Wednesday, April 24, 2024
Homeदेश-समाज'मुसलमान पैदा करते हैं 8 बच्चे, क्योंकि वो डरते हैं कि 2 को मार...

‘मुसलमान पैदा करते हैं 8 बच्चे, क्योंकि वो डरते हैं कि 2 को मार दिया जाएगा, 2 मरेगा…’ – मुनव्वर राना

''मुसलमान 8 बच्चे इसलिए पैदा करते हैं, क्योंकि उनको डर है कि उनके 2 बच्चों को आतंकवादी बना के मार दिया जाएगा, 2 कोरोना वायरस से मर जाएँगे। 4 अम्मी-अब्बू की लाश को कब्र तक पहुँचाने के लिए तो जिंदा रहेंगे।''

विवादित उर्दू शायर मुनव्वर राना इन दिनों एक के बाद एक विवादित बयान देकर फिर से विवादों में हैं। उत्तर प्रदेश में CM योगी की वापसी पर प्रदेश छोड़ने वाले बयान के बाद अब उन्होंने एक और बड़ा बयान दिया है। मुनव्वर राना ने रविवार (18 जुलाई 2021) को कहा, ”मुसलमान 8 बच्चे इसलिए पैदा करते हैं, क्योंकि उनको डर है कि उनके 2 बच्चों को आतंकवादी बना के मार दिया जाएगा और दो कोरोना वायरस से मर जाएँगे। वहीं 4 अम्मी-अब्बू की लाश को कब्र तक पहुँचाने के लिए तो जिंदा रहेंगे।”

उन्होंने आगे कहा, ”गरीब लड़कों को आतंकवादी बताया जा रहा है और मामूली से प्रेशर कुकर को बम। मुझे डर सता रहा है कि मैं भी पाकिस्तान मुशायरे के लिए जाता रहता हूँ और पिछले दिनों प्रेशर कुकर खरीद कर लाया हूँ। तो कहीं एटीएस मुझे भी आतंकी और तालिबानी समझकर ना उठा ले जाएँ।”

गौरतलब है कि भाजपा ने आज (18 जुलाई) मुनव्वर राना को यूपी में योगी की वापसी पर प्रदेश छोड़ने वाले बयान पर करारा जवाब दिया है। भाजपा प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा, ”मुनव्वर राना को इस देश ने, प्रदेश ने बड़ा मान-सम्मान दिया। सिर-माथे पर बिठाया, लेकिन अब वो लगातार सियासी टिप्पणियाँ करने का काम कर रहे हैं और सियासत में भी मजहबी रंग बोलने का काम कर रहे हैं।”

उन्होंने कहा, ”उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के दोबारा चुने जाने पर मुनव्वर राना जिस तरह से प्रदेश छोड़ने की बात कर रहे हैं। अब उन्हें दूसरे राज्य में मकान खोज लेना चाहिए, क्योंकि 2022 में योगी की वापसी होने जा रही है।”

बता दें कि बीते दिनों उत्तर प्रदेश एटीएस ने अलकायदा के दो आतंकियों को गिरफ्तार किया था। इसको लेकर उन्होंने नवभारत टाइम्स से बात करते हुए इन आतंकियों पर कार्रवाई को चुनावी बताते हुए कहा था कि यह कुछ और नहीं है बल्कि चुनाव की तैयारी में टूथब्रश का इस्तेमाल है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कॉन्ग्रेसी दानिश अली ने बुलाए AAP , सपा, कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ता… सबकी आपसे में हो गई फैटम-फैट: लोग बोले- ये चलाएँगे सरकार!

इंडी गठबंधन द्वारा उतारे गए प्रत्याशी दानिश अली की जनसभा में कॉन्ग्रेस और आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता आपस में ही भिड़ गए।

‘उन्होंने 40 करोड़ लोगों को गरीबी से निकाला, लिबरल मीडिया ने उन्हें बदनाम किया’: JP मॉर्गन के CEO हुए PM मोदी के मुरीद, कहा...

अपनी बात आगे बढ़ाते हुए जेमी डिमन ने कहा, "हम भारत को क्लाइमेट, लेबर और अन्य मुद्दों पर 'ज्ञान' देते रहते हैं और बताते हैं कि उन्हें देश कैसे चलाना चाहिए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe