Sunday, January 23, 2022
Homeदेश-समाज'मुसलमान पैदा करते हैं 8 बच्चे, क्योंकि वो डरते हैं कि 2 को मार...

‘मुसलमान पैदा करते हैं 8 बच्चे, क्योंकि वो डरते हैं कि 2 को मार दिया जाएगा, 2 मरेगा…’ – मुनव्वर राना

''मुसलमान 8 बच्चे इसलिए पैदा करते हैं, क्योंकि उनको डर है कि उनके 2 बच्चों को आतंकवादी बना के मार दिया जाएगा, 2 कोरोना वायरस से मर जाएँगे। 4 अम्मी-अब्बू की लाश को कब्र तक पहुँचाने के लिए तो जिंदा रहेंगे।''

विवादित उर्दू शायर मुनव्वर राना इन दिनों एक के बाद एक विवादित बयान देकर फिर से विवादों में हैं। उत्तर प्रदेश में CM योगी की वापसी पर प्रदेश छोड़ने वाले बयान के बाद अब उन्होंने एक और बड़ा बयान दिया है। मुनव्वर राना ने रविवार (18 जुलाई 2021) को कहा, ”मुसलमान 8 बच्चे इसलिए पैदा करते हैं, क्योंकि उनको डर है कि उनके 2 बच्चों को आतंकवादी बना के मार दिया जाएगा और दो कोरोना वायरस से मर जाएँगे। वहीं 4 अम्मी-अब्बू की लाश को कब्र तक पहुँचाने के लिए तो जिंदा रहेंगे।”

उन्होंने आगे कहा, ”गरीब लड़कों को आतंकवादी बताया जा रहा है और मामूली से प्रेशर कुकर को बम। मुझे डर सता रहा है कि मैं भी पाकिस्तान मुशायरे के लिए जाता रहता हूँ और पिछले दिनों प्रेशर कुकर खरीद कर लाया हूँ। तो कहीं एटीएस मुझे भी आतंकी और तालिबानी समझकर ना उठा ले जाएँ।”

गौरतलब है कि भाजपा ने आज (18 जुलाई) मुनव्वर राना को यूपी में योगी की वापसी पर प्रदेश छोड़ने वाले बयान पर करारा जवाब दिया है। भाजपा प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा, ”मुनव्वर राना को इस देश ने, प्रदेश ने बड़ा मान-सम्मान दिया। सिर-माथे पर बिठाया, लेकिन अब वो लगातार सियासी टिप्पणियाँ करने का काम कर रहे हैं और सियासत में भी मजहबी रंग बोलने का काम कर रहे हैं।”

उन्होंने कहा, ”उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के दोबारा चुने जाने पर मुनव्वर राना जिस तरह से प्रदेश छोड़ने की बात कर रहे हैं। अब उन्हें दूसरे राज्य में मकान खोज लेना चाहिए, क्योंकि 2022 में योगी की वापसी होने जा रही है।”

बता दें कि बीते दिनों उत्तर प्रदेश एटीएस ने अलकायदा के दो आतंकियों को गिरफ्तार किया था। इसको लेकर उन्होंने नवभारत टाइम्स से बात करते हुए इन आतंकियों पर कार्रवाई को चुनावी बताते हुए कहा था कि यह कुछ और नहीं है बल्कि चुनाव की तैयारी में टूथब्रश का इस्तेमाल है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

30+ FIR, मुख़्तार अंसारी से गैंगवार, पलट जाते थे गवाह: कभी दाऊद का करीबी था MLC बृजेश सिंह, योगी राज में काट रहा जेल

बृजेश के आपराधिक जीवन की शुरुआत अपने पिता की मौत का बदला लेने से हुई थी। 1984 में हुई इस घटना के बाद उसने 6-7 लोगों को लगातार दो साल में मारा था।

‘नसरूल अंकल ने अपनी सू-सू मेरी सू-सू में डाला’: 4 साल की बच्ची की आपबीती, पुलिस पर पीड़ित परिवार की पिटाई के आरोप

नसरूल पर दिल्ली में 4 साल की लड़की से रेप का आरोप। पीड़ित परिवार का कहना है कि पुलिस ने उन्हें पीटा। गीता कॉलोनी का मामला। ग्राउंड रिपोर्ट।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,899FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe