

लोग भारी संख्या में वाघा बॉर्डर पर अभिनंदन के स्वागत में ढोल-नगाड़े, पोस्टर और हार-फूल लेकर पहुँच रहे हैं। अभिनंदन के माता-पिता भी उन्हें लेने वाघा बॉर्डर जाएँगे। दिल्ली एयरपोर्ट पर विमान से उतरते वक्त लोगों ने उनका ताली बजाकर स्वागत किया। बता दें कि कल पाकिस्तानी संसद में इमरान ख़ान ने ऐलान किया था कि शुक्रवार (मार्च 1, 2019) को अभिनंदन को रिहा कर दिया जाएगा।

विंग कमांडर अभिनन्दन की रिहाई के बीच भारतीय सीमा को हाई अलर्ट पर रखा गया है। वहाँ पर बड़ी संख्या में सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं। सुरक्षाबलों को किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने का निर्देश दिया गया है। विंग कमांडर की रिहाई के बाद भी सीमा पर सुरक्षा व्यवस्था इसी तरह बनी रहेगी। तीनों सेनाओं के प्रमुख हालात लगातार नज़र बनाए हुए हैं। ज्ञात हो कि भारतीय विंग कमांडर को रिसीव करने के लिए वायु सेना की टीम दिन में ही बॉर्डर पर पहुंच गई थी।

लोग भरी संख्या में वाघा बॉर्डर पर अभिनंदन के स्वागत में ढोल-नगाड़े, पोस्टर और हार-फूल लेकर पहुँच रहे हैं। अभिनंदन के माता-पिता भी उन्हें लेने वाघा बॉर्डर जाएँगे। दिल्ली एयरपोर्ट पर विमान से उतरते वक्त लोगों ने उनका ताली बजाकर स्वागत किया। बता दें कि कल पाकिस्तानी संसद में इमरान ख़ान ने ऐलान किया था कि शुक्रवार (मार्च 1, 2019) को अभिनंदन को रिहा कर दिया जाएगा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आमदनी से 3 गुना ज़्यादा है MCD का खर्च, कैसे चलेगी AAP की रेवड़ी वाली राजनीति? केंद्र सरकार से भी मिलता है पैसा, टैक्स...

एमसीडी आम आदमी पार्टी के लिए काँटो भरा ताज है। इसके आय और व्यय के बीच का जो अंतर है, उसे पाटना आम आदमी पार्टी के लिए आसान नहीं होगा।

काशी तमिल संगमम: जीवंत परंपराओं को आत्मसात करने की विशेषता ही भारतीय सांस्कृतिक संपूर्णता का आधार

प्रथम तमिल संगम मदुरै में हुआ था जो पाण्ड्य राजाओं की राजधानी थी और उस समय अगस्त्य, शिव, मुरुगवेल आदि विद्वानों ने इसमें हिस्सा लिया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
237,221FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe