Sunday, May 29, 2022
Homeदेश-समाज'जय श्री राम' लिखने की सज़ा: मुनव्वर और उसकी बीवी को अपने ही समुदाय...

‘जय श्री राम’ लिखने की सज़ा: मुनव्वर और उसकी बीवी को अपने ही समुदाय के लोगों ने घर में घुस कर मारा, 4 साल की बेटी को पटका

कोकता के रहने वाले मुनव्वर अंसारी ​​​​​पेशे से कारपेंटर है। उन्होंने बताया कि वह भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा के कट्टर समर्थक हैं। उन्होंने विधायक रामेश्वर शर्मा की फेसबुक पोस्ट को लाइक किया और कमेंट बॉक्स में 'जय श्रीराम' लिखा था।

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में भाजपा विधायक की फेसबुक पोस्ट पर मुनव्वर अंसारी को ‘जय श्री राम’ लिखना बहुत भारी पड़ा। इसको लेकर मुनव्वर अंसारी के समुदाय के लोगों ने उसे और उसकी पत्नी को बुरी तरह पीटा। यही नहीं मुस्लिम लोगों ने मुनव्वर घर में तोड़फोड़ की, उसे कौम का गद्दार बताया और उसकी 4 साल की बेटी को उठाकर पटक दिया।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, कोकता के रहने वाले मुनव्वर अंसारी ​​​​​पेशे से कारपेंटर है। उन्होंने बताया कि वह भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा के कट्टर समर्थक हैं। उन्होंने विधायक रामेश्वर शर्मा की फेसबुक पोस्ट को लाइक किया और कमेंट बॉक्स में ‘जय श्रीराम’ लिखा था। उसका पोस्ट पढ़ने के बाद मोहल्ले में रहने वाले सोहेल अहमद ने अपने समुदाय के लोगों को भड़काना शुरू कर दिया था। उसने (सोहेल) उन लोगों से कहा कि मुनव्वर हिंदूवादी नेताओं का साथ देता है। वह अपनी कौम के साथ गद्दारी कर रहा है।

मुनव्वर का आरोप है कि बुधवार (6 अप्रैल, 2022) शाम को सोहेल अपने 10–15 लोगों के साथ उसके घर में घुस गया। उन लोगों ने मुनव्वर और उनकी पत्नी को बुरी तरह पीटा। घर का सामान भी बाहर फेंक दिया। उन लोगों ने उसके मासूम बच्चे के साथ भी मारपीट की।

मुनव्वर और उसकी पत्नी को बुरी तरह पीटा (फोटो साभार: दैनिक भास्कर)

मुनव्वर का कहना है कि घटना के दौरान कोई भी पड़ोसी उसे बचाने के लिए आगे नहीं आया। उसके फोन करने पर पुलिस की वैन तो बस्ती में आई थी, लेकिन उसका बयान लिए बिना ही वापस चली गई। इसके बाद उसने घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया था।

मुनव्वर का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस हरकत में आई। बिलखिरिया के थाना प्रभारी रामबाबू चौधरी ने बताया कि मुनव्वर ने उन लोगों के खिलाफ शिकायत की है। हमें घटनास्थल पर तोड़फोड़ करने के साक्ष्य नहीं मिले हैं। आसपास के लोगों ने भी घटना के बारे में अभी तक कुछ नहीं बताया है। हम इस मामले की जाँच कर रहे हैं। उधर इस मामले में विधायक रामेश्वर शर्मा ने मामले की जाँच कर दोषी के खिलाफ मामला दर्ज करने की सिफारिश की है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘शरिया लॉ में बदलाव कबूल नहीं’: UCC के विरोध में देवबंद के मौलवियों की बैठक, कहा – ‘सब सह कर हम 10 साल से...

देवबंद में आयोजित 'जमीयत उलेमा ए हिन्द' की बैठक में UCC का विरोध किया गया। मौलवियों ने सरकार पर डराने का आरोप लगाया। कहा - ये देश हमारा है।

‘कब्ज़ा कर के बनाई गई मस्जिद को गिरा दो’: मंदिरों को ध्वस्त कर बनाए गए मस्जिदों पर बोले थे गाँधी – मुस्लिम खुद सौंप...

गाँधी जी ने लिखा था, "अगर ‘अ’ (हिन्दू) का कब्जा अपनी जमीन पर है और कोई शख्स उसपर कोई इमारत बनाता है, चाहे वह मस्जिद ही हो, तो ‘अ’ को यह अख्तियार है कि वह उसे गिरा दे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
189,861FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe