Saturday, April 20, 2024
Homeदेश-समाज'अब और बुखार सहन नहीं कर सकता': जयपुर में कोरोना संक्रमित बुजुर्ग ने ट्रेन...

‘अब और बुखार सहन नहीं कर सकता’: जयपुर में कोरोना संक्रमित बुजुर्ग ने ट्रेन के आगे कूदकर की आत्महत्या

मृतक ने एक सुसाइड नोट छोड़ा है, जिसमें उन्होंने कहा है कि वह COVID -19 वायरस परीक्षण में पॉजिटिव निकलने से निराश थे। 66 वर्षीय बृज और उनकी पत्नी गत 19 अक्टूबर को कोरोना संक्रमित पाए गए थे।

जयपुर में कोरोना वायरस से संक्रमित एक 66 वर्षीय व्यक्ति ने बृहस्पतिवार (अक्टूबर 22, 2020) को शहर के मालवीय नगर इलाके में एक चलती ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली। मृतक की पहचान मालवीय नगर स्थित सेक्टर -10 के निवासी सुरेंद्र कुमार बृज के रूप में हुई, जो कि एक सेवानिवृत्त बैंक अधिकारी थे।

रिपोर्ट्स के अनुसार, मृतक ने एक सुसाइड नोट छोड़ा है, जिसमें उन्होंने कहा है कि वह COVID -19 वायरस परीक्षण में पॉजिटिव निकलने से निराश थे। 66 वर्षीय बृज और उनकी पत्नी गत 19 अक्टूबर को कोरोना संक्रमित पाए गए थे। इस कारण घर पर ही क्वारंटाइन होकर इलाज ले रहे थे। सुरेंद्र का किसी से भी मिलना-जुलना बंद हो गया था जिस कारण वह अवसाद में थे।

घर पर मिले सुसाइड नोट में उन्होंने लिखा है, “मैं अब और कोरोना वायरस का बुखार सहन नही कर पा रहा हूँ। स्वेच्छा से आत्महत्या कर रहा हूँ। इसमें किसी का दोष नही है।”

एसीपी महेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि सुरेंद्र यहाँ अपनी पत्नी के साथ रहते थे। मृतक की पत्नी ने सुबह 2 बजे उठकर अपने पति को घर से गायब पाया। पुलिस ने कहा, “वह बेडरूम में सुसाइड नोट देखने से हैरान थीं। वह तुरंत पड़ोसी के साथ पुलिस स्टेशन पहुँची। हमने मालवीय नगर और जवाहर सर्कल क्षेत्र में और उसके आसपास उनकी तलाश शुरू की। सुबह 6 बजे, उनका कटा हुए शरीर मालवीय नगर से गुजरने वाली रेलवे पटरियों पर पाया गया।”

मृतक सुरेन्द्र का बेटा दिल्ली में नौकरी करता है और वह अपने माता-पिता के संक्रमित होने की खबर सुनकर घर लौट रहे थे। बेटे ने बताया कि क्वारंटाइन रहने और इलाज के बाद उनकी माँ की रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी थी, जबकि उनके पिता को बुखार था। पुलिस से सूचना मिलने पर वह दिल्ली से जयपुर पहुँचे थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘शहजादे को वायनाड में भी दिख रहा संकट, मतदान बाद तलाशेंगे सुरक्षित सीट’: महाराष्ट्र में PM मोदी ने पूछा- CAA न होता तो हमारे...

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि राहुल गाँधी 26 अप्रैल की वोटिंग का इंतजार कर रहे हैं। इसके बाद उनके लिए नई सुरक्षित सीट खोजी जाएगी।

पिता कह रहे ‘लव जिहाद’ फिर भी ख़ारिज कर रही कॉन्ग्रेस सरकार: फयाज की करतूत CM सिद्धारमैया के लिए ‘निजी वजह’, मारी गई लड़की...

पीड़िता के पिता और कॉन्ग्रेस नेता ने भी इसे लव जिहाद बताया है और लोगों से अपने बच्चों को लेकर सावधान रहने की अपील की है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe