Wednesday, June 19, 2024
Homeदेश-समाजBJP रैली से लौट रहे दलित को मुस्लिम इलाके में लोहे की पाइप से...

BJP रैली से लौट रहे दलित को मुस्लिम इलाके में लोहे की पाइप से मारा, दी जाति वाली गालियाँ: जीशान, नसीब, मोंटी खान सहित 30-40 पर FIR

अनुसूचित जाति के दिवाकर कुमार नायक भाजपा की रैली में शामिल हुए थे। वापसी में मुस्लिम बहुल मोहल्ले में उनको रोक लिया गया। वहाँ मौजूद लोगों ने लोहे की पाइप से दिवाकर और विक्की राणा को मारना शुरू कर दिया। लात-घूँसों से भी पीटते रहे।

झारखंड के हजारीबाग से दलित उत्पीड़न का मामला सामने आया है। यहाँ दलित समुदाय के एक युवक को कुछ मुस्लिम युवकों द्वारा लोहे की पाइप से पीटा गया और जातिसूचक गालियाँ दी गईं। आरोपितों के नाम जीशान, नसीब और मोंटी खान है। घटना में 30-40 अन्य अज्ञात हमलावर भी शामिल बताए गए हैं। घटना के समय पीड़ित दिवाकर नायक अपनी बाइक से भाजपा की रैली से लौट रहे थे। अशोक नायक के साथ विक्की राणा नाम का एक अन्य युवक भी घायल हुए हैं। घटना शनिवार (18 मई 2024) की है। पुलिस ने इस मामले में FIR दर्ज कर के 3 आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता बाबूलाल मरांडी ने पीड़ित द्वारा थाने में दी गई तहरीर को अपने X हैंडल पर शेयर किया है। घटना हजारीबाग के बड़कागाँव थानाक्षेत्र की है। यहाँ के रहने वाले अनुसूचित जाति के दिवाकर कुमार नायक ने बताया कि शनिवार को वो अपने 150 साथियों के साथ भाजपा की रैली में शामिल हुए थे। वापसी में वो बाइक से अपने साथी विक्की राणा के साथ गोंदलपुरा लौट रहे थे। दिवाकर की बाइक सबसे पीछे चल रही थी। इसी दौरान बादम नाम के मुस्लिम बहुल मोहल्ले में उनको रोक लिया गया।

दिवाकर को रोकने वाले में बादम निवासी जीशान, नसीब और मोंटी खान के साथ 30 से 40 अन्य अज्ञात लोग बताए जा रहे हैं। आरोप है कि इन सभी ने पीड़ित को जातिसूचक शब्द बोलते हुए गंदी-गंदी गालियाँ देनी शुरू कर दीं। कुछ देर बाद वहाँ मौजूद लोगों ने पास की दुकान से लोहे की पाइप निकाल कर दिवाकर और विक्की राणा को मारना शुरू कर दिया। हमले में दिवाकर के गले और चेहरे पर चोटें आईं। इस दौरान भीड़ में शामिल अन्य लोग दिवाकर और विक्की को लात-घूँसों से भी पीटते रहे।

शिकायत में पीड़ित ने बताया है कि उनके शरीर में आई चोटों की वजह से फिलहाल वह चलने-फिरने में असमर्थ हैं। विक्की राणा को भी बुरी तरह से घायल बताया गया है। पीड़ित ने अपनी शिकायत के अंत में आरोपितों पर कड़ी कार्रवाई की माँग की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस ने 3 नामजदों सहित 30-40 अन्य अज्ञात लोगों पर FIR दर्ज कर ली है। अब तक 3 हमलावरों के गिरफ्तार होने की खबर है। अन्य आरोपितों की पहचान और पड़ताल की जा रही है। भाजपा ने इस घटना को राज्य सरकार की कानून व्यवस्था पर सवालिया निशान बताया है।

मिली जानकारी के मुताबिक इस मामले में मुस्लिम पक्ष भी पुलिस में शिकायत देने की तैयारी कर रहा है। उनका आरोप है कि बड़कागाँव मस्जिद के पास आपत्तिजनक नारेबाजी की गई थी, जिससे माहौल बिगड़ गया। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जाँच कर रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हमारे बारह’ पर जो बॉम्बे हाई कोर्ट ने कहा, वही हम भी कह रहे- मुस्लिम नहीं हैं अल्पसंख्यक… अब तो बंद हो देश के...

हाई कोर्ट ने कहा कि उन्हें फिल्म देखखर नहीं लगा कि कोई ऐसी चीज है इसमें जो हिंसा भड़काने वाली है। अगर लगता, तो पहले ही इस पर आपत्ति जता देते।

NEET पर जिस आयुषी पटेल के दावों को प्रियंका गाँधी ने दी हवा, उसके खुद के दस्तावेज फर्जी: कहा था- NTA ने रिजल्ट नहीं...

इलाहाबाद हाई कोर्ट में झूठी साबित होने के बाद आयुषी पटेल ने अपनी याचिका भी वापस लेने का अनुरोध किया। कोर्ट ने NTA को छूट दी है कि वह आयुषी पटेल के खिलाफ नियमानुसार एक्शन ले।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -