Monday, June 17, 2024
Homeदेश-समाजपत्रकार विक्रम जोशी हत्याकांड: मुख्य आरोपित शाहनूर मंसूरी गिरफ्तार, पुलिस ने बरामद किया .315...

पत्रकार विक्रम जोशी हत्याकांड: मुख्य आरोपित शाहनूर मंसूरी गिरफ्तार, पुलिस ने बरामद किया .315 बोर पिस्टल

कमालुद्दीन पुत्र शाहनूर मंसूरी के पास से पुलिस ने .315 बोर की एक पिस्टल बरामद की है। इसके अलावा एक जिंदा कारतूस और एक कारतूस का खाली खोला भी बरामद हुआ है।

गाजियाबाद के विजय नगर में पत्रकार विक्रम जोशी की हत्या के बाद अब इस मामले में 9 लोग गिरफ्तार कर लिए गए हैं। इनमें 3 मुख्य आरोपित हैं और 6 उनके साथी हैं। एक आरोपित अब भी फरार है। कुल दस लोगों की इस मामले में संलिप्ता पाई गई है। मुख्य आरोपितों की पहचान रवि, आकाश नाथ, शाहनूर मंसूरी उर्फ छोटू के रूप में हुई है।

इन तीनों के अलावा जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उनके नाम शकीर, मोहित, दलवीर, अभिषेक सरोज, अभिषेक जनवाल और जोगेंद्र हैं। इनका एक बाबू नाम का साथी अभी फरार है।

समाचार एजेंसी ANI के अनुसार, पुलिस ने बताया है कि कमालुद्दीन पुत्र शाहनूर मंसूरी के पास से पुलिस ने .315 बोर की एक पिस्टल बरामद की है। इसके अलावा एक जिंदा कारतूस और एक कारतूस का खाली खोला भी बरामद हुआ है।

यहाँ बता दें कि इससे पहले पत्रकार विक्रम जोशी के भांजे ने आरोप लगाया था कि उसकी बहन के जन्मदिन पर उसके मामा उसे लेकर घर जा रहे थे। तभी ‘कमालुद्दीन के बेटे’ ने सिर पर जोर की रॉड मारी। इससे उसकी बहन नीचे गिर गई।

इसके बाद आरोपितों ने पत्रकार विक्रम जोशी को गोली मार दी। भांजे ने ये भी आरोप लगाया कि पत्रकार को गोली मारने से पहले उनकी जम कर पिटाई की गई। भांजी और बेटी के सामने ही उन्हें मार डाला गया। उनकी हत्या हुई है।

मृतक के भांजे ने बताया था कि बहन से छेड़छाड़ मामले में उन्होंने पुलिस में तहरीर भी दी थी, लेकिन पुलिस-प्रशासन कोई कार्रवाई नहीं की। विक्रम जोशी ने गाजियाबाद के यशोदा अस्पताल में दम तोड़ा।

इस घटना का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है, जिसमें दिख रहा है कि पहले तो उनके साथ मारपीट की गई है, उसके बाद गोली मारी गई। इस मामले में सम्बंधित चौकी इंचार्ज को लापरवाही बरतने के आरोप में सस्पेंड कर दिया गया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ऋषिकेश AIIMS में भर्ती अपनी माँ से मिलने पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ, रुद्रप्रयाग हादसे के पीड़ितों को भी नहीं भूले

उत्तराखंड के ऋषिकेश से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यमकेश्वर प्रखंड का पंचूर गाँव में ही योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -