Wednesday, June 23, 2021
Home देश-समाज Fake News है बैंक-बंदी की खबर, नहीं कर रहे कोई बैंक बंद: RBI

Fake News है बैंक-बंदी की खबर, नहीं कर रहे कोई बैंक बंद: RBI

दरअसल RBI के पंजाब और महाराष्ट्र कोऑपरेटिव बैंक (PMC Bank) को 6 महीने के लिए अपने दिशानिर्देशों के सीधे नीचे लाने के बाद बाजार में घबराहट शुरू हो गई थी कि कहीं RBI इसे या अन्य किन्हीं कमर्शियल बैंकों पर तालाबंदी की तो तैयारी नहीं कर रही।

भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) ने कुछ व्यवसायिक (कमर्शियल) बैंकों के बंद होने की खबर को गलत बताया है। अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर देश के बैंकिंग नियामक और सबसे बड़े बैंक ने साफ किया कि इस बाबत “मीडिया के कुछ हिस्सों में प्रकाशित हो रहीं” खबरों में कोई दम नहीं है। दरअसल RBI के पंजाब और महाराष्ट्र कोऑपरेटिव बैंक (PMC Bank) को 6 महीने के लिए अपने दिशानिर्देशों के सीधे नीचे लाने के बाद बाजार में घबराहट शुरू हो गई थी कि कहीं RBI इसे या अन्य किन्हीं कमर्शियल बैंकों पर तालाबंदी की तो तैयारी नहीं कर रही।

₹1,000 प्रति खाते से अधिक निकासी पर थी रोक, 23 सितंबर से लागू हुआ था कदम

जब RBI ने PMC को अपने सीधे अधीन किया तो बैंक और उसमें पैसा जमा करने वाले ग्राहकों पर कुछ छोटे प्रतिबंध लग गए। जैसे बैंक के हर खाते से अधिकतम ₹1,000 की ही निकासी हो सकती थी। इसके अलावा न ही बैंक में लोगों का और पैसा जमा हो सकता था, न ही बैंक कोई नए कर्ज दे सकता है। यह सभी निर्देश PMC बैंक पर 23 सितंबर को बैंकिंग के घंटे बीतने के बाद से लागू हो गए

यह कदम RBI तब उठाता है जब वह किसी बैंक के कामकाज के तरीके से नाखुश होता है। PMC के मामले में पिछले तीन साल से लगातार उसकी सुपरवाइजरी रिपोर्ट नकारात्मक थी। मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि Housing Development and Infrastructure Limited (HDIL) नामक एक रियल एस्टेट कंपनी को दिया गया ₹2,500 करोड़ का कर्ज PMC के पराभव का मुख्य कारण है। लेकिन बैंक के प्रबंध निदेशक जॉय थॉमस ने रिपोर्ट को नकारते हुए ₹2,500 करोड़ की धनराशि को गलत बताया है। यही नहीं, उन्होंने दावा किया कि बैंक के पास जमाकर्ताओं की देनदारी चुकाने के लिए पर्याप्त नकदी है।

CNBC-TV18 से बात करते हुए उन्होंने RBI के कदम को “ज़रूरत से ज़्यादा कठोर” बताया। “RBI केवल कर्ज देने पर रोक भी लगा सकता था।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भारत ने कोरोना संकटकाल में कैसे किया चुनौतियों का सामना, किन सुधारों पर दिया जोर: पढ़िए PM मोदी का ब्लॉग

भारतीय सार्वजनिक वित्त में सुधार के लिए हल्का धक्का देने वाली कहानी है। इस कहानी के मायने यह हैं कि राज्यों को अतिरिक्त धन प्राप्त करने के लिए प्रगतिशील नीतियों को अपनाने के लिए प्रोत्साहित करना है।

पल्स पोलियो से टीके को पिटवा दिया अब कॉन्ग्रेस के कोयला स्कैम से पिटेगी मोदी की ईमानदारी: रवीश कुमार

ये व्यक्ति एक ऐसा फूफा है जो किसी और के विवाह में स्वादिष्ट भोजन खाकर यह कहने में जरा भी नहीं हिचकेगा कि; भोजन तो बड़ा स्वादिष्ट था लेकिन अगर नमक अधिक हो जाता तो खराब हो जाता। हाँ, अगर विवाह राहुल गाँधी का हुआ तो...

TMC के गुंडों ने किया गैंगरेप, कहा- तेरी काली माँ न*गी है, तुझे भी न*गा करेंगे, चाकू से स्तन पर हमला: पीड़ित महिलाओं की...

"उस्मान ने मेरा रेप किया। मैं उससे दया की भीख माँगती रही कि मैं तुम्हारी माँ जैसी हूँ मेरे साथ ऐसा मत करो, लेकिन मेरी चीख-पुकार उसके बहरे कानों तक नहीं पहुँची। वह मेरा बलात्कार करता रहा। उस दिन एक मुस्लिम गुंडे ने एक हिंदू महिला का सम्मान लूट लिया।"

‘भारत ने किया कश्मीर पर कब्जा, इस्लाम ने दिखाई सही राह’: TISS में प्रकाशित हुए कई विवादित पेपर, फण्ड रोकने की माँग

पेपर में लिखा गया, "...अल्लाह के शरण में जाना मेरे मन को शांत करता है और साथ ही मुझे एक समझ देता है कि चीजों के होने का उद्देश्य क्या था जो मुझे कहीं और से नहीं पता चलता।"

‘नंदलाला की #$ गई क्या’- रैपर MC कोड के बाद अब मफ़ाद ने हिन्दुओं की आस्था को पहुँचाई चोट, भगवान कृष्ण को दी गालियाँ

रैपर ने अगली पंक्ति में धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाने के लिए बेहद आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया जैसे, "मर गया तेरा नंदलाल नटखट, अब गोपियाँ भागेंगी छोड़के पनघट।"

मॉरीशस के थे तुलसी, कहते थे सब रामायण गुरु: नहीं रहे भारत के ‘सांस्कृतिक दूत’ राजेंद्र अरुण

1973 में 'विश्व पत्रकारिता सम्मेलन' में वो मॉरीशस गए और वहाँ के तत्कालीन राष्ट्रपति शिवसागर रामगुलाम हिंदी भाषा को लेकर उनके प्रेम से खासे प्रभावित हुए। वहाँ की सरकार ने उनसे वहीं रहने का अनुरोध किया।

प्रचलित ख़बरें

टीनएज में सेक्स, पोर्न, शराब, वन नाइट स्टैंड, प्रेग्नेंसी… अनुराग कश्यप ने बेटी को कहा- जैसी तुम्हारी मर्जी

ब्वॉयफ्रेंड के साथ सोने के सवाल पर अनुराग ने कहा, "यह तुम्हारा अपना डिसीजन है कि तुम किसके साथ रहती हो। मैं केवल इतना चाहता हूँ कि तुम सेफ रहो।"

‘एक दिन में मात्र 86 लाख लोगों को वैक्सीन, बेहद खराब!’: रवीश कुमार के लिए पानी पर चलने वाले कुत्ते की कहानी

'पोलियो रविवार' के दिन मोदी सरकार ने 9.1 करोड़ बच्चों को वैक्सीन लगाई। रवीश 2012 के रिकॉर्ड की बात कर रहे। 1950 में पहला पोलियो वैक्सीन आया, 62 साल बाद बने रिकॉर्ड की तुलना 6 महीने बाद बने रिकॉर्ड से?

‘तुम्हारे शरीर के छेद में कैसे प्लग लगाना है, मुझे पता है’: पूर्व महिला प्रोफेसर का यौन शोषण, OpIndia की खबर पर एक्शन में...

कॉलेज के सेक्रेटरी अल्बर्ट विलियम्स ने उन पर शिकायत वापस लेने का दबाव बनाया। जोसेफिन के खिलाफ 60 आरोप लगा कर इसकी प्रति कॉलेज में बँटवाई गई। एंटोनी राजराजन के खिलाफ कार्रवाई की बजाए उन्हें बचाने में लगा रहा कॉलेज प्रबंधन।

वो ब्राह्मण राजा, जिनका सिर कलम कर दिया गया: जिन मुस्लिमों को शरण दी, उन्होंने ही अरब से युद्ध में दिया धोखा

राजा दाहिर ने जब कई दिनों तक शरण देने की एवज में खलीफा के उन दुश्मनों से मदद माँगी, तो उन्होंने कहा, "हम आपके आभारी हैं, लेकिन हम इस्लाम की फौज के खिलाफ तलवार नहीं उठा सकते। हम जा रहे हैं।"

TMC के गुंडों ने किया गैंगरेप, कहा- तेरी काली माँ न*गी है, तुझे भी न*गा करेंगे, चाकू से स्तन पर हमला: पीड़ित महिलाओं की...

"उस्मान ने मेरा रेप किया। मैं उससे दया की भीख माँगती रही कि मैं तुम्हारी माँ जैसी हूँ मेरे साथ ऐसा मत करो, लेकिन मेरी चीख-पुकार उसके बहरे कानों तक नहीं पहुँची। वह मेरा बलात्कार करता रहा। उस दिन एक मुस्लिम गुंडे ने एक हिंदू महिला का सम्मान लूट लिया।"

‘नंदलाला की #$ गई क्या’- रैपर MC कोड के बाद अब मफ़ाद ने हिन्दुओं की आस्था को पहुँचाई चोट, भगवान कृष्ण को दी गालियाँ

रैपर ने अगली पंक्ति में धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाने के लिए बेहद आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया जैसे, "मर गया तेरा नंदलाल नटखट, अब गोपियाँ भागेंगी छोड़के पनघट।"
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
105,519FollowersFollow
392,000SubscribersSubscribe