Monday, April 15, 2024
Homeदेश-समाजअताबुद्दीन अंसारी ने नाम बदलकर हिन्दू युवती को प्रेमजाल में फँसाकर किया गर्भवती, निकला...

अताबुद्दीन अंसारी ने नाम बदलकर हिन्दू युवती को प्रेमजाल में फँसाकर किया गर्भवती, निकला पहले से शादीशुदा और 1 बच्चे का बाप

पीड़िता का आरोप है कि पश्चिम बंगाल के पुरुलिया जिला अंतर्गत पाड़ा थाना क्षेत्र के रिगुडीह गाँव का रहने वाले अताबुद्दीन अंसारी ने आकाश महतो बनकर 6 महीने से हिंदु युवती को प्रेमजाल में फँसा कर उसका यौन शोषण करता रहा।

देश में ग्रूमिंग जिहाद (लव जिहाद) के मामले कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं। ताजा मामला झारखंड का बेहद ही चौकाने वाला सामने आया है। अताबुद्दीन अंसारी नाम के शख्श ने आकाश महतो बनकर 20 वर्षीय पीड़िता को अपने प्रेमजाल में फँसाया और उसका शारीरिक शोषण भी किया। जिससे वह गर्भवती हो गई। आरोपित की पहचान सामने आते ही गाँव वालों ने उसे पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया। बता दें अंसारी पहले से शादीशुदा था और एक बच्चे का बाप भी है।

प्रभात खबर के अनुसार, मामला बोकारो जिले के चंदनकियारी थाना क्षेत्र का है। पीड़िता का आरोप है कि पश्चिम बंगाल के पुरुलिया जिला अंतर्गत पाड़ा थाना क्षेत्र के रिगुडीह गाँव का रहने वाले अताबुद्दीन अंसारी ने आकाश महतो बनकर 6 महीने से हिंदु युवती को प्रेमजाल में फँसा कर उसका यौन शोषण करता रहा। वहीं आरोपित की पहचान तब सामने आई जब वह युवती के गाँव उससे शादी करने के लिए पहुँचा था।

पुलिस ने शुक्रवार (4 दिसंबर, 2020) को मामले को संज्ञान में लिया और आरोपित अताबुद्दीन अंसारी को गिरफ्तार करते हुए उसके खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज किया है। साथ ही पीड़िता को मेडिकल जाँच के लिए अस्पताल में भर्ती करवा मामले में आगे की कार्रवाई में जुट गई है।

दर्ज एफआईआर के अनुसार, आमडीहा गाँव की रहनेवाली पीड़िता का 2017 में विवाह हुआ था, लेकिन आपसी मतभेद होने के चलते उसके पति ने उसे छोड़ दिया, जिस कारण वह वापस अपने मायके रहने लगी। इसी दौरान छह महीने पहले वह पश्चिम बंगाल अपने रिश्तेदार के गाँव में मेला देखने गई थी। मेले में उसकी मुलाकात अताबुद्दीन अंसारी से हुई। अंसारी ने उस वक्त अपनी पहचान छुपाते हुए अपना नाम आकाश महतो बताया था। जिसके बाद से ही दोनों फ़ोन पर बात करने लगे। आरोपित मुस्लिम युवक ने युवती को शादी का लालच देकर कई बार उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए। जिसके चलते वह गर्भवती हो गई।

गर्भवती होने के बाद पीड़िता ने उस पर शादी का दवाब बनाया। इसी सिलसिले में जब वह पीड़िता के गाँव उसके परिजनों से उसका हाथ माँगने पहुँचा तो परिवार वालों ने उससे पहचान पत्र और अपने से जुड़ी सारी जानकारी देने को कहा तो आकाश बना अताबुद्दीन आनाकानी करने लगा। अंसारी के रवैए को देखते ही परिजनों को उस पर संदेह हुआ।

गाँव वालों के साथ मिलकर जब पीड़िता के परिजनों ने जबरन उसकी छानबीन की तो तलाशी में युवक की जेब से आधार कार्ड बरामद हुआ। जिस पर युवक का नाम 27 वर्षीय अताबुद्दीन अंसारी, पिता हामित अंसारी होने का खुलासा हुआ। पोल खुलते ही युवक को ग्रामीणों ने बंधक बना लिया और पुलिस को इसकी जानकारी दे दी। लेकिन मौका पाते ही आरोपित फरार हो गया। जिसकी जानकारी उन्होंने पुलिस को दे दी।

पुलिस ने मौके पर पहुँच कर इलाके की छानबीन शुरू कर दी। वहीं गाँववालों ने भी इस काम में पुलिस को पूरा सहयोग दिया। जिसके बाद पुलिस ने आरोपित को पास के मंढरा गाँव से धर दबोचा और उसे थाने ले आई। शुक्रवार को पुलिस ने आरोपित का मेडिकल जाँच कराया और उसे जेल भेज दिया। इन्वेस्टीगेशन के दौरान पुलिस को यह भी पता चला कि अताबुद्दीन अंसारी की पहले ही एक शादी हो चुकी है और वह एक बच्चे का बाप भी है। ग्रूमिंग जिहाद की इस घटना के खुलासे के बाद ग्रामीणों में काफी आक्रोश है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘इलेक्टोरल बॉन्ड्स सफलता की कहानी, पता चलता है पैसे का हिसाब’: PM मोदी ने ANI को इंटरव्यू में कहा – हार का बहाना ढूँढने...

'एक राष्ट्र एक चुनाव' के प्रतिबद्धता जताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि उन्होंने संसद में भी बोला है, हमने कमिटी भी बनाई हुई है, उसकी रिपोर्ट भी आई है।

‘कॉन्ग्रेस देती है सनातन के खिलाफ ज़हर उगलने वालों का साथ, DMK का जन्म ही इसीलिए’: ANI से इंटरव्यू में बोले PM मोदी –...

पीएम मोदी ने कहा कि 2019 में भी वो काम करके चुनाव मैदान में गए थे और जब वो वापस आए तो अनुच्छेद 370, ट्रिपल तलाक से बहनों को मुक्ति, बैंकों का मर्जर - ये सब काम उन्होंने 100 दिन के अंदर कर दिए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe