Wednesday, August 4, 2021
Homeदेश-समाजराजस्थान: छबड़ा में सांप्रदायिक हिंसा, दुकानों को फूँका; पुलिस-दमकल सब पर पत्थरबाजी

राजस्थान: छबड़ा में सांप्रदायिक हिंसा, दुकानों को फूँका; पुलिस-दमकल सब पर पत्थरबाजी

हालात तब और बिगड़ गए जब उपद्रवियों ने पत्थरबाजी करते हुए आगजनी और लूटपाट की। कई दुकानों को फूँका गया। पुलिस और दमकल की गाड़ियों को भी निशाना बनाया गया।

राजस्थान के बारां जिले के छबड़ा में सांप्रदायिक हिसा के बाद कर्फ्यू लगा दिया गया गया है। फसाद की शुरुआत छबड़ा उपखंड मुख्यालय के धरनावदा चैराहे पर शनिवार शाम 10 अप्रैल 2021 की शाम चाकूबाजी की घटना से हुई।

रविवार (11 अप्रैल) को हालात तब और बिगड़ गए जब उपद्रवियों ने पत्थरबाजी करते हुए आगजनी और लूटपाट की। कई दुकानों को फूँका गया। पुलिस और दमकल की गाड़ियों को भी निशाना बनाया गया।

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक हालात पर काबू पाने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। आगजनी की घटना के बाद क्षेत्र की बिजली काट दी गई है। धारा 144 लागू कर दी गई है।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक शनिवार शाम धरनावदा चौराहे पर कमल सिंह ठेले से फल खरीद रहे थे। इसी दौरान उनकी फरीद, आबिद और समीर से कहासुनी हो गई। युवकों ने उन पर चाकू से हमला कर दिया। उन्हें बचाने दौड़े दुकानदार राकेश नागर पर भी हमला किया गया। घायलों को अस्पताल भेजकर पुलिस ने आरोपित तीनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया।

पत्रिका डॉटकॉम की रिपोर्ट के अनुसार विवाद की शुरुआत गाड़ी खड़ी करने को लेकर हुई।चाकूबाजी के बाद 35 साल के कमल सिंह और उन्हें बचाने आने राकेश धाकड़ को गंभीर हालत में हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया।

रिपोर्टों के अनुसार रविवार की सुबह चौराहे पर फिर से दोनों तरफ के लोगों का जुटान हुआ। लोग आपस में बातचीत कर ही रहे थे कि पत्थरबाजी शुरू हो गई। बाजार में भगदड़ मच गई। उपद्रवियों ने कई दुकानों को आग के हवाले कर समान लूट लिए। आग पर काबू करने पहुँची दमकल की गाड़ी को भी निशाना बनाया गया। फिलहाल हालात नियंत्रण में बताए जा रहे हैं। आसपास के थानों से भी पुलिस को मौके पर भेजा गया है। कोटा के आईजी भी घटनास्थल के लिए निकल गए हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पोस्टमॉर्टम से भी नहीं सुलझी दिल्ली में 9 साल की बच्ची की मौत का रहस्य: राहुल गाँधी पर पहचान सार्वजनिक करने का आरोप

दिल्ली के ओल्ड नांगल में 9 साल की बच्ची की संदेहास्पद हालत में मौत हो गई। आरोप है कि श्मशान घाट के भीतर रेप करने के बाद बच्ची को जला दिया गया।

‘धर्म में मेरा भरोसा, कर्म के अनुसार चाहता हूँ परिणाम’: कोरोना से लेकर जनसंख्या नियंत्रण तक, सब पर बोले CM योगी

सपा-बसपा को समाजिक सौहार्द्र के बारे में बात करने का कोई अधिकार नहीं है क्योंकि उनका इतिहास ही सामाजिक द्वेष फैलाने का रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,945FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe