Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाज'मुझे छोड़ो, मुझे छोड़ो' चिल्लाती रही मुस्लिम लड़की, हिजाब खींचते रहे इस्लामी कट्टरपंथी: हिंदुओं...

‘मुझे छोड़ो, मुझे छोड़ो’ चिल्लाती रही मुस्लिम लड़की, हिजाब खींचते रहे इस्लामी कट्टरपंथी: हिंदुओं के साथ घूमने पर किया परेशान, महाराष्ट्र में 3 गिरफ्तार

कट्टरपंथी लड़की का हाथ पकड़ते हैं। उसका बैग छीनने कोशिश करते हैं और हिजाब खींचते हैं। लड़की सड़क पर ज़ोर-ज़ोर से चिल्लाती है और बार-बार 'मुझे छोड़ो, मुझे छोड़ो' कहती है। लेकिन वे उसे छोड़ने की बजाए उसका फोन छीनने लगते हैं। वे उससे पूछते हैं, "वो लड़का कौन है। तुम किसी और धर्म के लड़के के साथ क्यों हो?"

महाराष्ट्र (Maharashtra) के छत्रपति संभाजी नगर (पहले औरंगाबाद) में हिजाब पहने लड़की को बीच सड़क पर परेशान करने के आरोप में पुलिस ने तीन कट्टरपंथी लोगों को पकड़ा है। इन कट्टरपंथियों ने काफी दूर तक मुस्लिम लड़की का पीछा किया, फिर उसका मोबाइल छीनने की कोशिश भी की और उसे गालियाँ भी दीं। उन्होंने उसके साथ ऐसा इसलिए किया, क्योंकि वह एक हिंदू लड़के के साथ बीबी का मकबरा देखने के लिए गई थी। यह घटना सोमवार (24 अप्रैल 2023) को बेगमपुरा इलाके की है। सोशल मीडिया पर इसका वीडियो खूब वायरल हो रहा। पुलिस ने केस दर्ज मामले की जाँच शुरू कर दी है।

वायरल वीडियो में ये कट्टरपंथी कॉलेज की छात्रा को रोकने की कोशिश करते हैं। वे उसका हाथ पकड़ते हैं। उसका बैग छीनने कोशिश करते हैं और हिजाब खींचते हैं। लड़की सड़क पर ज़ोर-ज़ोर से चिल्लाती है और बार-बार ‘मुझे छोड़ो, मुझे छोड़ो’ कहती है। लेकिन वे उसे छोड़ने की बजाए उसका फोन छीनने लगते हैं। वे उससे पूछते हैं, “वो लड़का कौन है। तुम किसी और धर्म के लड़के के साथ क्यों हो?”

इसके बाद वे उसे परेशान करने लगते हैं। उनमें से एक ने लड़की का हाथ पकड़ लेता है, तब वह उनसे बचने के लिए भागने लगती है। वह चिल्लाते हुए उनसे अपना हाथ छोड़ने को कहती है। इस दौरान सड़क पर आस-पास बहुत सारे लोग मौजूद होते हैं, लेकिन कोई भी लड़की की मदद के लिए आगे नहीं आता।

इसी घटना के दौरान आसपास के कुछ लोगों ने लड़की के साथ हुई बदसलूकी का वीडियो बना लिया और सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। सूचना पाकर बेगमपुरा पुलिस मौके पर पहुँची और इस मामले में तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया। पुलिस उपायुक्त दीपक गिर्हे ने बताया, तीनों पर महिला का अपमान करने, उसका पीछा करने, चोरी का प्रयास करने, उसे चोट पहुँचाने और धमकी देने की धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज से महिला की पहचान की और उससे शिकायत दर्ज करने को कहा। लेकिन उसने मना कर दिया। इसके बाद पुलिस ने स्वत: संज्ञान लेकर मामला दर्ज किया।

बता दें कि पीड़ित लड़की अहमदनगर के एक कस्बे की रहने वाली है, जो संभाजी नगर में रहकर कॉम्पिटशन की तैयारी कर रही है। लड़की के साथ छेड़छाड़ की शिकायत मिलने के तुरंत बाद पुलिस टीम मौके पर पहुँची। लड़की को एक परिवार ने बचाया था और अपने घर ले गए थे। फिर पुलिस उसे स्टेशन लेकर आई। इंस्पेक्टर शिवाजी तवारे ने बताया कि लड़की से कुछ पूछताछ करने के बाद उसे उसके घर छोड़ दिया गया।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राक्षस के नाम पर शहर, जिसे आज भी हर दिन चाहिए एक लाश! इंदौर की महारानी ने बनवाया, जयपुर के कारीगरों ने बनाया: बिहार...

गयासुर ने भगवान विष्णु से प्रतिदिन एक मुंड और एक पिंड का वरदान माँगा है। कोरोना महामारी के दौरान भी ये सुनिश्चित किया गया कि ये प्रथा टूटने न पाए। पितरों के पिंडदान के लिए लोकप्रिय गया के इस मंदिर का पुनर्निर्माण महारानी अहिल्याबाई होल्कर ने करवाया था, जयपुर के गौड़ शिल्पकारों की मेहनत का नतीजा है ये।

मार्तंड सूर्य मंदिर = शैतान की गुफा: विद्यार्थियों को पढ़ाने वाला Unacademy का जहरीला वामपंथी पाठ, जानिए क्या है इतिहास

मार्तंड सूर्य मंदिर को 8वीं शताब्दी ईस्वी में बनाया गया था और यह हिंदू धर्म के प्रमुख सूर्य देवता सूर्य को समर्पित है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -