Thursday, June 30, 2022
Homeदेश-समाजहाथ बाँध कर सेक्स, चाकू से वार: शाहबाज ने 'राहुल गुर्जर' बन हिन्दू लड़की...

हाथ बाँध कर सेक्स, चाकू से वार: शाहबाज ने ‘राहुल गुर्जर’ बन हिन्दू लड़की को फाँसा, अब कह रहा – इस्लाम क़बूलो, जन्नत मिलेगी

नंदिनी ने बताया कि शाहबाज कन्नौद ले जाने के बाद शुरू में तो ठीक था, लेकिन बाद उसने अपना असली रंग दिखाया। वो उसे घर में बंद कर देता, उसका फोन ले लेता। बाद में वो नंदिनी के साथ मारपीट करने लगा।

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के हरदा जिले से लव जिहाद (Love Jihad) का चौंकाने वाला मामला प्रकाश में आया है, जहाँ शाहबाज शरीफ नाम के मुस्लिम युवक ने एक हिन्दू लड़की को राहुल गुर्जर बनकर अपने जाल में फँसा लिया। बाद में आरोपित ने पीड़िताके साथ रेप (Rape) किया और उस पर धर्मान्तरण (Religious Conversion) इस्लाम कबूलने का दबाव बनाया। आरोपित ने पीड़िता को कहा कि अगर वो इस्लाम कबूल करती है तो उसे जन्नत मिलेगी।

रिपोर्ट के मुताबिक, पीड़िता दुर्गेश नंदिनी चौहान (24) हरदा जिले के टिमरनी थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले विद्या विहार कॉलोनी की रहने वाली है। अनुसूचित समुदाय से आने वाली नंदिनी बीएससी की स्टूडेंट है। पीड़िता का कहना है कि शाहबाज सेठ (राहुल गुर्जर) कट्टरपंथी इस्लामवादी है। उसने कहा था कि जल्द हमलावर जल्द ही भारत पर कब्जा कर लेंगे। पीड़िता की शिकायत पर आरोपित खिलाफ रेप और मध्य प्रदेश धार्मिक स्वतंत्रता अधिनियम समेत कई अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है।

इस मामले में पीड़िता की शिकायत पर पहली एफआईआर (नंबर 00/2022) 27 मई 2022 को हरदा जिले के टिमरनी पुलिस स्टेशन में दर्ज की गई थी। बाद में अगले दिन मामले को सिराली थाने में ट्रांसफर कर दिया गया और वहाँ एक नई एफआईआर (नंबर 164/2022) दर्ज की गई थी।

नंदिनी ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि करीब डेढ़ साल पहले हरदा डिग्री कॉलेज में उसकी मुलाकात आरोपित से हुई थी। शुरुआत में वो नंदिनी को पटाने के चक्कर में उसकी पढ़ाई से लेकर तमाम चीजों में बहुत ही ख्याल रखा। इस कारण दोनों करीब आ गए। वक्त के साथ प्यार हुआ और शारीरिक संबंध भी बन गए। एक दिन सरसौद स्थित पत्थर की एक छोटी से खदान के ऑफिस में जब वो थी, तो उसी दौरान उसे पहली बार उस पर शक हुआ। बाद में राहुल ने खुलासा किया कि उसका असली नाम शाहबाज सेठ है और उसने नंदिनी को फँसाने के लिए ये सब किया था।

नौकरी का झाँसा देकर वो 14 नवंबर 2021 को नंदिनी को मल्हारगंज के कन्नौद ले गया। वहीं पर दोनों साथ रहने लगे। इस दौरान उसने नंदिनी पर कड़ी नजर रखी। हर चीज मसलन फोन पर बात करते वक्त भी स्पीकर चालू करने को कहता। उसने नंदिनी के अंतरंग पलों को अपने फोन में रिकॉर्ड किया और जब वो उससे सेक्स के लिए इनकार करती तो उसे वायरल करने की धमकी देता था। एक दिन एक कार्यक्रम में शामिल होने के बहाने से उसने उससे अपने माता-पिता से मिलने देने के लिए राजी किया। बाद में घर पहुँचकर जब अपनी व्यथा परिजनों को बताई तो उन्होंने केस दर्ज कराया।

‘मेरे जीवन के एक-एक इंच को कंट्रोल किया’

स्वराज्य से बात करते हुए नंदिनी ने बताया कि शाहबाज कन्नौद ले जाने के बाद शुरू में तो ठीक था, लेकिन बाद उसने अपना असली रंग दिखाया। वो उसे घर में बंद कर देता, उसका फोन ले लेता। बाद में वो नंदिनी के साथ मारपीट करने लगा। नर्सिंग में डिप्लोमा कर चुकी नंदिनी कहती हैं, “उसने मेरी लाइफ के हर इंच को नियंत्रित किया। उसकी इजाजत के बिना मैं अपने माता-पिता की कॉल का जवाब भी नहीं दे सकती थी।”

पीड़िता ने आरोपित के वहशीपने को उजागर करते हुए बताया कि वह सेक्स करते समय उसके हाथों को बाँध देता था और उसके शरीर के विभिन्न हिस्सों में चाकू जैसे धारदार चीजों से कट मार देता था। नंदिनी ने कहा, “वो ऐसे पेश आता था, जैसे वो मालिक हो और मुझे उसकी हर बात माननी चाहिए।”

नंदिनी के मुताबिक, आरोपित ने कहा था कि अगर वो इस्लाम कबूलती है तो उसे (शाहबाज) जन्नत मिलेगी। शाहबाज ने ये भी कहा था कि वो निकाह करेगा। एक जो उसके धर्म से होगी और दूसरी नंदिनी। इसके अलावा उसने नंदिनी को धमकाया की सेना में आधे से अधिक मुस्लिम हैं और वो अपना काम करना बंद कर दें तो आक्रमणकारी भारत पर कब्जा कर लेंगे। मुस्लिमों से निकाह करने वाली बॉलीवुड अभिनेत्रियों का उदारण देकर वो कहता था कि केवल इस्लाम ही एक आदर्श धर्म है। उसने ये भी कहा था कि निकाह के बाद उसे ‘हिजाब’ पहनना होगा।

पीड़िता का आरोप है कि शाहबाज के परिजन अब मामले को सुलझाने का दबाव बना रहे हैं। उन्होंने उसके भाई का अपहरण करने की भी धमकी दी है। बहरहाल, मामले में धारा 376 (बलात्कार), 376 (2) (एन) (बलात्कार करने वाले को कठोर कारावास), 506 (आपराधिक धमकी) और रोकथाम की धारा 3 (2) (VA), मध्य प्रदेश धर्म की स्वतंत्रता अधिनियम, 2021 की धारा 3 और 5 के साथ अत्याचार अधिनियम, 2015 के तहत केस दर्ज किया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एकनाथ शिंदे मुख्यमंत्री बनेंगे, नहीं थी किसी को कल्पना’: राजनीति के धुरंधर एनसीपी चीफ शरद पवार भी खा गए गच्चा, कहा- उम्मीद थी वो...

शरद पवार ने कहा कि किसी को भी इस बात की कल्पना नहीं थी कि एकनाथ शिंदे को महाराष्ट्र का सीएम बना दिया जाएगा।

आँखों के सामने बच्चों को खोने के बाद राजनीति से मोहभंग, RSS से लगाव: ऑटो चलाने से महाराष्ट्र के CM बनने तक शिंदे का...

साल में 2000 में दो बच्चों की मौत के बाद एकनाथ शिंदे का राजनीति से मोहभंग हुआ। बाद में आनंद दिघे उन्हें वापस राजनीति में लाए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
201,188FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe