Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाजराजस्थान: ससुर के महिला से रेप के बाद शिकायत करने पर पति ने बेल्ट...

राजस्थान: ससुर के महिला से रेप के बाद शिकायत करने पर पति ने बेल्ट से पीटा, ननद ने गर्म सलाखों से दागा

पीड़िता के अनुसार वह किसी तरह वहाँ से भागी और अपने पति के पास पहुँची। जब महिला ने अपने पति को इस बारे में बताया तो उसने सहानुभूति जताने की बजाए पीड़िता को ही बेल्ट से मारा। यही नहीं, महिला के पति ने यह भी कहा कि उसे अपने ससुर के साथ सम्बन्ध बनाने होंगे।

राजस्थान के झालावाड़ जिले में एक विवाहिता के साथ उसके ससुराल वालों द्वारा किए गए बेहद अमानवीय हरकतों का एक मामला सामने आया है। इस महिला के साथ उसके ससुर ने ही बलात्कार किया। बात यहीं ख़त्म नहीं होती, इसके बाद उसके पति ने भी उसे ससुर से सम्बन्ध बनाने की बात कही और उसे बेल्ट से मारा। यही नहीं, महिला की ननद ने भी उसे गर्म सलाखों से दागा। इसके बाद किसी तरह से विवाहिता ससुराल से भागने में कामयाब रही और पुलिस के पास पहुँचकर मामले की प्राथमिकी दर्ज कराई।

रिपोर्ट्स के अनुसार, दाँगीपुरा थाने में पीड़िता की ओर से दर्ज कराई गई FIR के अनुसार तीन माह पूर्व ही उसकी नाताप्रथा रस्म के अंतर्गत शादी हुई थी। मामले के सामने आने के 2 दिन पहले एक रात पीड़िता के ससुर ने उसे खेत में सिंचाई के लिए साथ चलने के लिए कहा। इस पर वह अपने ससुर के साथ खेत पर सिंचाई करने चली गई। लेकिन वहाँ उसके ससुर ने उसके मुँह में कपड़ा ढूँसकर उससे बलात्कार किया।

पीड़िता के अनुसार वह किसी तरह वहाँ से भागी और अपने पति के पास पहुँची। जब महिला ने अपने पति को इस बारे में बताया तो उसने सहानुभूति जताने की बजाए पीड़िता को ही बेल्ट से मारा। यही नहीं, महिला के पति ने यह भी कहा कि उसे अपने ससुर के साथ सम्बन्ध बनाने होंगे।

रिपोर्ट्स में बताया गया है कि मारपीट के बाद वहाँ हंगामा होने पर उनकी दो ननदें भी पहुँचीं। लेकिन उन्होंने भी पति और ससुर की हरकत का समर्थन किया। इसके बाद दोनों ने पीड़िता को गर्म चिमटे से दागा। महिला के पति ने उससे यह भी कहा कि वो नाता प्रथा के तहत उसे खरीदकर लाए हैं, इसलिए उसके पिता जैसा कहें, उसे मानना ही होगा। पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर FIR दर्ज कर जाँच शुरू कर दी है। मंगलवार (फरवरी 11, 2020) को मनोहर थाना के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में पीड़िता का मेडिकल कराया गया।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

‘कागज़ पर नहीं, UCC को जमीन पर उतारिए’: हाईकोर्ट ने ‘तीन तलाक’ को बताया अंधविश्वास, कहा – ऐसी रूढ़िवादी प्रथाओं पर लगे लगाम

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा है कि समान नागरिक संहिता (UCC) को कागजों की जगह अब जमीन पर उतारने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -