Friday, April 19, 2024
Homeदेश-समाजमहाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते प्रकोप और रमजान ईद से पहले तैनात की गई...

महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते प्रकोप और रमजान ईद से पहले तैनात की गई CAPF की 9 कंपनियाँ: गृह मंत्रालय ने दिया आदेश

महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों का आँकड़ा 30,000 के पार पहुँच चुका है और 1000 से अधिक मौतें हो चुकी हैं। अधिकारियों ने बताया कि केंद्र शासित प्रदेश के जम्मू क्षेत्र से 1,000 से अधिक जवानों की 10 इकाइयों को हटाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कश्मीर में तैनात अर्द्धसैनिक बलों की किसी ईकाई को छुआ नहीं गया है।

महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते को प्रकोप को देखते हुए गृह मंत्रालय ने शनिवार (मई 16, 2020) को जम्मू-कश्मीर से सीएपीएफ (CAPF) की 10 कंपनियों को हटाने और ऐसी 9 कंपनियों को महाराष्ट्र में भेजने का आदेश जारी किया, ताकि रमजान के समय में पुलिस को कानून-व्यवस्था सुनिश्चित करने में थोड़ी राहत मिल सके।

बता दें कि महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों का आँकड़ा 30,000 के पार पहुँच चुका है और 1000 से अधिक मौतें हो चुकी हैं। अधिकारियों ने बताया कि केंद्र शासित प्रदेश के जम्मू क्षेत्र से 1,000 से अधिक जवानों की 10 इकाइयों को हटाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कश्मीर में तैनात अर्द्धसैनिक बलों की किसी ईकाई को छुआ नहीं गया है।

बताया जा रहा है कि गृह मंत्रालय ने जो 9 कंपनियाँ महाराष्ट्र में तैनात करने का आदेश दिया है, उसमें से 4 रैपिड एक्शन फोर्स से, 2 केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स से और 3 केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा फोर्स से हैं।

अधिकारियों ने बताया कि महाराष्ट्र के लिए पाँच कंपनियाँ जम्मू से बुलाई गई हैं और बाकी चार कंपनियाँ आरएएफ की मुंबई स्थित इकाई से तैनात किए जाने का आदेश दिया गया है।

महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने शनिवार को बताया कि कोरोना वायरस के कारण लागू लॉकडाउन के दौरान पुलिस बल पर काम के अत्यधिक बोझ से राहत देने के लिए मुंबई में कोरोना से अत्यधित संक्रमित इलाकों- पुणे, मालेगाँव और अमरावती में CAPF की कंपनियों को तैनात किया जाएगा

इससे पहले महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कोरोना वायरस के कारण लागू लॉकडाउन के दौरान पुलिस बल पर काम के अत्यधिक बोझ का हवाला देते हुए उसे राहत देने के लिए हाल ही में केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल की 20 कंपनियों को तैनात किए जाने की माँग की थी

अनिल देशमुख ने कहा था कि राज्य के पुलिसकर्मी रात-दिन काम कर रहे हैं और कई जवान कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं, ऐसे में इन्हें आराम दिए जाने की आवश्यकता है।

उन्होंने ट्विटर पर जारी एक वीडियो संदेश में कहा था, “ईद का त्योहार भी करीब है और कानून-व्यवस्था को पूरी तरह सुनिश्चित करना होगा। इसके लिए पुलिस को थोड़ा आराम चाहिए। हालाँकि, हमने केंद्र से CAPF की 20 कंपनी तैनात किए जाने का अनुरोध किया है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कौन थी वो राष्ट्रभक्त तिकड़ी, जो अंग्रेज कलक्टर ‘पंडित जैक्सन’ का वध कर फाँसी पर झूल गई: नासिक का वो केस, जिसने सावरकर भाइयों...

अनंत लक्ष्मण कन्हेरे, कृष्णाजी गोपाल कर्वे और विनायक नारायण देशपांडे को आज ही की तारीख यानी 19 अप्रैल 1910 को फाँसी पर लटका दिया गया था। इन तीनों ही क्रांतिकारियों की उम्र उस समय 18 से 20 वर्ष के बीच थी।

भारत विरोधी और इस्लामी प्रोपगेंडा से भरी है पाकिस्तानी ‘पत्रकार’ की डॉक्यूमेंट्री… मोहम्मद जुबैर और कॉन्ग्रेसी इकोसिस्टम प्रचार में जुटा

फेसबुक पर शहजाद हमीद अहमद भारतीय क्रिकेट टीम को 'Pussy Cat) कहते हुए देखा जा चुका है, तो साल 2022 में ब्रिटेन के लीचेस्टर में हुए हिंदू विरोधी दंगों को ये इस्लामिक नजरिए से आगे बढ़ाते हुए भी दिख चुका है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe