Wednesday, June 19, 2024
Homeदेश-समाज72 हूर के लालच में पढ़ने लगा कलमा, रखने लगा रोजा: जिम में कसरत...

72 हूर के लालच में पढ़ने लगा कलमा, रखने लगा रोजा: जिम में कसरत करने जाता था हिंदू नाबालिग, डॉक्टर फैजान ने ब्रेनवॉश कर बना दिया ‘मुस्लिम’

रूस में पढ़ा डॉक्टर फैज़ान भी इसी ओमेक्स स्पा सोसाइटी में ही अपनी पत्नी के साथ रहता है। नाबालिग के परिजन लगभग 1 साल पहले गुरुग्राम में शिफ्ट हो गए।

हरियाणा के फरीदाबाद में एक डॉक्टर पर 16 साल के नाबालिग हिन्दू के धर्मांतरण का आरोप लगा है। डॉक्टर का नाम नाम फैज़ान अहमद बताया जा रहा है जिसने रूस में पढ़ाई की है। इस हरकत में डॉक्टर की बीवी भी शामिल बताई जा रही है। आरोप है कि फैज़ान अहमद के सम्पर्क में आने के बाद से नाबालिग को कलमा पढ़ाया गया। इसके बाद वह 72 हूरों के लालच में रोजे रखने लगा और नमाज़ पढ़ने लगा। रविवार (31 मार्च, 2024) को डॉक्टर और पीड़ित बच्चे के परिजनों में नोकझोंक भी हुई। पुलिस ने इस मामले का संज्ञान लिया है और जाँच शुरू कर दी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह घटना फरीदाबाद के थाना क्षेत्र BPTP की है। यहाँ के ओमेक्स स्पा सोसाइटी में एक हिन्दू परिवार जनवरी 2023 तक रहा था। आरोप है कि तब इसी परिवार का 15 वर्षीय लड़का सोसाइटी में ही बने जिम में जाया करता था। इसी जिम में डॉक्टर फैज़ान अहमद भी आता था। रूस में पढ़ा डॉक्टर फैज़ान भी इसी ओमेक्स स्पा सोसाइटी में ही अपनी पत्नी के साथ रहता है। नाबालिग के परिजन लगभग 1 साल पहले गुरुग्राम में शिफ्ट हो गए। यहाँ भी नाबालिग से फैज़ान अहमद की फोन पर बातचीत बरकरार रही।

बताया जा रहा है कि पिछले 6 महीने से नाबालिग के व्यवहार में तमाम बदलाव आने लगे। वह रोज़े रखने लगा और नमाज़ भी अदा करना शुरू कर दिया। जब बच्चे को उसके घर वालों ने समझाने की कोशिश की तो वह नाराजगी जताने लगा। उसने अपने घर वालों को जन्नत मिलने और एक ही अल्लाह जैसे तर्क देने शुरू कर दिए। पीड़ित के पिता ने बताया, “डॉक्टर द्वारा मेरे बेटे को डराया गया कि अगर इस्लाम कबूल कर लोगे तो जन्नत जाओगे और 72 हूरें मिलेंगी वर्ना जहन्नुम में जाना पड़ेगा। आप शैतान के हवाले कर दिए जाओगे।’

नाबालिग पीड़ित अपने परिवार की एकलौती संतान है। फिलहाल उसने हाल में ही कक्षा 12 की परीक्षा पास की है और अब दिल्ली से BBA की तैयारी कर रहा है। पीड़ित के परिजनों ने अन्य अभिभावकों से भी अपील की है कि अगर उनके बच्चे भी मोबाइल, टैबलेट या लैपटॉप आदि प्रयोग कर रहे हैं तो उन पर कड़ी नजर रखी जाए। उन्होंने कहा कि उनका बेटा गलत लोगों के चंगुल में फँस कर उन बातों पर यकीन करने लगा है जिसका कोई आधार ही नहीं है।

रविवार कोई पीड़ित के परिजन गुरुग्राम से फरीदाबाद डॉक्टर के घर शिकायत ले कर पहुँचे। उन्होंने डॉक्टर पर अपने बेटे का ब्रेनवॉश करने का आरोप लगाया। कहा जा रहा है कि डॉक्टर फैज़ान विदेश यात्रा पर है। उसके घर में मौजूद लोगों ने अपनी गलती मानने से इनकार कर दिया और मामले से पल्ला झाड़ लिया। इस बात पर बच्चे के घर वालों से डॉक्टर के परिजनों की नोकझोंक भी हुई। पीड़ित की माँ का यह भी कहना था कि फैज़ान ने उनके बेटे को कई खतरनाक ग्रुपों में भी जोड़ रखा है। इस नोकझोंक और पीड़ितों के बयान का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है।

फरीदाबाद पुलिस ने इस घटना का संज्ञान लिया है। BPTP थाने के प्रभारी ने मीडिया को बताया है कि वायरल वीडियो का संज्ञान ले कर जाँच शुरू कर दी गई है। पीड़ित छात्र के परिजनों को थाने पर भी बुलवाया गया है। हालाँकि इस मामले में अभी तक FIR नहीं दर्ज हुई है। मामले के तूल पकड़ते ही विश्व हिन्दू ने भी इस विवाद में इंट्री की है। विहिप ने पुलिस से आरोपित डॉक्टर के खिलाफ जाँच करवा के कड़ी कार्रवाई की माँग उठानी शुरू कर दिया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किताब से बहती नदी, शरीर से उड़ते फूल और खून बना दूध… नालंदा की तबाही का दोष हिन्दुओं को देने वाले वामपंथी इतिहासकारों का...

बख्तियार खिजली को क्लीन-चिट देने के लिए और बौद्धों को सनातन से अलग दिखाने के लिए वामपंथी इतिहासकारों ने नालंदा विश्वविद्यालय को तबाह किए जाने का दोष हिन्दुओं पर ही मढ़ दिया। इसके लिए उन्होंने तिब्बत की एक किताब का सहारा लिया, जो इस घटना के 500 साल बाद लिखी गई थी और जिसमें चमत्कार भरे पड़े थे।

कनाडा का आतंकी प्रेम देख भारत ने याद दिलाया कनिष्क ब्लास्ट, 23 जून को पीड़ितों को दी जाएगी श्रद्धांजलि: जानिए कैसे गई थी 329...

भारत ने एयर इंडिया के विमान कनिष्क को बम से उड़ाने की बरसी याद दिलाते हुए कनाडा में वर्षों से पल रहे आतंकवाद को निशाने पर लिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -