Friday, May 24, 2024
Homeदेश-समाजजावेद अख्तर मानहानि मामले में कंगना रनौत के खिलाफ वारंट, मुंबई पुलिस ने किया...

जावेद अख्तर मानहानि मामले में कंगना रनौत के खिलाफ वारंट, मुंबई पुलिस ने किया था तलब

साल 2020 में अंधेरी मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट आरआर खान ने मुंबई पुलिस को गीतकार जावेद अख्तर द्वारा अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ दर्ज आपराधिक मानहानि के मामले में जाँच के निर्देश दिए थे।

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (kangana ranaut) के ख़िलाफ़ आज (मार्च 1, 2021) जमानती वारंट जारी हुआ है। ये वारंट जावेद अख्तर (Javed Akhtar) द्वारा दायर मानहानि मामले में जारी किया गया है। इससे पहले इस मामले में मुंबई पुलिस (Mumbai police) ने अभिनेत्री कंगना रनौत को पूछताछ के लिए तलब किया था। लेकिन वह समन मिलने के बाद भी पुलिस के सामने पेश नहीं हुई। इसी कारण उनके ख़िलाफ़ वारंट जारी हुआ।

जानकारी के मुताबिक, आज कोर्ट में मौजूद कंगना के वकील ने कहा कि वह उच्च न्यायालय में समन को चुनौती देना चाहती हैं। अब इस मामले पर अगली सुनवाई 26 मार्च को होगी।

बता दें कि साल 2020 में अंधेरी मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट आरआर खान ने मुंबई पुलिस को गीतकार जावेद अख्तर द्वारा अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ दर्ज आपराधिक मानहानि के मामले में जाँच के निर्देश दिए थे। जावेद अख्तर ने एक टीवी इंटरव्यू के दौरान अपने खिलाफ टिप्पणी करने पर कंगना रनौत के खिलाफ दायर किया था। उनके ख़िलाफ़ आईपीसी की धारा 409 और 500 के तहत मानहानि का मुकदमा दायर हुआ था।

बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद रिपब्लिक टीवी को दिए एक साक्षात्कार में कंगना रनौत ने बॉलीवुड माफिया पर बात करते हुए गीतकार जावेद अख्तर के ‘नास्तिक’ होने के बारे में खुलासा किया था। 

उन्होंने कहा था कि जावेद अख्तर जैसे लोग, जो ‘नास्तिक’ होने का दिखावा करते हैं, वास्तव में, इंडस्ट्री के भीतर लोगों पर नज़र रखते हैं कि वे इस्लाम के समर्थक हैं या नहीं? कंगना ने कहा कि ये लोग इंडस्ट्री में इस्लाम समर्थकों या उनके हित में रहने वाले लोगों को ‘फ़िल्टर’ करते हैं और उन्हें बढ़ावा देते हैं।

‘रिपब्लिक टीवी’ को दिए एक और इंटरव्यू में कंगना रनौत ने बताया था कि जावेद अख्तर ने उन्हें अपने घर बुला कर कहा था, “तुम्हें आत्महत्या करनी पड़ेगी क्योंकि वह तुम्हें जेल में बंद कर देंगे। उन्होंने (ऋतिक रोशन) तुम्हारे खिलाफ़ सारे सबूत इकट्ठा कर लिए हैं। वह समझ चुके हैं कि केस पूरी तरह उनके हाथों में है। तुम्हें आत्महत्या करनी पड़ेगी क्योंकि तेरा मुँह काला हो जाएगा तो तू जाएगी कहाँ?”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बाबरी का पक्षकार राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में आ गया, लेकिन कॉन्ग्रेस ने बहिष्कार किया’: बोले PM मोदी – इन्होंने भारतीयों पर मढ़ा...

प्रधानमंत्री ने स्पष्ट ऐलान किया कि अब यह देश न आँख झुकाकर बात करेगा और न ही आँख उठाकर बात करेगा, यह देश अब आँख मिलाकर बात करेगा।

कॉन्ग्रेस नेता को ED से राहत, खालिस्तानियों को जमानत… जानिए कौन हैं हिन्दुओं पर हमले के 18 इस्लामी आरोपितों को छोड़ने वाले HC जज...

नवंबर 2023 में जब राजस्थान में विधानसभा चुनाव को लेकर सरगर्मी चरम पर थी, जब जस्टिस फरजंद अली ने कॉन्ग्रेस उम्मीदवार मेवाराम जैन को ED से राहत दी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -