Saturday, October 16, 2021
Homeदेश-समाजलखनऊ-कानुपर ही नहीं... मुंबई को भी कनिका से खतरा: लंदन से आकर पहले वहीं...

लखनऊ-कानुपर ही नहीं… मुंबई को भी कनिका से खतरा: लंदन से आकर पहले वहीं बिताए थे 72 घंटे

लंदन से भारत पहुँची गायिका कनिका कपूर की एक लापरवाही ने सैकड़ों भारतीयों के जीवन को खतरे में डाल दिया है। इसी बीच एक नई जानकारी सामने आई है कि कनिका ने लंदन से लौटने के बाद और लखनऊ जाने से पहले मुंबई में 72 घंटे बिताए थे।

लंदन से भारत पहुँची गायिका कनिका कपूर की एक लापरवाही ने सैकड़ों भारतीयों के जीवन को खतरे में डाल दिया है। इसी बीच एक नई जानकारी सामने आई है कि कनिका ने लंदन से लौटने के बाद और लखनऊ जाने से पहले मुंबई में 72 घंटे बिताए थे। वहीं कनिका के कोरोना पॉजीटिव पाए जाने के बाद से स्वास्थ्य विभाग उन लोगों की तलाश में जुट गया है, जो कनिका से किसी न किसी रूप में मिले या उसके नजदीक आए।

वहीं बेबी डॉल गायिका कनिका कपूर ने शुक्रवार को अपने सोशल मीडिया एकाउंट पर खुद के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने की जानकारी दी और बताया कि पिछले 4 दिनों से उन्हें इस बात के लक्षण अपने अंदर दिखाई दे रहे थे। जब मैंने इसका परीक्षण कराया तो दुर्भाग्य से यह पॉजिटिव पाया गया। इसके बाद से मैं और मेरा परिवार पूरी तरह से आईसोलेशन में है और डॉक्टरी सलाह से ही आगे कदम बढ़ाया जा रहा है। नई जानकारी के मुताबिक 9 मार्च को कनिका कपूर लंदन से भारत लौटी थी, इसके बाद उन्होंने 72 घंटे मुंबई में बिताए और फिर 11 मार्च को लखनऊ के लिए रवाना हो गई।

कनिका कपूर द्वारा सोशल मीडिया पर की गई पोस्ट का स्क्रीनशॉट

हालाँकि कनिका ने दावा किया कि उनका 10 दिन पहले सामान्य प्रक्रिया के तहत हवाई अड्डे पर स्कैन किया गया था। इसके बाद जब वो घर वापस आईं, तो कुछ लक्षण उन्हें अपने अंदर दिखाई दिए। वहीं कनिका पर आरोप यह भी है कि वह हवाई अड्डे के कुछ कर्मचारियों की मदद से स्क्रीनिंग के बिना ही लखनऊ हवाई अड्डे से बाहर निकल गई थीं।

कनिका के पिता राजीव कपूर का कहना है कि कनिका 10 मार्च को लंदन से मुंबई पहुँची और फिर अगले दिन उसने लखनऊ के लिए उड़ान भरी। जब वह लखनऊ आई थी, तब वह सामान्य थी और उसे किसी बीमारी के कोई संकेत नहीं थे। यही कारण था कि वह तीन-चार सामाजिक कार्यक्रमों में शामिल हुईं। पिता ने बताया कि वह एक दिन के लिए अपने नाना-नानी के यहाँ कानपुर भी गए थे, लेकिन दो दिन पहले ही कनिका को हल्का बुखार और खाँसी की शिकायत हुई, जिसके बाद उन्होंने डॉक्टरी सलाह ली और अपने परिवार के सभी सदस्यों का परीक्षण कराने के लिए नमूने भेज दिए। रिपोर्ट में कनिका का कोरोना पॉजिटिव पाया गया।

अब सवाल और चिंता का विषय यह है कि करीब एक सप्ताह तक कनिका लखनऊ में कई कार्यक्रमों शामिल हुई। यही करण है कि कनिका के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद से उन सभी लोगों की तलाश की जा रही है, जो लोग कनिका से किसी भी तरह से नजदीक आए या फिर मिले। क्योंकि लखनऊ के एक बिल्डर द्वारा पिछले शनिवार को एक राजनेता के घर पर एक बड़ी पार्टी आयोजित की गई थी, जिसमें बड़ी-बड़ी हस्तियों ने हिस्सा लिया था। यहाँ तक कि कई सासंदों ने भी कार्यक्रम में हिस्सा लिया था, जो बाद में संसद पहुँचे और राष्ट्रपति से भी मुलाकात की। इसकी जानकारी मिलते ही राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपने सभी कार्यक्रम स्थगित कर दिए। साथ ही कनिका की लापरवाही के चलते लखनऊ के डीएम ने कनिका पर एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुस्लिम भीड़ ने पार्थ दास के शरीर से नोचे अंग, हिंदू परिवार में माँ-बेटी-भतीजी सब से रेप: नमाज के बाद बांग्लादेश में इस्लामी आतंक

इस्‍कॉन से जुड़े राधारमण दास ने ट्वीट कर बताया कि पार्थ को बुरी तरह से पीटा गया था कि जब उनका शव मिला तो शरीर के अंदर के हिस्से गायब थे। 

खुले में सड़क पर नमाज पढ़ने से परेशान हिंदू, गुरुग्राम में लगातार चौथे सप्ताह भजन-कीर्तन कर किया विरोध प्रदर्शन

गुरुग्राम के लोगों का कहना है कि यह सब प्रशासन की रजामंदी से हो रहा है। वहीं, एसीपी अमन यादव का कहना है कि नमाज के लिए वैकल्पिक जगह तलाशने समेत समाधान के प्रयास जारी हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
128,877FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe