Wednesday, July 24, 2024
Homeदेश-समाज3 बच्चों की माँ से जबरन निकाह करना चाहता था मुर्तजा, इनकार करने पर...

3 बच्चों की माँ से जबरन निकाह करना चाहता था मुर्तजा, इनकार करने पर सीने में चाकू घोंप मार डाला: राजस्थान की घटना, बर्थडे पार्टी से लौट रही थी महिला

मृत महिला की एक रिश्तेदार ने बताया कि मुर्तजा से चार साल पहले शहनाज ने पैसे उधार लिए थे। पैसे के बदले वह उससे दुर्व्यवहार करता था। निकाह के लिए दबाव बनाता था।

राजस्थान (Rajasthan) के बांसवाड़ा (Banswara) में एक सिरफिरे ने सोमवार (5 सितंबर 2022) की रात बर्थडे पार्टी से घर लौट रही महिला के सीने में चाकू घोंपकर उसकी हत्या कर दी। वह महिला पर कई दिनों से निकाह का दबाव बना रहा था। हत्या से कुछ दिन पहले उसने महिला से मारपीट भी की थी।

पुलिस ने बताया कि मुस्लिम कॉलोनी गली नंबर-6 की रहने वाली शहनाज अपनी भाभी के साथ रिश्तेदार की बर्थ डे पार्टी से घर लौट रही थी। तभी मुर्तजा ने रास्ते में उससे कुछ बात की और फिर उसके सीने में चाकू मार दिया। चाकू लगने के बाद शहनाज एक मकान के सामने गिर गई और आरोपित मौके से फरार हो गया। पुलिस जब घटनास्थल पर पहुँची तो वहाँ चारों और खून बिखरा था। शहनाज को जिला अस्पताल ले जाया गया, जहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, शहनाज तीन बच्चों की अम्मी थी। पहले शौहर से उसकी दो बेटियाँ हैं। ये रिश्ता ज्यादा नहीं चला। पहले शौहर को तलाक देने के बाद करीब सात साल पहले उसका दूसरा निकाह हुआ था, जिससे उसकी 1 बेटी है। वहीं, मुस्लिम कॉलोनी में गली नंबर-7 में रहने वाला मुर्तजा भी शादीशुदा था। लेकिन शहनाज से निकाह करने के लिए उसने अपनी बीवी को तलाक दे दिया। हत्यारा पेशे से ड्राइवर है।

मृतका की भतीजी फातेमा ने बताया कि मुर्तजा से चार साल पहले शहनाज ने उधार पैसे लिए थे। पैसे के बदले वह उससे दुर्व्यवहार करता था। उस पर निकाह के लिए दबाव बनाता था। घटना से चार दिन पहले ही मुर्तजा ने निकाह से इनकार करने पर शहनाज से मारपीट की थी। जाँच में सामने आया है कि मृतका ने बाजार से काफी कर्ज ले रखा था। ब्याजखोरों से उसने 20 से 30 प्रतिशत मासिक दर पर ब्याज से पैसे लिए थे। वह कर्ज नहीं चुका पा रही थी।

बताया जा रहा है कि वारदात के बाद मुर्तजा ने अपने दोस्तों को फोन किया था। उसने दोस्तों से कहा कि वह मर जाएगा, लेकिन पुलिस के हाथ नहीं आएगा। शहनाज ने उसे प्यार में धोखा दिया। उसने उसे इसकी सजा दी है। पुलिस आरोपित की तलाश कर रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -