Sunday, July 14, 2024
Homeदेश-समाजमुकेश अंबानी की फैमिली को जान से मारने की धमकी, दो बार आया फोन:...

मुकेश अंबानी की फैमिली को जान से मारने की धमकी, दो बार आया फोन: रिलायंस अस्पताल को बम से उड़ाने की भी बात कही

इससे पहले 15 अगस्त को भी एक व्यक्ति ने फोन पर मुकेश और नीता अंबानी को जान से मारने की धमकी दी थी। तब धमकी भरे 8 फोन रिलायंस अस्पताल में किए गए थे।

रिलायंस ग्रुप के मुखिया मुकेश अंबानी और उनके पारिवारिक सदस्यों को जान से मारने की धमकी दी गई है। धमकी देने वाले ने मुंबई स्थित HN रिलायंस फॉउन्डेशन अस्पताल को भी बम से उड़ाने की बात कही है। बुधवार (5 अक्टूबर 2022) को रिलांयस हॉस्पिटल में 5 घंटे के अंतराल में 2 बार फोन के जरिए धमकी दी गई। पुलिस मामले की जाँच कर रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक HN रिलायंस फॉउंडेशन अस्पताल के लैंडलाइन पर पहली कॉल दोपहर 12 बज कर 57 मिनट पर आई। लगभग 5 घंटे बाद शाम 5 बज कर 4 मिनट पर दुबारा फोन आया। कॉलर ने रिलायंस अस्पताल उड़ाने की बात कही। साथ ही मुकेश अंबानी, उनकी पत्नी नीता और बेटों आकाश तथा अनंत को भी मार की धमकी दी।

इन फोन कॉल को लेकर डीबी मार्ग थाने में शिकायत की गई। इसके बाद मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। पुलिस के मुताबिक धमकी एक मोबाइल नंबर से दी थी, जिसे एक विशेष टीम बना कर ट्रेस करने की कोशिश कर रही है। मुकेश अंबानी को 29 सितम्बर 2022 को सरकार ने Z+ सुरक्षा दी थी।

गौरतलब है कि अंबानी परिवार को इस प्रकार की धमकी पहली बार नहीं मिली है। इससे पहले 15 अगस्त को भी एक व्यक्ति ने फोन पर मुकेश और नीता अंबानी को जान से मारने की धमकी दी थी। तब धमकी भरे 8 फोन रिलायंस अस्पताल में किए गए थे। उस समय आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया था।

इसके अलावा फ़रवरी 2021 में अंबानी के घर एंटीलिया के पास एक कार में विस्फोटक मिला था। इस केस में मुंबई पुलिस के इंस्पेक्टर सचिन वाजे का नाम आया था। मामले की जाँच NIA कर रही है। सितम्बर 2021 में एक टैक्सी ड्राइवर ने पुलिस को सूचना दी थी कि उर्दू में बात करने वाले 2 संदिग्धों ने मुकेश अंबानी के घर का पता पूछा था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NITI आयोग की रिपोर्ट में टॉप पर उत्तराखंड, यूपी ने भी लगाई बड़ी छलाँग: 9 साल में 24 करोड़ भारतीय गरीबी से बाहर निकले

NITI आयोग ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स 2023-24 जारी की है। देश में विकास का स्तर बताने वाली इस रिपोर्ट में उत्तराखंड टॉप पर है।

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -