Monday, July 22, 2024
Homeदेश-समाजआर्यन खान जिस क्रूज शिप में ड्रग्स मामले में प​कड़े गए थे, उसमें क्रू...

आर्यन खान जिस क्रूज शिप में ड्रग्स मामले में प​कड़े गए थे, उसमें क्रू मेंबर समेत 66 लोग कोरोना पॉजिटिव: गोवा सरकार ने नहीं दी उतरने की अनुमति

गोवा के स्वास्थ्य मंत्री ने मीडियाकर्मियों से बताया था कि जहाज के संचालक को सभी यात्रियों का कोरोना टेस्ट कराने के लिए कहा गया था। उन्होंने कहा था कि यदि वे कोरोना पॉजिटिव पाए जाते हैं, तो उन्हें उतरने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

मुंबई से गोवा जा रहे कार्डेलिया क्रूज शिप के एक क्रू मेंबर समेत 66 यात्री कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। यह वही क्रूज शिप है, जिसमें बॉलीवुड अभिनेता शा​हरुख खान (Shah Rukh Khan) के बेटे आर्यन खान (Aryan Khan) अक्टूबर 2021 में ड्रग्स मामले में पकड़े गए थे।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, सबसे पहले कार्डेलिया क्रूज चालक दल का एक सदस्य कोरोना पॉजिटिव पाया गया था, जो जहाज पर 2,000 से अधिक लोगों के साथ गोवा के लिए मुंबई से रवाना हुआ था। क्रू मेंबर को जहाज में ही आइसोलेट कर दिया गया है। इसके बाद शिप (Cruise Ship) में मौजूद अन्य क्रू मेंबर्स और यात्रियों का RT-PCR टेस्ट किया गया। इनमें 66 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जहाज को फिलहाल मोरमुगाओ पोर्ट क्रूज टर्मिनल, वास्को के पास रोक दिया गया है। किसी को भी जहाज पर चढ़ने और उतरने की अनुमति नहीं है।

इस मामले में अधिक जानकारी देते हुए गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे ने कहा कि सरकार तय करेगी कि यात्रियों को जहाज से उतरने दिया जाए या नहीं। साथ ही उन्होंने बताया कि राज्य में ओमिक्रोन के चार मामलों की पुष्टि हुई है। रविवार (2 जनवरी 2021) को मंत्री ने मीडियाकर्मियों से बताया था कि जहाज के संचालक को सभी यात्रियों का कोरोना टेस्ट कराने के लिए कहा गया था। उन्होंने कहा था कि यदि वे कोरोना पॉजिटिव पाए जाते हैं, तो उन्हें उतरने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

बता दें कि पिछले साल अक्टूबर में आर्यन खान के साथ अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धमेचा को क्रूज शिप में ड्रग्स के मामले में गिरफ्तार किया गया था। ड्रग रखने, उसका सेवन करने, प्रतिबंधित मादक पदार्थ की खरीद और बिक्री व साजिश के लिए इनके खिलाफ एनडीपीएस कानून की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था। आर्यन को 28 अक्टूबर 2021 को बॉम्बे हाई कोर्ट ने इस मामले में जमानत दे दी थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

‘कागज़ पर नहीं, UCC को जमीन पर उतारिए’: हाईकोर्ट ने ‘तीन तलाक’ को बताया अंधविश्वास, कहा – ऐसी रूढ़िवादी प्रथाओं पर लगे लगाम

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा है कि समान नागरिक संहिता (UCC) को कागजों की जगह अब जमीन पर उतारने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -