Thursday, June 13, 2024
Homeदेश-समाजकानून तोड़ने वालों को नहीं होगा संक्रमण, सिर्फ़ लगेगी चोट: सैनिटाइज्ड लाठियों से पिटाई...

कानून तोड़ने वालों को नहीं होगा संक्रमण, सिर्फ़ लगेगी चोट: सैनिटाइज्ड लाठियों से पिटाई करेगी हरियाणा पुलिस

अब तक कहावत ये चलती थी कि लाठी को तेल पिलाने से ज्यादा चोट लगती है लेकिन अब लाठियों को सैनिटाइजर पिलाया जा रहा है। आईपीएस अधिकारी पंकज ने बताया कि पुलिस 'फुल तैयारी' में है।

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बाद लगभग पूरे भारत में लॉकडाउन की घोषणा विभिन्न राज्य सरकारों द्वारा कर दी गई है। लेकिन, कई लोग फिर भी सरकार की सलाहों व आदेश का उल्लंघन कर रहे हैं। ऐसे में हरियाणा में भी स्थिति ठीक नहीं है। वहाँ भी लोगों से लगातार अपील की जा रही है कि वो लॉकडाउन का पालन करें लेकिन कई लोग घरों से निकल रहे हैं। ऐसे में पुलिस अब सख्ती से कार्रवाई करने में जुट गई है। लाठियों को सैनिटाइज किया जा रहा है ताकि क़ानून तोड़ने वालों की पिटाई की जा सके।

हरियाणा में ‘सिक्योरिटी एंड साइबर क्राइम’ के एसपी पंकज नैन ने एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें पुलिस बल अपनी लाठियों पर सैनिटाइजर छिड़कते दिख रहे हैं। चूँकि इन लाठियों का इस्तेमाल सख्ती के लिए किया जाना है, ऐसे में पुलिसवालों का और साथ ही जिनकी पिटाई होगी, उनका भी सुरक्षित रहना ज़रूरी है, इसीलिए पुलिस लाठियों को सैनिटाइज कर रही है। नीचे संलग्न किए गए वीडियो में आप देख सकते हैं कैसे लाठियों पर सैनिटाइजर का इस्तेमाल किया जा रहा है:

अब तक कहावत ये चलती थी कि लाठी को तेल पिलाने से ज्यादा चोट लगती है लेकिन अब लाठियों को सैनिटाइजर पिलाया जा रहा है। आईपीएस अधिकारी पंकज ने बताया कि पुलिस ‘फुल तैयारी’ में है। जहाँ तक हरियाणा सरकार की बात है, वो किसानों के लिए एक बड़ी घोषणा का खाका तैयार करने में लगी हुई है। ‘मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना’ के 12.38 लाख लाभार्थियों के खाते में 2000 रुपए 31 मार्च तक भेज दिए जाएँगे। प्रत्येक को 4000 रुपए पहले ही दिए जा चुके हैं। सरकार ने विभिन्न कारोबारियों और व्यवाप्रियों से भी इसके लिए मदद माँगी है।

कई प्रदेशों में पुलिस कोरोना वायरस के खतरों को दरकिनार कर बिना मतलब घर से बाहर निकलने वालों पर कार्रवाई कर रही है। उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और हरियाणा में पुलिस ने ऐसे लोगों को एक पर्ची थमा पर उनकी फोटो खिंचवाई। उन पर्ची पर लिखा होता है- “मैं समाज का दुश्मन हूँ। मैं कोरोना वायरस का दोस्त हूँ। मैं सरकार की सलाह नहीं मानूँगा। मैं घर में नहीं रहूँगा।” प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी चिंता जताई थी कि लॉकडाउन का सख्ती से पालन नहीं किया जा रहा है, ऐसे में विभिन्न राज्य सरकारें इस दिशा में काम करें।

शाहीन बाग में फिर इकट्ठा हुई ‘जाहिलों’ की भीड़, लोगों ने कहा- ‘तंबू उखाड़ना काफी नहीं, इन्हें बंबू भी चाहिए’

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेता खाएँ मलाई इसलिए कॉन्ग्रेस के साथ AAP, पानी के लिए तरसते आम आदमी को दोनों ने दिखाया ठेंगा: दिल्ली जल संकट में हिमाचल...

दिल्ली सरकार ने कहा है कि टैंकर माफिया तो यमुना के उस पार यानी हरियाणा से ऑपरेट करते हैं, वो दिल्ली सरकार का इलाका ही नहीं है।

पापुआ न्यू गिनी में चली गई 2000 लोगों की जान, भारत ने भेजी करोड़ों की राहत (पानी, भोजन, दवा सब कुछ) सामग्री

प्राकृतिक आपदा के कारण संसाधनों की कमी से जूझ रहे पापुआ न्यू गिनी के एंगा प्रांत को भारत ने बुनियादी जरूरतों के सामान भेजे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -