Saturday, September 25, 2021
Homeदेश-समाज'हिंदू नाम रख चूड़ी बेच रहा था तस्लीम, 2 आधार कार्ड भी मिले': इंदौर...

‘हिंदू नाम रख चूड़ी बेच रहा था तस्लीम, 2 आधार कार्ड भी मिले’: इंदौर में जिसकी पिटाई पर बवाल, मंत्री ने बताई उसकी सच्चाई

''इंदौर में दो समुदायों के बीच हुए विवाद के मामले में दोनों पक्षों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की गई है। एमपी गृह मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार एक विशेष समुदाय का व्यक्ति हिन्दू नाम रखकर चूड़ियाँ बेच रहा था, जिसके कारण सारा विवाद हुआ।''

सोशल मीडिया पर मध्य प्रदेश के इंदौर में चूड़ी बेच रहे एक मुस्लिम युवक की पिटाई का वीडियो वायरल हो रहा है। मामला प्रकाश में आने के बाद पुलिस ने FIR दर्ज कर ली है। वहीं, चूड़ी बेच रहे मुस्लिम युवक की पिटाई पर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने दावा किया है कि मुस्लिम युवक तस्लीम खुद को हिंदू बताकर इलाके में चूड़ियाँ बेच रहा था, इसलिए भीड़ उग्र हो गई थी। साथ ही उन्होंने कहा कि युवक के पास से दो आधार कार्ड भी बरामद किए गए हैं।

नरोत्तम मिश्रा ने सोमवार (23 अगस्त) को मामले को गंभीरता से लेते हुए ट्वीट किया, ”इंदौर में दो समुदायों के बीच हुए विवाद के मामले में दोनों पक्षों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की गई है। एमपी गृह मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार एक विशेष समुदाय का व्यक्ति हिन्दू नाम रखकर चूड़ियाँ बेच रहा था, जिसके कारण सारा विवाद हुआ।” उन्होंने कहा कि हमारे यहाँ सावन महीने में बहन बेटियों के चूड़ियाँ पहनने की परम्परा है, उसने महिलाओं को केवल चूड़ियाँ पहनाने के लिए हिन्दू नाम रखा था, जबकि वह किसी दूसरे समुदाय का है। इसी तरह से उसके पास से दो आधार कार्ड बरामद हुए हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चू​ड़ी बेचने वाले युवक का नाम तस्लीम है। वह उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले का रहने वाला है। रविवार को सोशल मीडिया पर उसका एक वीडियो वायरल हुआ था। सावन के दौरान हिंदू महिलाओं को चूड़ियाँ पहनाने को लेकर विवाद शुरू हुआ था। तस्लीम खुद को हिंदू बताकर इलाके में चूड़ियाँ बेच रहा था, जिसको लेकर स्थानीय भीड़ उग्र हो गई थी।

आरजे सायमा ने घटना का वीडियो ट्वीट कर लिखा, ”ऐसा लगता है कि वे तालिबान के खिलाफ प्रतिस्पर्धा कर रहे हैं! उम्मीद करते हैं कि शिवराज सिंह चौहान इन आतंकियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेंगे।”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कहीं स्तनपान करते शिशु को छीन कर 2 टुकड़े किए, कहीं बार-बार रेप के बाद मरी माँ की लाश पर खेल रहा था बच्चा’:...

एक शिशु अपनी माता का स्तनपान कर रहा था। मोपला मुस्लिमों ने उस बच्चे को उसकी माता की छाती से छीन कर उसके दो टुकड़े कर दिए।

‘तुम चोटी-तिलक-जनेऊ रखते हो, मंदिर जाते हो, शरीयत में ये नहीं चलेगा’: कुएँ में उतर मोपला ने किया अधमरे हिन्दुओं का नरसंहार

केरल में जिन हिन्दुओं का नरसंहार हुआ, उनमें अधिकतर पिछड़े वर्ग के लोग थे। ये जमींदारों के खिलाफ था, तो कितने मुस्लिम जमींदारों की हत्या हुई?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,228FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe