Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाजउन्नाव में छत से लटकती मिली नर्स की लाश: परिवार ने रेप-हत्या का लगाया...

उन्नाव में छत से लटकती मिली नर्स की लाश: परिवार ने रेप-हत्या का लगाया आरोप, पुलिस का इनकार, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट भी आई

आज मामले में खुलासा करते हुए उन्नाव के एडिशनल एसपी शशि शेखर ने रेप और हत्या से इनकार किया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट का हवाला देते हुए उन्होंने मौत का कारण हैंगिंग अर्थात लटकना बताया।

उत्तर प्रदेश के उन्नाव (Unnao, Uttar Pradesh) में एक निजी अस्पताल में 18 वर्षीया नर्स के साथ नौकरी के पहले ही दिन गैंगरेप करने के बाद हत्या का मामला झूठा निकला है। नर्स का शव शनिवार (30 अप्रैल 2022) को अस्पताल की छत से लटका हुआ मिला। इस मामले में जहाँ मामला दर्ज कर एक व्यक्ति को हिरासत में लिया गया था। वहीं आज (1 मई, 2022) मामले में खुलासा करते हुए उन्नाव के एडिशनल एसपी शशि शेखर सिंह ने रेप और हत्या से इनकार किया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट का हवाला देते हुए उन्होंने मौत का कारण हैंगिंग अर्थात लटकना बताया।

बता दें कि घटना जिले के बांगरमऊ कोतवाली के दुल्लापुरवा गाँव की है। यहाँ हरदोई-उन्नाव मार्ग पर पाँच दिन पहले यानी 25 अप्रैल को न्यू जीवन अस्पताल नाम से एक निजी हॉस्पिटल खोला गया था। इस अस्पताल में आसीवन थाने के एक गाँव की युवती ने नर्स के रूप में शुक्रवार (29 अप्रैल 2022) को काम शुरू किया था। इसके पहले वह सफीपुर के एक अस्पताल में वह लगभग डेढ़ साल से नर्स के रूप में काम कर रही थी।

शुक्रवार को युवती की नौकरी का पहला दिन था। बताया जा रहा है कि उस दिन रात होने पर अस्पताल के संचालक नूर आलम ने युवती को अस्पताल में ही रुकने के लिए कहा। इसके बाद शुरूआती दौर में रात में नूर आलम सहित तीन लोगों द्वारा उसके साथ रेप करने की खबर सामने आई थी। कहा जा रहा था कि रेप करने के बाद आरोपितों ने नर्स के गले में रस्सी बाँधकर छत से नीचे लटका दिया। जिसे अब पुलिस ने ख़ारिज करते हुए मौत का कारण छत से लटकना बताया है। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में रेप या गैंगरेप की पुष्टि नहीं हुई है।

गौरतलब है कि अगले दिन युवती की छत से लटकी लाश को देखकर लोगों में हड़कंप मच गया। इसके बाद लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके पर पहुँचकर शव को नीचे उतारा। युवती के मुँह पर मास्क लगा था और उसके हाथ में एक रुमाल था। युवती अस्पताल के पास में ही किराए का कमरा लेकर रहती थी।

इस मामले में लड़की के परिजनों ने अस्पताल के संचालक नूर आलम और चांद आलम सहित तीन लोगों के खिलाफ रेप और हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। उन्नाव के ASP शशि शेखर सिंह ने बताया था कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। आरोपितों की तलाश की जा रही है। वहीं अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर गैंगरेप के आरोपों को नकार दिया गया है।

नोट: यह खबर उन्नाव पुलिस के पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अपडेट के आधार पर नई सूचनाओं को ध्यान में रखते हुए अपडेट की गई है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पश्चिम बंगाल में 2010 के बाद जारी हुए हैं जितने भी OBC सर्टिफिकेट, सभी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने कर दिया रद्द : ममता...

कलकत्ता हाई कोर्ट ने बुधवार 22 मई 2024 को पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार को बड़ा झटका दिया। हाईकोर्ट ने 2010 के बाद से अब तक जारी किए गए करीब 5 लाख ओबीसी सर्टिफिकेट रद्द कर दिए हैं।

महाभारत, चाणक्य, मराठा, संत तिरुवल्लुवर… सबसे सीखेगी भारतीय सेना, प्राचीन ज्ञान से समृद्ध होगा भारत का रक्षा क्षेत्र: जानिए क्या है ‘प्रोजेक्ट उद्भव’

न सिर्फ वेदों-पुराणों, बल्कि कामंदकीय नीतिसार और तमिल संत तिरुवल्लुवर के तिरुक्कुरल का भी अध्ययन किया जाएगा। भारतीय जवान सीखेंगे रणनीतियाँ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -