Wednesday, July 24, 2024
Homeदेश-समाजशादी जहीर इकबाल और सोनाक्षी सिन्हा की, बवाल UP के कुशीनगर में: आजाद आलम...

शादी जहीर इकबाल और सोनाक्षी सिन्हा की, बवाल UP के कुशीनगर में: आजाद आलम की पोस्ट से बिगड़ा माहौल, FIR के बाद पुलिस ने पकड़ा

डॉक्टर आज़ाद आलम ने सोनाक्षी सिन्हा और जहीर इकबाल के निकाह को लेकर अपने फेसबुक पर एक पोस्ट डाली। इसमें उसने लिखा था, "सोनाक्षी सिन्हा जी आपको शादी मुबारक, और अंधभक्तों को उसका जीजा मुबारक।"

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में सोनाक्षी सिन्हा की शादी पर डाली गई एक पोस्ट को लेकर साम्प्रदायिक तनाव फ़ैल गया। अपनी पोस्ट में आज़ाद आलम नाम के युवक ने सोनाक्षी के शौहर को अंधभक्तों का जीजा बताया था। आज़ाद आलम की पोस्ट वायरल होने के बाद सोमवार (24 जून 2024) को हिन्दू समाज के लोग सड़क पर उतर कर प्रदर्शन करने लगे। पुलिस ने हालात को शांत करवाया और मामले में FIR दर्ज कर ली। आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है।

यह मामला कुशीनगर के विशुनपुरा का है। यहाँ के गाँव ठाढ़ीभार निवासी रविवार (23 जून) को आज़ाद आलम ने अपने फेसबुक पर एक पोस्ट डाली। पोस्ट में उसने जहीर इक़बाल और सोनाक्षी सिन्हा की एकसाथ खींची गईं 3 तस्वीरों को अटैच किया था। कैप्शन के तौर पर उसने लिखा, “सोनाक्षी सिन्हा जी आपको शादी मुबारक, और अंधभक्तों को उसका जीजा मुबारक।” इसी पोस्ट के साथ आलम ने सोनाक्षी सिन्हा और जहीर इक़बाल का इंग्लिश में हैशटैग भी लगाया।

अगले दिन सोमवार को यह पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। हिन्दू पक्ष के लोग सड़क पर उतर कर प्रदर्शन करने लगे। उन्होंने आज़ाद आलम पर कड़ी कार्रवाई की माँग शुरू कर दी। मामले की सूचना मिलते ही पुलिस फ़ौरन मौके पर पहुँची। लोग कार्रवाई की माँग को लेकर अड़े हुए थे। पुलिस ने नाराज लोगों को समझा कर शांत करवाया। लगभग 2 घंटे तक माहौल अस्त-व्यस्त रहा। पुलिस ने आज़ाद आलम के खिलाफ FIR दर्ज कर के उसे गिरफ्तार कर लिया है।

मोहम्मद अतिउल्लाह का बेटा आज़ाद आलम गाँव में BDC का चुनाव लड़ चुका है। अपने चुनाव प्रचार में उसका नारा था, “उनका जो फर्ज है वो अहल ए सियासत जानें, मेरा पैगाम मोहब्बत है जहाँ तक पहुँचे।” आज़ाद आलम खुद को शेख और डॉक्टर भी बताता है। वह जिस ठाढ़ीभार के जिस इलाके में रहता है उसे शेखपट्टी बुलाया जाता है। आरोपित के खिलाफ आईटी एक्ट सहित अन्य धाराओं में कार्रवाई हुई है। पुलिस मामले की जाँच कर रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -