Monday, June 17, 2024
Homeदेश-समाजपुलिस ने रोका तो गोतस्कर बरसाने लगे गोलियाँ; छाती में गोली लगी पर बुलेटप्रूफ...

पुलिस ने रोका तो गोतस्कर बरसाने लगे गोलियाँ; छाती में गोली लगी पर बुलेटप्रूफ जैकेट से बची SHO की जान, राजस्थान में महमूद और इदरीस गिरफ्तार

इमरान और महमूद गोतस्करों को आरबीएम अस्पताल में भर्ती करवाया गया है, जहाँ उनका इलाज चल रहा है। इनके पास से काटने के लिए ले जाए जा रहे 3 गोवंश बरामद किए गए हैं। महमूद पर दर्ज 19 मुकदमों में अधिकांश गोतस्करी के हैं। दोनों आरोपितों के पास से 3 देसी कट्टे, 6 जिंदा कारतूस और 3 खाली कारतूस बरामद हुए हैं। अस्पताल में इन दोनों ने भविष्य में कभी गोहत्या न करने का वादा किया है।

राजस्थान के डीग जिले में रविवार (2 जून 2024) को पुलिस और गोतस्करों के बीच मुठभेड़ हुई। इस मुठभेड़ में पुलिस ने इदरीस और महमूद के पैरों में गोली मारकर गिरफ्तार कर लिया। मुठभेड़ में थाना प्रभारी के सीने में गोली लगी है। हालाँकि, बुलेट प्रूफ जैकेट की वजह से उनकी जान बच गई। दोनों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। कुल 3 गोवंशों को मुक्त भी करवाया गया है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, घटना डीग जिले के थानाक्षेत्र कामां की है। यहाँ रविवार को पुलिस टीम गश्त कर रही थी। तभी SHO मनीष शर्मा को अपने क्षेत्र में गोतस्करों के मौजूदगी की सूचना मिली। पुलिस को पता चला कि 2 गोतस्कर 3 गोवंश लेकर चनिया खुर्द के जंगल वाली राह पर जा रहे हैं। सूचना पर पुलिस ने घेराबंदी कर तस्करों को घेर लिया और उन्हें खुद को पुलिस के हवाले करने के लिए कहा।

सरेंडर करने के बजाय दोनों आरोपितों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। एक गोली SHO के सीने में लगी। बुलेटप्रूफ जैकेट पहने होने के कारण थानेदार की जान बच गई। आखिरकार पुलिस को अपने आत्मरक्षा में गोली चलानी पड़ी। जवाबी कार्रवाई में महमूद और इदरीस घायल हो गए। उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। महमूद इलाके में भोला नाम से कुख्यात है और उस पर 19 मुकदमे दर्ज हैं।

दोनों गोतस्करों को आरबीएम अस्पताल में भर्ती करवाया गया है, जहाँ उनका इलाज चल रहा है। इनके पास से काटने के लिए ले जाए जा रहे 3 गोवंश बरामद किए गए हैं। महमूद पर दर्ज 19 मुकदमों में अधिकांश गोतस्करी के हैं। दोनों आरोपितों के पास से 3 देसी कट्टे, 6 जिंदा कारतूस और 3 खाली कारतूस बरामद हुए हैं। अस्पताल में इन दोनों ने भविष्य में कभी गोहत्या न करने का वादा किया है।


Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ऋषिकेश AIIMS में भर्ती अपनी माँ से मिलने पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ, रुद्रप्रयाग हादसे के पीड़ितों को भी नहीं भूले

उत्तराखंड के ऋषिकेश से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यमकेश्वर प्रखंड का पंचूर गाँव में ही योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -