Thursday, April 25, 2024
Homeदेश-समाजजुमे की नमाज के बाद प्रदर्शन, पथराव: दिल्ली की जामा मस्जिद से लेकर सहारनपुर...

जुमे की नमाज के बाद प्रदर्शन, पथराव: दिल्ली की जामा मस्जिद से लेकर सहारनपुर तक नूपुर शर्मा-नवीन जिंदल के खिलाफ लगे नारे, देखिए Video

यूपी के देवबंद, लखनऊ, मुरादाबाद, प्रयागराज, कानपुर सहित कई शहरों में भी जुमे की नमाज के बाद नारेबाजी की गई। हालाँकि, देवबंद में पुलिस ने हंगामा कर रहे कई नमाजियों को हिरासत में ले लिया। वहीं, पश्चिम बंगाल के कोलकाता सहित कुछ अन्य शहरों और तेलंगाना के हैदराबाद में भी प्रदर्शन की खबरें हैं।

इस्लामिक देशों की प्रतिक्रिया के बाद देश के कट्टरपंथी दबाव की राजनीति पर काम करते हुए जगह-जगह प्रदर्शन के नाम पर उकसाने और हिंसा भड़काने के काम में लग हैं। कथित ईशनिंदा के नाम पर दिल्ली से लेकर बंगाल और कर्नाटक तक विरोध प्रदर्शन किए जा रहे हैं और भाजपा की पूर्व नेता नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल की गिरफ्तारी और फाँसी की माँग करते हुए सरकार पर दवाब बनाया जा रहा है।

दरअसल, कट्टरपंथियों ने टीवी पर बहस के दौरान हिंदू देवी-देवताओं के लिए इस्तेमाल की जा रही अपमानजनक भाषा के विरोध में भाजपा की पूर्व नेता नूपुर शर्मा द्वारा बोले गए सच को इन अपने मतलब का मुद्दा बना दिया। हालाँकि, सच बोलने के बावजूद भी नूपुर शर्मा ने माफी माँगी और पार्टी ने भी उन्हें बाहर किया, फिर भी देश के अलग-अलग हिस्सों में इसका विरोध प्रदर्शन के नाम पर दंगा भड़काने की कोशिश की जा रही है।

शुक्रवार (10 जून 2022) को जुमे की नमाज के बाद दिल्ली की जामा मस्जिद में पहुँचे हजारों नमाजियों ने विरोध प्रदर्शन किया और पूर्व भाजपा नेता के लिए फाँसी की माँग की। इस दौरान अल्लाह-हू-अकबर और नूपुर शर्मा मुर्दाबाद और नवीन जिंदल मुर्दाबाद के नारे लगाए गए।

शाही इमाम का कहना है, “हम नहीं जानते हैं कि कौन लोग प्रदर्शन कर रहे हैं। मुझे ऐसा लगता है कि ये लोग ओवैसी और उनकी पार्टी AIMIM से जुड़े लोग हैं। हमने पहले ही कह दिया था कि अगर वे प्रदर्शन करना चाहते हैं तो वे कर सकते हैं, लेकिन हम उनका समर्थन नहीं करेंगे।”

इमाम के बयान के बयान से स्पष्ट है कि उन्होंने प्रदर्शन की इजाजत तो दे दी, लेकिन गड़बड़ी होने की दशा में खुद को कानून के पंजे से बचाने के लिए यह कहते हुए अलग कर लिया कि वे इस प्रदर्शन का समर्थन नहीं करेंगे, लेकिन प्रदर्शनकारी चाहें तो प्रदर्शन कर सकते हैं।

बता दें कि इसको लेकर ट्विटर और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर भड़काऊ पोस्ट डालकर समुदायों के बीच द्वेष फैलाने का सिलसिला जारी है। इसको ध्यान में रखते हुए दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने दो अलग-अलग प्राथमिकी (FIR) दर्ज की है। 

वहीं, कर्नाटक (Karnataka) में एक दरगाह के पास रस्सी से एक मानव आकृति के गले में फंदा डालकर लगाया गया है। उस पर नूपुर शर्मा की तस्वीर लगाई गई है। यह घटना बताती है कि कट्टरपंथी नूपुर शर्मा की हत्या के लिए मुस्लिमों को उकसा रहे हैं।

दिल्ली के अलावा, उत्तर प्रदेश के सहारनपुर (Saharanpur, Uttar Pradesh) में भी मुस्लिमों की भीड़ ने नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल के खिलाफ प्रदर्शन की। इस दौरान हजारों की भीड़ उकसाऊ नारे लगाती रही। दिल्ली के जामिया मिल्लिया यूनिवर्सिटी में भी प्रदर्शन किया गया।

सहारनपुर के नवाबगंज में जुमे की नमाज के बाद मुस्लिमों ने जुलूस निकाला। नवाबगंज से घंटाघर तक निकाले गए जुलूस जमकर भड़काऊ नारे लगाए गए। इसके बाद लौटती हुई जुलूस की भीड़ ने नेहरू मार्किट में खुली दुकानों पर जमकर पथराव किया। इसके बाद इलाके की दुकानें धड़ाधड़ बंद हो गईं। 

यूपी के देवबंद, लखनऊ, मुरादाबाद, प्रयागराज, कानपुर सहित कई शहरों में भी जुमे की नमाज के बाद नारेबाजी की गई। हालाँकि, देवबंद में पुलिस ने हंगामा कर रहे कई नमाजियों को हिरासत में ले लिया। वहीं, पश्चिम बंगाल के कोलकाता सहित कुछ अन्य शहरों और तेलंगाना के हैदराबाद में भी प्रदर्शन की खबरें आ रही हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कॉन्ग्रेस ही लेकर आई थी कर्नाटक में मुस्लिम आरक्षण, BJP ने खत्म किया तो दोबारा ले आए: जानिए वो इतिहास, जिसे देवगौड़ा सरकार की...

कॉन्ग्रेस का प्रचार तंत्र फैला रहा है कि मुस्लिम आरक्षण देवगौड़ा सरकार लाई थी लेकिन सच यह है कि कॉन्ग्रेस ही इसे 30 साल पहले लेकर आई थी।

मुंबई के मशहूर सोमैया स्कूल की प्रिंसिपल परवीन शेख को हिंदुओं से नफरत, PM मोदी की तुलना कुत्ते से… पसंद है हमास और इस्लामी...

परवीन शेख मुंबई के मशहूर स्कूल द सोमैया स्कूल की प्रिंसिपल हैं। ये स्कूल मुंबई के घाटकोपर-ईस्ट इलाके में आने वाले विद्या विहार में स्थित है। परवीन शेख 12 साल से स्कूल से जुड़ी हुई हैं, जिनमें से 7 साल वो बतौर प्रिंसिपल काम कर चुकी हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe