Thursday, June 20, 2024
Homeदेश-समाजAmazon पर बिक रही थी राधा-कृष्ण की अश्लील पेंटिंग, दोनों को दिखाया नग्न: विरोध...

Amazon पर बिक रही थी राधा-कृष्ण की अश्लील पेंटिंग, दोनों को दिखाया नग्न: विरोध के बाद चुपचाप हटाया, लोग बोले – माफ़ी माँगो

इस सम्बन्ध में 'हिन्दू जनजागृति समिति' ने कार्रवाई की माँग की है, जिसके बाद लोगों ने भी Amazon के विरोध में ट्वीट्स किए। संगठन ने बेंगलुरु के सुब्रमण्या नगर पुलिस थाने में ऑनलाइन रिटेल जायंट के खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई है।

भगवान श्रीकृष्ण और राधे रानी की अश्लील पेंटिंग बेचने वाला Amazon बॉयकॉट ट्रेंड के बाद बैकफुट पर आ गया है और उसने उस पेंटिंग को हटा दिया गया है। हालाँकि, इसके बाद भी लोगों का गुस्सा थमने का नाम नहीं ले रहा है। ‘हिन्दू जाग्रति ऑर्गेनाइजेशन’ ने इसे हिन्दुओं की जीत करार दिया है। Amazon ने विरोध के बाद भले ही चुपचाप इसे हटा दिया हो, लेकिन कंपनी की तरफ से अब तक इस पर किसी प्रकार की माफ़ी नहीं माँगी गई है।

इस सम्बन्ध में ‘हिन्दू जनजागृति समिति’ ने कार्रवाई की माँग की है, जिसके बाद लोगों ने भी Amazon के विरोध में ट्वीट्स किए। संगठन ने बेंगलुरु के सुब्रमण्या नगर पुलिस थाने में ऑनलाइन रिटेल जायंट के खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई है। मेमोरेंडम में कार्रवाई की माँग की गई है। इस पेंटिंग को ‘Exotic India’ की वेबसाइट पर भी बेचा जा रहा था। अजीब बात ये है कि ये ‘जन्माष्टमी सेल’ के तहत बेचा जा रहा था। Amazon पर इसे बेंगलुरु का ‘Inkologie’ नामक विक्रेता बेच रहा था।

विरोध के बाद Amazon और ‘Exotic India’, दोनों ने ही इस पेंटिंग को साइट पर से हटा दिया गया है। लोगों ने Amazon के विरोध में हैशटैग भी चलाया। ‘Exotic India Art’ ने अपने बयान में कहा, “ये हमारे संज्ञान में लाया गया है कि एक आपत्तिजनक तस्वीर को हमारी वेबसाइट पर अपलोड किया गया है। हमने तुरंत ही इसे हटा दिया है। हम गंभीरता से माफ़ी माँगते हैं। कृपया हमारा बॉयकॉट न करें। हरे कृष्णा!”

हिन्दू संगठन ने इसके लिए संस्था का धन्यवाद देते हुए कहा है कि उसने तुरंत कार्रवाई की। साथ ही सलाह दी कि साइट पर उपलब्ध ऐसे अन्य आइटम्स को भी हटाया जाए और अच्छे से जाँच की जाए। जिस पेंटिंग को लेकर विवाद हुआ है, उसमें भगवान श्रीकृष्ण और राधे रानी को नग्न और आपत्तिजनक अवस्था में दिखाया गया है। हिन्दुओं ने कहा कि पूर्ण रूप से बहिष्कार ही इसका उपाय है, क्योंकि जब तक आर्थिक मार नहीं पड़ेगी तब तक हिन्दू विरोधी कंटेंट्स वाले नहीं सुधरेंगे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

14 फसलों पर MSP की बढ़ोतरी, पवन ऊर्जा परियोजना, वाराणसी एयरपोर्ट का विस्तार, पालघर का पोर्ट होगा दुनिया के टॉप 10 में: मोदी कैबिनेट...

पालघर के वधावन पोर्ट की क्षमता अब 298 मिलियन टन यूनिट की जाएगी। इससे भारत-मिडिल ईस्ट कॉरिडोर भी मजबूत होगा। 9 कंटेनर टर्मिनल होंगे।

किताब से बहती नदी, शरीर से उड़ते फूल और खून बना दूध… नालंदा की तबाही का दोष हिन्दुओं को देने वाले वामपंथी इतिहासकारों का...

बख्तियार खिजली को क्लीन-चिट देने के लिए और बौद्धों को सनातन से अलग दिखाने के लिए वामपंथी इतिहासकारों ने नालंदा विश्वविद्यालय को तबाह किए जाने का दोष हिन्दुओं पर ही मढ़ दिया। इसके लिए उन्होंने तिब्बत की एक किताब का सहारा लिया, जो इस घटना के 500 साल बाद लिखी गई थी और जिसमें चमत्कार भरे पड़े थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -