Monday, September 26, 2022
Homeदेश-समाजटोक्यो ओलंपिक और मिल्खा सिंह पर 'मन की बात', वैक्सीनेशन पर अफवाहों से बचने...

टोक्यो ओलंपिक और मिल्खा सिंह पर ‘मन की बात’, वैक्सीनेशन पर अफवाहों से बचने का पीएम मोदी ने दिया संदेश

"ओलंपिक खेलों की बात हो रही हो तो मिल्खा सिंह जैसे महान एथिलीट को कौन भूल सकता है। कुछ दिन पहले ही कोरोना की वजह से वे हमसे छिन गए। जब वे अस्पताल में थे तो मैंने उनसे बात की थी। मैंने उनसे आग्रह किया था कि 1964 के टोक्यो ओलंपिक में आपने..."

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार (27 जून 2021) को 78वीं रेडियो पर ‘मन की बात’ के जरिए देश को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने टोक्यो ओलंपिक, वैक्सीनेशन, कोरोना और जल संरक्षण को लेकर बात की। पीएम ने वैक्सीन लगवाने को लेकर जागरुकता फैलाने के उद्देश्य से बताया कि 100 साल की उम्र में उनकी माँ ने भी वैक्सीन लगवा ली है।

ओलंपिक खेलों के विषय में मन की बात करते हुए पीएम मोदी ने हाल ही में दिवंगत हुए महान एथिलीट मिल्खा सिंह को याद करते हुए कहा, “ओलंपिक खेलों की बात हो रही हो तो मिल्खा सिंह जैसे महान एथिलीट को कौन भूल सकता है। कुछ दिन पहले ही कोरोना की वजह से वे हमसे छिन गए। जब वे अस्पताल में थे तो मैंने उनसे बात की थी। मैंने उनसे आग्रह किया था कि 1964 के टोक्यो ओलंपिक में आपने देश का प्रतिनिधित्व किया था। इस बार हमारे खिलाड़ी टोक्यो जा रहे हैं, जिनका मनोबल आप को बढ़ाना है।” प्रधानमंत्री ने बताया कि बीमार होते हुए भी वो इसके लिए तैयार हो गए थे।

पीएम ने कहा कि हर खिलाड़ी का अपना संघर्ष रहा है। टोक्यो जा रहे इन खिलाड़ियों को देश का गौरव बढ़ाना है। हमें जाने-अनजाने इन खिलाड़ियों पर दवाब बनाने के बजाय उनका साथ देना है।

रिकॉर्ड टीकाककरण का जिक्र

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोरोना के खिलाफ हमारी जंग अभी जारी है। कुछ दिन पहले ही इस मामले में देश ने एक अभूतपूर्व काम किया था। 21 जून 2021 को कोरोना वैक्सीनेशन के अगले चरण की शुरुआत के दिन ही एक ही दिन में 86 लाख से ज्यादा लोगों ने मुफ्त टीका लगवाया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि टीकाकरण को लेकर अफवाह फैलाने वालों को एक तरफ छोड़िए, हम अपना काम करते हुए ये सुनिश्चित करेंगे कि सभी को इसका टीका लगे। हमारे वैज्ञानिकों पर भरोसा रखें।

आदिवासियों पर बनेगी केस स्टडी

कोरोना के खिलाफ जारी जंग के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि विश्व के लिए कभी न कभी हमारे आदिवासी भाई-बहन केस स्टडी बनेंगे कि किस तरह से उन्होंने कोरोना से लड़ाई में अपनी सूझबूझ का परिचय दिया था। गाँव के लोगों ने क्वारंटाइन सेंटर बनाकर किसी को भी भूखा सोने नहीं दिया।

जल संरक्षण देश सेवा का ही एक रूप

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जल संरक्षण पर मन की बात के जरिए संदेश देते हुए कहा कि मानसून आ गया है। बादल जब बरसते हैं तो केवल हमारे लिए ही नहीं बरसते। वो आने वाली पीढ़ियों के लिए भी बरसते हैं। मैं जल सरंक्षण को देश सेवा का एक ही रूप मानता हूँ।

मध्य प्रदेश के किशोरी लाल से की बात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर मध्य प्रदेश के किशोरी लाल से बात की। इस दौरान पीएम ने उनसे वैक्सीन को लेकर फैले भ्रम को लेकर पूछा। इस पर किशोरी लाल ने बताया कि उनके रिश्तेदार कहते हैं कि वैक्सीन लगवाने से लोगों की मौत हो जाती है। इस पर पीएम मोदी ने उनसे अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील करते हुए कहा कि हमें जिंदगी बचानी है, लोगों को बचाना है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘भारत माता की जय’ नारे के साथ गुलाम नबी ने बनाई नई पार्टी, ‘डेमोक्रेटिक आज़ाद पार्टी’ रखा नाम: कहा- वापस नहीं आ सकता अनुच्छेद-370

कॉन्ग्रेस से अलग होने वाले गुलाम नबी आजाद ने अपनी नई राजनीतिक पार्टी के नाम का ऐलान कर दिया है। इसका नाम डेमोक्रेटिक आजाद पार्टी है।

‘दुपट्टा तक सिर पर नहीं है, पाकिस्तान को लूटकर खा गई’ : लंदन में PAK मंत्री मरियम के पीछे पड़ी भीड़, लगे- ‘चोरनी-चोरनी’ के...

एक महिला कहती है, "ये मरियम औरंगजेब है, जो टीवी पर बैठ कर बड़े-बड़े दावे करती है, लेकिन इसके सिर पर दुपट्टा नहीं है। ये चोरों की सरदारनी है।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
224,319FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe