Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजयूट्यूबर मनीष कश्यप ने थाने में सरेंडर किया, घर की कुर्की जब्ती करने पहुँची...

यूट्यूबर मनीष कश्यप ने थाने में सरेंडर किया, घर की कुर्की जब्ती करने पहुँची थी बिहार पुलिस: ‘तमिलनाडु केस’ में कार्रवाई

सरेंडर के बाद मनीष कश्यप की तस्वीरें सामने आई हैं। इसमें वो चंपारण के बेतिया थाने के बाहर खड़े दिखाई दे रहे हैं। बताया जा रहा है कि आज सुबह बिहार पुलिस ने उनके यहाँ कुर्की जब्ती के लिए गई थी। उसके बाद ही मनीष कश्यप ने सरेंडर किया।

तमिलनाडु से लौटे बिहार के मजदूरों की पिटाई पर ‘गलत व भ्रामक रिपोर्टिंग’ करने के आरोप में एफआईआर होने के बाद यूट्यूबर मनीष कश्यप ने थाने में सरेंडर कर दिया है। इस बात की जानकारी बिहार पुलिस ने ट्वीट करके दी है।

बिहार पुलिस ने अपने ट्वीट में लिखा, “तमिलनाडु में कामकाजी बिहार के निवासियों के लिए असत्य, भ्रामक एवं उन्माद फ़ैलाने वाले वीडियो को प्रसारित करने एवं आर्थिक अपराध थाना कांड सं0 3/23 तथा 4/23 के अभियुक्त मनीष कश्यप ने बिहार पुलिस एवं EOU के दबिश के कारण बेतिया के जगदीशपुर थाने में आत्मसमर्पण किया।”

बेगूसराय के पत्रकार घनश्याम देव ने मनीष कश्यप की तस्वीरें साझा की हैं। इसमें वो चंपारण के बेतिया थाने के बाहर खड़े दिखाई दे रहे हैं। बताया जा रहा है कि आज सुबह बिहार पुलिस ने उनके यहाँ कुर्की जब्ती के लिए गई थी। उसके बाद ही मनीष कश्यप ने सरेंडर किया।

जानकारी के मुताबिक शनिवार सुबह पुलिस प्रशासन की टीमें मझौलिया थाना स्थित महना डुमरी गाँव में घर की कुर्की जब्ती करने गई थी। इसी कार्रवाई का मालूम होने पर बेतिया के जगदीशपुर थाने में पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया।

बता दें कि इससे पहले एक बार मनीष कश्यप की गिरफ्तारी की फर्जी जानकारी ट्विटर पर वायरल हुई थी। उस समय कश्यप के हाथ में हथकड़ी लगाकर फोटो जाली हैंडल से साझा की गई थी। हालाँकि इस दफा बिहार पुलिस ने खुद मनीष के आत्मसमर्पण की पुष्टि की है।

उल्लेखनीय है कि बिहार पुलिस ने सोशल मीडिया में भ्रामक फोटो, वीडियो शेयर करने के आरोप में यूट्यूबर मनीष कश्यप समेत 4 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की थी। इन चार में मनीष के साथ अमन कुमार, राकेश तिवारी तथा युवराज सिंह का नाम शामिल था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बांग्लादेशी महिला के 5 छोटे बच्चे, 3 लड़कियाँ… इसलिए इलाहाबाद हाई कोर्ट ने दे दी जमानत: सपा विधायक की मदद से भारत में रहने...

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने जेल में बंद एक बांग्लादेशी महिला हिना रिजवान को जमानत दे दी। महिला अपने बच्चों के साथ अवैध रूप से भारत में रही थी।

घुमंतू (खानाबदोश) पूजा खेडकर: जिसका बाप IAS, वो गुलगुलिया की तरह जगह-जगह भटक बिताई जिंदगी… इसी आधार पर बन गई MBBS डॉक्टर

पूजा खेडकर ने MBBS में नाम लिखवाने से लेकर IAS की नौकरी पास करने तक में नाम, उम्र, दिव्यांगता, अटेंप्ट और आय प्रमाण पत्र में फर्जीवाड़ा किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -