Thursday, June 30, 2022
Homeदेश-समाज'शेख नगर बना शिवनगर, अम्फल्ला चौक हुआ हनुमान चौक' : UP की राह पर...

‘शेख नगर बना शिवनगर, अम्फल्ला चौक हुआ हनुमान चौक’ : UP की राह पर चला जम्मू, नाम बदलने के लिए नगर निगम से प्रस्ताव पारित

जम्मू नगर निमग की आम सभा की बैठक के दौरान भाजपा पार्षद शारदा कुमारी ने शेख नगर को शिव नगर करने का प्रस्ताव पारित किया। भाजपा पार्षद शारदा कुमारी ने इस संबंध में कहा था कि जनता की माँगों को ध्यान में रखते हुए यह प्रस्ताव पेश किया गया है।

शहरों के नाम बदलने की कवायद ने अब जम्मू में भी दस्तक दे दी है। खबर है कि जम्मू नगर निगम ने एक शहर और एक चौक का नाम बदलने के लिए प्रस्ताव पारित किया है जिसमें शेख नगर को शिवनगर और अम्फल्ला चौक को हनुमान चौक करने को कहा गया है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, प्रस्ताव पारित की जानकारी मेयर चंदर मोहन ने खुद दी। उन्होंने बताया कि शेख नगर को शिव नगर करने के लिए भाजपा पार्षद द्वारा प्रस्ताव दिया गया था जिसके बाद जम्मू में दो क्षेत्रों के नाम बदलने के लिए एक सर्वसम्मत से प्रस्ताव पारित हुआ।

मीडिया रिपोर्ट्स बताती हैं कि शनिवार को जम्मू नगर निगम की आम सभा की बैठक के दौरान भाजपा पार्षद शारदा कुमारी ने शेख नगर को शिव नगर करने का प्रस्ताव पारित किया। भाजपा पार्षद शारदा कुमारी ने इस संबंध में कहा था कि जनता की माँगों को ध्यान में रखते हुए यह प्रस्ताव पेश किया गया है। मालूम हो कि जम्मू नगर निगम में दो क्षेत्रों का नाम बदले जाने के लिए प्रस्ताव पारित होने के बाद अब जम्मू कश्मीर के नागरिक सचिवालय को प्रस्ताव भेजा जाएगा ताकि प्रक्रिया आगे बढ़ सके।

पिछले साल जम्मू में राजकीय महिला पीजी कॉलेज गाँधी नगर का नाम डोगरी भाषा की पहली आधुनिक कवयित्री पद्मश्री पद्मा सचदेव के नाम पर किया गया था। इस नाम का उद्घाटन चंद्र मोहन गुप्ता ने किया था। पद्मा सचदेव कवयित्री होने के साथ लेखिका के तौर भी जानी जाती हैं। उन्हें 1971 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से नवाजा गया था और पिछले ही साल उनका निधन हुआ था।

बता दें कि जम्मू से पहले पहले उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा जगहों के नाम बदलने की प्रक्रिया को शुरू किया गया था। इसी क्रम में इलाहाबाद प्रयागराज हुआ था और खबरें आई थीं कि अलीगढ़, फर्रुखाबाद, सुल्तानपुर, बदायूँ, फिरोजाबाद और शाहजहाँपुर का नाम बदलने पर भी विचार चल रहा है। इनके अलावा आगरा, मैनपुरी और गाजीपुर का नाम बदलने के लिए प्रस्ताव तैयार हो रहे हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आँखों के सामने बच्चों को खोने के बाद राजनीति से मोहभंग, RSS से लगाव: ऑटो चलाने से महाराष्ट्र के CM बनने तक शिंदे का...

साल में 2000 में दो बच्चों की मौत के बाद एकनाथ शिंदे का राजनीति से मोहभंग हुआ। बाद में आनंद दिघे उन्हें वापस राजनीति में लाए।

उत्तराखंड में चलती कार में महिला और उसकी 5 साल की बच्ची से गैंगरेप, BKU (टिकैत गुट) के सुबोध काकरान और विक्की तोमर सहित...

उत्तराखंड के रुड़की में महिला और उसकी पाँच साल की बच्ची से गैंगरेप के आरोप में टिकैत गुट के नेता समेत पाँच गिरफ्तार कर लिए गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
201,084FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe