Thursday, July 29, 2021
Homeदेश-समाज'मंदिर में प्रतिमाएँ तोड़ीं, लगाए 'अल्लाहु-अकबर' के नारे': स्थानीय लोगों में गुस्सा, तनाव के...

‘मंदिर में प्रतिमाएँ तोड़ीं, लगाए ‘अल्लाहु-अकबर’ के नारे’: स्थानीय लोगों में गुस्सा, तनाव के बीच वीडियो वायरल

"ये पाकिस्तान नहीं बल्कि दिल्ली के चावड़ी बाजार का हिन्दू मंदिर है। यह घटना कल की है, जब धर्म विशेष की भीड़ ने मंदिर में घुसकर वहाँ की मूर्तियों को तोड़ा है।"

दिल्ली के चाँदनी चौक इलाक़े में मुस्लिम समाज के लोगों पर मंदिर में तोड़फोड़ करने का आरोप लगाया गया है। सोशल मीडिया पर लोगों ने कई वीडियो शेयर किए, जिसमें मुस्लिम समुदाय के लोग हंगामा करते दिखाई दे रहे हैं। दिल्ली सरकार में मंत्री रहे कपिल मिश्रा ने 2 वीडियो ट्वीट कर लिखा, “ये पाकिस्तान नहीं बल्कि दिल्ली के चावड़ी बाजार का हिन्दू मंदिर हैं। यह घटना कल की है, जब धर्म विशेष की भीड़ ने मंदिर में घुसकर वहाँ की मूर्तियों को तोड़ा है। यह काम बदमाशों या गुंडों ने नहीं बल्कि सैकड़ो स्थानीय लोगों की भीड़ ने किया है। उन्होंने अपने धर्म के नारे लगाते हुए मंदिर तोड़ा डाला।

इस वीडियो में देखा जा सकता है कि लोग जब मंदिर पहुँचे तो उन्होंने दिखाया कि कैसे माँ काली व अन्य प्रतिमाओं के आगे लगाए गए ग्लास को तोड़ डाला गया है। इसके अलावा भगवान गणेश की प्रतिमा को भी विखंडित कर दिया गया। भगवान शिव की प्रतिमा को तोड़ डाला गया। कपिल मिश्रा ने इसी घटना से जुड़ी एक अन्य वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा, “दिल्ली के हौजकाजी में कल रात एक मंदिर पर पत्थर बरसाए गए और तोड़-फोड़ की गई। पहले पूरे इलाक़े में अफवाह फैलाई गई कि एक मुस्लिम लड़के की मॉब लिंचिंग (भीड़ द्वारा हत्या) हुई है, जबरदस्ती जय श्री राम बुलवाया है। इस अफवाह के बाद संप्रदाय विशेष की मॉब जमा हुई और उस मॉब ने पहले मंदिर में और उसके बाद थाने में हंगामा किया।

स्थानीय लोगों के अनुसार, पहले साज़िश के तहत यह अफवाह फैलाई गई कि एक मुस्लिम व्यक्ति की भीड़ द्वारा हत्या (मॉब लिंचिंग) कर दी गई है और उससे जबरदस्ती ‘जय श्री राम’ बुलवाया गया है। इसके बाद गुस्साई मुस्लिम मॉब मंदिर में घुस आए और उन्होंने प्रतिमाओं को विखंडित करने के साथ-साथ मंदिर में तोड़-फोड़ की।

इस घटना के बाद स्थानीय पुलिस थाने के सामने बड़ी भीड़ इकट्ठी हो गई और सभी ‘अल्लाहु अकबर’ के नारे लगाते हुए देखे जा सकते हैं। मॉब ने वहाँ इस्लामी नारे लगाते हुए जम कर हंगामा बड़पाया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘पूरे देश में खेला होबे’: सभी विपक्षियों से मिलकर ममता बनर्जी का ऐलान, 2024 को बताया- ‘मोदी बनाम पूरे देश का चुनाव’

टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने विपक्ष एकजुटता पर बात करते हुए कहा, "हम 'सच्चे दिन' देखना चाहते हैं, 'अच्छे दिन' काफी देख लिए।"

कराहते केरल में बकरीद के बाद विकराल कोरोना लेकिन लिबरलों की लिस्ट में न ईद हुई सुपर स्प्रेडर, न फेल हुआ P विजयन मॉडल!

काँवड़ यात्रा के लिए जल लेने वालों की गिरफ्तारी न्यायालय के आदेश के प्रति उत्तराखंड सरकार के जिम्मेदारी पूर्ण आचरण को दर्शाती है। प्रश्न यह है कि हम ऐसे जिम्मेदारी पूर्ण आचरण की अपेक्षा केरल सरकार से किस सदी में कर सकते हैं?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,743FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe