Monday, June 24, 2024
Homeदेश-समाजकॉलेज में नमाज पढ़ने से रोकने पर शिक्षक-गार्ड से भिड़े मुस्लिम छात्र: NSUI समर्थन...

कॉलेज में नमाज पढ़ने से रोकने पर शिक्षक-गार्ड से भिड़े मुस्लिम छात्र: NSUI समर्थन में उतरी तो ABVP ने कहा- सांप्रदायिकता नहीं फैलाने देंगे

ABVP पदाधिकारी हुशियार मीणा ने लिखा, "राजस्थान की राजधानी जयपुर के राजस्थान कॉलेज में सांप्रदायिक तनाव फैलाने की कोशिश करते हुए शांतिदूत। शिक्षा के मंदिर को राजनीति का अखाड़ा नहीं बनने देंगे।"

राजस्थान की राजधानी जयपुर स्थित राजस्थान कॉलेज नमाज को लेकर सुर्ख़ियों में है। कॉलेज के कैम्पस के अंदर शुक्रवार (12 नवम्बर 2021) को नमाज़ पढ़ने वाले कुछ छात्रों को टोकने के बाद विवाद उठ खड़ा हुआ है। यह रोक-टोक कॉलेज के सुरक्षा गार्डों और शिक्षक ने की थी। नमाज़ का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

राजस्थान भाजपा नेता लक्ष्मीकांत भरद्वाज का आरोप है कि नमाज़ पढ़ने के लिए मौलवी भी बुलाया गया था। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर घटना का वीडियो शेयर किया है। इसी के साथ उन्होंने लिखा, “जयपुर के सरकारी कॉलेज (राजस्थान कॉलेज) परिसर में ही इब्राहिम नमाज़ पढ़ रहा है, एक मौलवी भी दिख रहा है। धमकी और साथ में, फ़ीस देते हैं पढ़ेंगे नमाज़।”

इस पूरे घटनाक्रम के बाद अब कॉलेज में छात्रों के 2 समूह आमने-सामने आ गए हैं। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) ने किसी भी हाल में कैम्पस के अंदर नई परम्परा शुरू नहीं होने देने का ऐलान किया है। दूसरी तरफ NSUI नमाज़ पढ़ने वालों के साथ खुलकर खड़ी हो गई है। NSUI ने कैम्पस में नमाज़ को सही ठहराया है। इसी के साथ इस संगठन ने नमाज़ से रोकने वाले सुरक्षा गार्डों और शिक्षक के खिलाफ कार्रवाई की माँग की है।

शुक्रवार को इस घटना के बाद उपजे आक्रोश को कॉलेज प्रशासन ने जैसे-तैसे शांत कराया। NSUI के प्रदेश प्रवक्ता रमेश भाटी के अनुसार, नमाज़ पढ़ रहे लोगों को जबरदस्ती उठाया गया। नमाज़ से रोकने वालों को NSUI ने संकीर्ण सोच वाला बताया। इसके साथ ही शिक्षक और गार्ड को नहीं हटाने पर NSUI ने आंदोलन की चेतावनी भी दी है।

इस घटना का एक और वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में नमाज़ पढ़ने वाले छात्र खुद को रोकने आये लोगों से बहस कर रहे हैं। वीडियो में वो बोलते दिखाई दे रहे हैं कि क्या आपका धर्म भ्रष्ट हो रहा है? इस वीडियो को शेयर करते हुए ABVP पदाधिकारी हुशियार मीणा ने लिखा, “राजस्थान की राजधानी जयपुर के राजस्थान कॉलेज में सांप्रदायिक तनाव फैलाने की कोशिश करते हुए शांतिदूत। शिक्षा के मंदिर को राजनीति का अखाड़ा नहीं बनने देंगे। अशोक गहलोत जी अगर इनके खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई तो हम चुप नहीं बैठेंगे। इसका विरोध करते हैं। ईंट जवाब पत्थर से देना जानते है!”

वहीं, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) ने नमाज़ रोकने वाले गार्ड और शिक्षक के समर्थन का ऐलान किया है। ABVP के प्रदेश मंत्री हुशियार मीणा ने आरोप लगाया है कि शिक्षा के केंद्र को धार्मिक अखाड़ा बनाने की साजिश चल रही है। जहाँ एक तरफ राजस्थान की गहलोत सरकार मंदिर निर्माण पर रोक लगा रही है तो दूसरी तरफ वही सरकार स्कूलों में नमाज़ अदा करा रही है। ABVP ऐसी कोई परम्परा किसी भी हाल में नहीं शुरू होने देगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तू क्यों नहीं करता पत्रकारिता?’: नाना पाटेकर ने की ऐसी खिंचाई कि आह-ओह करने लगे राजदीप सरदेसाई, अभिनेता ने पूछा – तुझे सिर्फ बुरा...

राजदीप सरदेसाई ने कहा कि 'The Lallantop' ने वाकई में पत्रकारिता के नियम को निभाया है, जिस पर नाना पाटेकर पूछ बैठे कि तू क्यों नहीं इसको फॉलो करता है?

13 लोग ऐसे भी जो घर में सोने आए, लेकिन फिर कभी जगे नहीं: तमिलनाडु में जहरीली शराब से अब तक 56 मौतें, चुप्पी...

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कॉन्ग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे को तमिलनाडु में जहरीली शराब से हुई मौतों के मामले में एक पत्र लिखा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -