Sunday, July 14, 2024
Homeदेश-समाजरात को जागरण के लिए निकले, सुबह मिली टूटी कार, चप्पल और कपड़े: राजस्थान...

रात को जागरण के लिए निकले, सुबह मिली टूटी कार, चप्पल और कपड़े: राजस्थान के जालौर से महंत पारस भारती को अज्ञात लोगों ने किया अगवा

घटना के बाद से लोगों में जबरदस्त आक्रोश है। महंत के अपहरण की घटना के बाद बड़ी संख्या में साधु-संतों ने सायला थाने में प्रदर्शन किया और जल्द से जल्द महंत पारस भारती को बचाने की माँग की।

राजस्थान (Rajasthan) के जालौर से दुधेश्वर महादेव मठ के महंत पारस भारती (Hindu Mahant Paras Bharti Kidnaped) का अपहरण किए जाने की घटना सामने आई है। महंत अपनी कार से जागरण के एक कार्यक्रम में जाने के लिए निकले थे। लेकिन रास्ते में वो कार से गायब हो गए। गुरुवार को उनकी कार में बदमाशों ने तोड़फोड़ भी की। वहीं महंत की कार के अंदर से उनके चप्पल और तौलिया मिली है।

रिपोर्ट के मुताबिक, जालौर जिले में वालेरा गाँव में दूधेश्वर महादेव का एक बड़ा धाम है और पारस भारती इसके महंत हैं। बताया जाता है कि महंत भारती गुरुवार की देर रात को जब कार्यक्रम में जाने के लिए निकले तो रास्ते में बदमाशों ने हथियारों के बल पर उनकी गाड़ी को रुकवाया और उसमें तोड़फोड़ कर उनका अपहरण कर लिया।

इस घटना को लेकर जिले के एसपी हर्षवर्धन अग्रवाल के मुताबिक, महंत रात 9 बजे अपनी कार से बाहर निकले थे। वो अकेले ही थे। शुक्रवार को तड़के उनकी कार वालेरा गाँव के पास काँखी रोड पर लावारिस हालत में मिली। गाड़ी का काँच बुरी तरह तोड़ दिया गया था और घटना स्थल पर ही महंत भारती के चप्पल और कपड़े बिखरे मिले थे। स्थानीय लोगों ने सबसे पहले गाड़ी को देखा, जिसके बाद उन्होंने इसकी जानकारी पुलिस को दी।

महंत के अपहरण पर आक्रोश

घटना के बाद से लोगों में जबरदस्त आक्रोश है। महंत के अपहरण की घटना के बाद बड़ी संख्या में साधु-संतों ने सायला थाने में प्रदर्शन किया और जल्द से जल्द महंत पारस भारती को बचाने की माँग की। इस बीच सायला थाने पहुँचे जिले के कलेक्टर निशांत जैन और एसपी ने संत को सुरक्षित बचाने का आश्वासन दिया है। इस बीच संत की खोज के लिए 6 थानों की पुलिस फोर्स को लगा दिया गया है। कई जगह बदमाशों की तलाश की जा रही है। खुद एसपी इसकी मॉनिटरिंग कर रहे हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

डोनाल्ड ट्रंप को मारी गई गोली, अमेरिकी मीडिया बता रहा ‘भीड़ की आवाज’ और ‘पॉपिंग साउंड’: फेसबुक पर भी वामपंथी षड्यंत्र हावी

डोनाल्ड ट्रंप की हत्या के प्रयास की पूरी दुनिया के नेताओं ने निंदा की, तो अमेरिकी मीडिया ने इस घटना को कमतर आँकने की कोशिश की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -