Friday, June 21, 2024
Homeदेश-समाज10वीं क्लास की लड़की अवॉर्ड लेने स्टेज पर कैसे आई? मुस्लिम नेता ने धमकाते...

10वीं क्लास की लड़की अवॉर्ड लेने स्टेज पर कैसे आई? मुस्लिम नेता ने धमकाते हुए पूछा सवाल, आयोजक के माफी माँगने का वीडियो वायरल

"यहाँ मंच पर 10वीं की छात्रा को किसने बुलाया? हमारी मौजूदगी में ऐसी चीजें न करें। अगर आपने ऐसा दोबारा किया, तो आपके लिए ठीक नहीं होगा। इस तरह से लड़कियों को यहाँ न बुलाएँ। माता-पिता को यहाँ बुलाएँ।"

केरल में छात्रों के सम्मान समारोह के दौरान एक स्कूली छात्रा को मंच पर बुलाया गया। यह आम खबर है। खास खबर इसमें यह है कि जब ऐसा किया गया तो एक मुस्लिम नेता ने आयोजकों को इसके लिए जमकर फटकारा। धमकाया भी कि आगे से ऐसा करोगे तो देख लूँगा।

सम्मान समारोह के दौरान 10वीं कक्षा की छात्रा को पुरस्कार देने के लिए मंच पर बुलाया गया। यह बात केरल सुन्नी स्कॉलर के एक संघ, समस्त केरल जेम-इय्यातुल उलमा (एसकेजेयू) के सदस्यों को नागवार गुजरी। इसको लेकर उन्होंने बिना कुछ सोचे समझे वहीं पर कार्यक्रम के आयोजकों को फटकार लगा दी। इस मामले का वीडियो भी वायरल हो गया है।

​रिपोर्ट्स के मुताबिक, समस्त जेम-इयातुल उलेमा के वरिष्ठ नेता एमटी अब्दुल्ला मुसलियार (M T Abdulla Musaliyar) छात्रा को मंच पर आमंत्रित करने को लेकर आयोजकों पर गुस्सा हो गए। इसको लेकर उन्होंने ना केवल आयोजकों को अपमानित किया, बल्कि उन्हें खुले तौर पर धमकी भी दी है।

यह घटना एक ‘मदरसा’ बिल्डिंग के उद्घाटन के दौरान हुई, जहाँ हाल ही में छात्रों को सम्मानित किया गया था। छात्रा को इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (IUML) के नेता पनक्कड़ सैयद अब्बास अली शिहाब थंगल ने स्मृति चिन्ह सौंपा। पुरस्कार सौंपे जाने के तुरंत बाद, मुसलियार ने आयोजकों से सवाल किया कि लड़की को मंच पर क्यों बुलाया गया। इस दौरान अब्बास अली शिहाब थंगल भी वहीं पर मौजूद थे।

बताया जा रहा है कि वीडियो में मुस्लिम नेता आयोजकों से नियमों को लेकर सवाल कर रहे हैं। मुसलियार ने कहा, “यहाँ मंच पर 10वीं की छात्रा को किसने बुलाया? हमारी मौजूदगी में ऐसी चीजें न करें। यह सब तस्वीरों में दिखाया जाएगा और प्रसारित किया जाएगा? गुस्से में मुसलियार आयोजकों को धमकी देते हुए कहते हैं कि अगर आपने ऐसा दोबारा किया, तो आपके लिए ठीक नहीं होगा। इस तरह से लड़कियों को यहाँ न बुलाएँ। क्या आप नियम नहीं जानते? माता-पिता को यहाँ बुलाएँ।”

उन्होंने आगे कहा, “क्या तुम थे, जिसने उसे बुलाया? जब हम यहाँ बैठे हैं, तो ऐसे काम मत करो।” मलप्पुरम में आयोजित कार्यक्रम में मुस्लिम संस्था समस्त छात्रों का सम्मान कर रही थी। हालाँकि मुस्लिम नेताओं द्वारा फटकारे जाने पर छात्रा के नाम की घोषणा करने वाला और उसे मंच पर बुलाने वाला शख्स मुसलियार से माफी माँगता नजर आया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अभी तिहाड़ जेल से बाहर नहीं आ पाएँगे दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल, हाई कोर्ट ने बेल पर लगाई रोक: ED ने बताया- अब...

दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट से बेल मिलने के बाद भी अभी सीएम केजरीवाल जेल से रिहा नहीं होंगे। ईडी के विरोध पर दिल्ली हाई कोर्ट ने बेल पर रोक लगा दी है।

साल भर में 70% कम हुआ स्विस बैंकों में रखा धन, 2019 से भारत के साथ जानकारी साझा कर रहा है स्विट्जरलैंड: जानिए क्यों...

भारत में ग्राहक जमा खातों और अन्य बैंक शाखाओं के माध्यम से रखी गई धनराशि में भी काफी गिरावट आई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -