Monday, July 26, 2021
Homeदेश-समाजहाथरस की मृतका के पिता का प्रियंका गाँधी ने शेयर किया विवादित वीडियो, पीछे...

हाथरस की मृतका के पिता का प्रियंका गाँधी ने शेयर किया विवादित वीडियो, पीछे से आ रही आवाज- CBI जाँच

'बेफिटिंग फैक्ट्स' ने लिखा है - "00:36 पर कैमरामैन पीड़ित के पिता को लगातार गाइड करते हुए उन्हें ये कहने को कह रहा है - 'सीबीआई जाँच होनी चाहिए, दबाव बना के किया, घर में कैद कर दिया।"

उत्तर प्रदेश के हाथरस में सामूहिक दुष्कर्म का राजनीतिकरण करने का फैसला कुछ प्रमुख राजनीतिक दल कर चुके हैं। इसमें सबसे आगे कॉन्ग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी और उनकी बहन प्रियंका गाँधी वाड्रा सबसे आगे नजर आ रहे हैं।

कॉन्ग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी वाड्रा, जो कि अपने भाई राहुल गाँधी के साथ आज पीड़िता के परिवार से मुलाकात करने के लिए दिल्ली से रवाना हुए हैं, ट्विटर पर लगातार योगी सरकार पर आरोप लगा रही हैं।

प्रियंका गाँधी ने मृतका के पिता का एक ऐसा विवादित वीडियो शेयर किया है जिसमें उन्हें सीखा रहे कैमरामैन को आसानी से सुना जा सकता है। इस कारण प्रियंका गाँधी द्वारा ट्वीट किया गया यह वीडियो सोशल मीडिया पर विवाद का विषय बन चुका है।

प्रियंका गाँधी ने मृतका के पिता का एक वीडियो ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा है – “हाथरस की बेटी के पिता का बयान सुनिए। उन्हें जबरदस्ती ले जाया गया। सीएम से वीसी के नाम पर बस दबाव डाला गया। वो जाँच की कार्रवाई से संतुष्ट नहीं हैं। अभी पूरे परिवार को नजरबंद रखा है। बात करने पर मना है। क्या धमकाकर उन्हें चुप कराना चाहती है सरकार? अन्याय पर अन्याय हो रहा है।”

लेकिन इसी एक मिनट के वीडियो में देखा और सुना जा सकता है कि युवती के पिता को कैमरामैन कुछ शब्द सिखा रहा है। ‘बेफिटिंग फैक्ट्स’ नाम के ट्विटर अकाउंट ने प्रियंका गाँधी को ये वीडियो शेयर करने पर फटकार लगाते हुए लिखा है, “डिस्गस्टिंग! प्रियंका गाँधी, आपको वीडियो अपलोड करने से पहले वीडियो की जाँच करनी चाहिए थी। 00:36 पर हम कैमरामैन को ‘सीबीआई जाँच होनी चाहिए’ बोलते हुए सुन सकते हैं।”

‘बेफिटिंग फैक्ट्स’ ने लिखा है – “00:36 पर कैमरामैन पीड़ित के पिता को लगातार गाइड करते हुए उन्हें ये कहने को कह रहा है – ‘सीबीआई जाँच होनी चाहिए, दबाव बना के किया, घर में कैद कर दिया।”

प्रियंका गाँधी और राहुल गाँधी एक बड़ा काफीला लेकर पीड़ित परिवार से मिलने निकले हैं जिस कारण हाइवे पर लंबा जाम लग गया है। कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं की संख्या अधिक होने से यूपी पुलिस इस काफिले को दिल्ली वापस नहीं कर पाई। हाथरस के जिलाधिकारी का कहना है कि जिले की सीमाएँ सील हैं और धारा 144 लागू कर दी गई है।

उल्लेखनीय है कि गत 14 सितंबर को उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले के चंदपा थाना क्षेत्र स्थित एक गाँव में 19 साल की एक दलित लड़की के साथ कथित तौर पर सामूहिक दुष्कर्म किया गया था। घटना के बाद पुलिस ने इस मामले में 4 आरोपितों को गिरफ्तार किया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,341FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe