Saturday, June 22, 2024
Homeदेश-समाजMP: मुख्तयार खान ने 14 साल के लड़के से चटवाई टॉयलेट सीट, मोबाइल में...

MP: मुख्तयार खान ने 14 साल के लड़के से चटवाई टॉयलेट सीट, मोबाइल में रिकॉर्ड किया था Video

मुख्तयार के बेटे पर जानलेवा हमला हुआ था। इसी संबंध में वो पीड़ित नाबालिग से झूठी गवाही दिलवाकर अमीर घरों के 2 बच्चों पर भी आरोप लगवाना चाहता था ताकि बाद में वो समझौते के नाम पर इन अमीरों से पैसे ऐंठ सके।

मध्य प्रदेश के भोपाल में जमीन हड़पने के मामले में पुलिस को आरोपित के मोबाइल से चौंकाने वाली वीडियो मिला। इसमें पुलिस ने पाया कि आरोपित पुलिस के सामने झूठी गवाही देने के लिए न केवल एक नाबालिग लड़के पर दबाव बना रहा है, बल्कि उसे जबरन टॉयलेट सीट चाटने पर मजबूर भी कर कर रहा है। आरोपित की पहचान 35 वर्षीय मुख्तयार खान के रूप में हुई है।

पुलिस ने गुरुवार (अगस्त 8, 2019) को इस वीडियो को देखने के बाद मुख्तयार पर मामला दर्ज कर लिया है। मीडिया खबरों की मानें तो एसएसपी रुचिवर्धन मिश्रा ने बताया कि उन्होंने स्थानीय कोर्ट के आदेश पर खान को जमीन खरीदने के लिए झूठे कागजात इस्तेमाल करने के मामले में गिरफ्तार किया था। लेकिन, जब जाँच के दौरान उसके मोबाइल को जाँचा गया, तो उसमें उन्होंने देखा कि मुख्तयार एक 14 साल के बच्चे पर अत्याचार कर रहा है। साथ ही उससे उसकी जीभ से टॉयलेट सीट साफ़ करवा रहा है।

एसएसपी के बयान के मुताबिक, खान और उसके साथी बच्चे को पुलिस के आगे झूठी गवाही देने के लिए मजबूर  कर रहे थे। वे चाहते थे कि 2 महीने पहले खान के बेटे पर हुए जानलेवा हमले के संबंध में नाबालिग पुलिस के सामने दो अमीर घरों के बच्चों पर भी आरोप लगाए। ताकि बाद में खान उन बच्चों के घरवालों से समझौते के नाम पर पैसे निकलवा सके।

एसएसपी मिश्रा का कहना है कि पुलिस ने खान के बेटे पर हुए हमले के मामले में पहले ही चार लोगों पर आईपीसी धारा 307 (हत्या की कोशिश) के तहत एफआईआर दर्ज कर लिया है। लेकिन अब इस हरकत के मालूम पड़ने के बाद पुलिस ने खान पर पॉक्सो एक्ट और आईपीसी IT एक्ट के तहत मामला दर्ज किया। मामले में आगे की जाँच जारी है। मुख्यतार पुलिस की हिरासत में है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नालंदा विश्वविद्यालय को ब्राह्मणों ने ही जलाया था, 11वीं सदी का शिलालेख है साक्ष्य!!

नालंदा विश्वविद्यालय को ब्राह्मणों ने ही जलाया था, बख्तियार खिलजी ने नहीं। ब्राह्मण+बुर्के वाली के संभोग को खोद निकाला है इस इतिहासकार ने।

10 साल जेल, ₹1 करोड़ जुर्माना, संपत्ति भी जब्त… पेपर लीक के खिलाफ आ गया मोदी सरकार का सख्त कानून, NEET-NET परीक्षाओं में गड़बड़ी...

परीक्षा आयोजित करने में जो खर्च आता है, उसकी वसूली भी पेपर लीक गिरोह से ही की जाएगी। केंद्र सरकार किसी केंद्रीय जाँच एजेंसी को भी ऐसी स्थिति में जाँच सौंप सकती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -