Monday, July 4, 2022
Homeदेश-समाज'जुमे पर जो रोके उस पर करो हमला': प्रयागराज वाले जावेद पंप के घर...

‘जुमे पर जो रोके उस पर करो हमला’: प्रयागराज वाले जावेद पंप के घर से मिला पर्चा, फरार दंगाइयों ने सरेंडर नहीं किया तो घर की होगी कुर्की

"जो लोग फरार है उनकी पुलिस तलाश कर रही है। यदि वे जल्द से जल्द पुलिस या अदालत के सामने हाजिर नहीं होते तो वारंट जारी किया जाएगा। साथ ही उनके घरों की कुर्की भी करवाई जाएगी।"

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में 10 जून 2022 को जुमे पर हुई हिंसा के सुनियोजित होने को लेकर पुलिस को तगड़ा सुराग हाथ लगा है। रिपोर्टों के अनुसार हिंसा के मास्टरमाइंड जावेद पंप के घर से एक पर्चा मिला है। इसमें कथित तौर पर अटाला में बड़ी संख्या में जुटने और रास्ते में बाधक बनने वाले लोगों पर हमला करने की बात कही गई है।

रिपोर्ट के अनुसार पंप की घर की तलाशी के दौरान यह पर्चा मिला था। पर्चे को जाँच के लिए पुलिस ने सीज कर दिया है। SSP प्रयागराज अजय कुमार के मुताबिक, “जावेद पंप के घर से आधे पेज के कुछ फ़टे पर्चे में काफी आत्तिजनक बातें लिखी हुई हैं। हम जाँच कर रहे हैं कि कितने पर्चे किसको और कहाँ बाँटे गए हैं।” अमर उजाला के अनुसार इस पर्चे पर लिखा था, “सुनो साथियों, जुमे के दिन में दो बजे हम सबको मिलजुलकर अटाला पहुँचना होगा। जो भी अड़चन बनेगा, उस पर वार करना होगा। बाकी बातें हम मिलकर समझाएँगे। हमें अदालत पर भरोसा नहीं है।”

गौरतलब है कि जावेद पंप का करेली स्थित घर प्रयागराज विकास प्राधिकरण (पीडीए) ने 12 जून को बुलडोजर से ढहा दिया था। उससे पहले पंप के घर से अवैध हथियार और अरबी व पाकिस्तानी इस्लामी साहित्य बरामद होने की बात भी सामने आई थी। हालाँकि जावेद पंप की बेटी सुमैया ने पर्चे की बरामदगी को झूठ बताया है। उसने कहा है कि ये मेरे अब्बा को फँसाने की साजिश है और अगर कोई पर्चा मिला था उसी दिन क्यों नहीं बताया गया।

सरेंडर नहीं करने पर घर होंगे कुर्क

प्रयागराज SSP अजय कुमार ने जुमे की नमाज़ के बाद भड़की हिंसा के फरार आरोपितों जल्द से जल्द सरेंडर करने की चेतावनी दी है। उन्होंने कहा, “10 जून को हुई घटना में 29 गंभीर धाराओं में केस दर्ज हुआ है। अब तक 92 लोग न्यायिक अभिरक्षा में भेजे जा चुके हैं। इसके अलावा लगभग 40 लोग बाद में जाँच के दौरान प्रकाश में आए हैं। वे अपने घरों को बंद कर फरार हैं। उनकी पुलिस तलाश कर रही है। यदि वे जल्द से जल्द पुलिस या अदालत के सामने हाजिर नहीं हुए तो उनके खिलाफ वारंट जारी किया जाएगा। साथ ही उनके घरों की कुर्की भी करवाई जाएगी।”

प्रयागराज पुलिस ने आरोपितों के पोस्टर छपवा कर सार्वजानिक स्थलों पर भी चिपकवा दिए हैं।

गौरतलब है कि प्रयागराज विकास प्राधिकरण (PDA) पथराव और हिंसा में शामिल 37 आरोपितों के बारे में भी जानकारी जुटा रहा है। यदि उनके मकान में नियमों की अनियमितता मिली वहाँ भी बुलडोजर चल सकता है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

AG के पास पहुँचा TMC वाला साकेत गोखले, हमारे खिलाफ चलाना चाहता है अदालत की अवमानना का मामला: हम अपने शब्दों पर अब भी...

ऑपइंडिया की एडिटर नुपूर शर्मा के लेख की शिकायत लेकर टीएमसी नेता साकेत गोखले अटॉर्नी जनरल के पास गए हैं ताकि अदालत की अवमानना का केस चलवा सकें।

‘शौच करने गई थी, मोहम्मद जाकिर हुसैन सर पीछे-पीछे आ गए’: मिडिल स्कूल में शिक्षक ने नाबालिग छात्रा से की छेड़खानी, हुआ गिरफ्तार

बिहार के सुपौल में शिक्षक जाकिर हुसैन ने 7वीं कक्षा की लड़की के साथ छेड़छाड़ किया। परिजनों ने थाने में दर्ज कराया मामला। आरोपित गिरफ्तार।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
203,064FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe