Tuesday, May 21, 2024
Homeदेश-समाजपोर्नोग्राफिक और अश्लील कंटेंट दिखाने पर अब NCW ने लिखा Twitter को पत्र, 1...

पोर्नोग्राफिक और अश्लील कंटेंट दिखाने पर अब NCW ने लिखा Twitter को पत्र, 1 हफ्ते में हटाने को कहा

आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने ट्विटर के मैनेजिंग डायरेक्ट को पत्र लिखकर तत्काल प्रभाव से ऐसे पोर्नोग्राफिक कंटेंट को प्लेटफॉर्म से हटाने को बोला है। उन्होंने ट्विटर को कार्रवाई करने के लिए 1 हफ्ते का समय दिया है।

भारत सरकार के साथ चल रहे विवाद के बाद से ट्विटर की परेशानियाँ बढ़ती जा रही हैं। राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के बाद राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी प्लेटफॉर्म पर पोर्नोग्राफिक और अश्लील कंटेंट दिखाने वाले मामले पर संज्ञान लिया है। आयोग ने इस मामले में एक माह के भीतर कार्रवाई की माँग की है।

आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने ट्विटर के मैनेजिंग डायरेक्ट को पत्र लिखकर तत्काल प्रभाव से ऐसे पोर्नोग्राफिक कंटेंट को प्लेटफॉर्म से हटाने को बोला है। उन्होंने ट्विटर को कार्रवाई करने के लिए 1 हफ्ते का समय दिया है। इसके अलावा रेखा शर्मा ने एक पत्र दिल्ली के पुलिस कमिश्नर को भी लिखा है। पत्र में उन्होंने मामले में उपयुक्त कार्रवाई करने की माँग की है।

प्रेस नोट (साभार: ANI)

प्रेस नोट में बताया गया है कि आयोग ने पहले भी ऐसी शिकायत मिलने पर ट्विटर का ध्यान इन पर दिलवाया था लेकिन कोई एक्शन नहीं लिया गया। अब आयोग इस बात से परेशान है कि ऐसे कंटेंट के बारे में पता होने के बावजूद ट्विटर ने उन्हें बैन नहीं किया जबकि ये न सिर्फ भारतीय कानून का उल्लंघन है बल्कि उनकी अपनी पॉलिसी के भी विरुद्ध है।

आयोग ने इस मामले में ट्विटर से कुछ प्रोफाइल की जानकारी साझा की है जहाँ पोर्नोग्राफिक कंटेंट शेयर हुआ और ट्विटर को निर्देश दिए हैं कि एक हफ्ते के भीतर ये सामग्री हट जानी चाहिए। प्लेटफॉर्म को ये निर्देश भी दिए गए हैं कि वह इस संबंध में हुई कार्रवाई के बारे में आयोग को बताएँ।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग की शिकायत पर दिल्ली पुलिस ने ट्विटर के खिलाफ केस दर्ज किया था। आयोग ने कहा था कि उनको नाबालिग लड़की को ऑनलाइन धमकी दिए जाने की शिकायत मिली है। इसके अलावा उनको ट्विटर पर पोर्नोग्राफिक मैटीरियल भी मिला है। दिल्ली पुलिस बुधवार को दर्ज किए केस में अपनी जाँच आगे बढ़ा रही है। उधर, ट्विटर ने इस शिकायत के बाद कहा कि पोर्नोग्राफिक कंटेंट को लेकर उनकी जीरो टॉलरेंस पॉलिसी है।

बता दें कि इससे पहले NCPCR ने ये मामला उठाते हुए 29 जून 2021 को दिल्ली पुलिस के साइबर क्राइम डिपार्टमेंट के डीसीपी को पेश होने का आदेश दिया था। इसके साथ ही ट्विटर के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने को कहा था। आयोग ने दिल्ली पुलिस के डीसीपी अन्येश रॉय से पूछा था कि पिछले महीने 29 मई 2021 को पत्र लिखने के बाद भी ट्विटर के खिलाफ कोई एक्शन क्यों नहीं लिया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों का कहर जारी: हिंदुओं और बौद्धों के जलाए गए 5000 घर, आँखों के सामने सब कुछ लूटा

म्यांमार में सैन्य नेतृत्व वाले जुंटा और जातीय विद्रोही समूहों के बीच चल रही झड़पों से पैदा हुए तनाव में हिंदुओं और बौद्धों के 5000 घरों को जला दिया गया।

कॉन्ग्रेस और उसके साथियों ने पीढ़ियाँ बर्बाद की, अम्बेडकर नहीं होते तो नेहरू नहीं देते SC/ST को आरक्षण: चम्पारण में बोले पीएम मोदी

पीएम मोदी ने बिहार के चम्पारण में एक रैली को संबोधित किया। यहाँ उन्होंने राजद के जंगलराज और कॉन्ग्रेस पर विकास ना करने को लेकर हमला बोला।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -