Thursday, August 5, 2021
Homeदेश-समाज'सीता माता पर अपशब्द... शिकायत करने पर RSS कार्यकर्ता राजेश फूलमाली की हत्या' -...

‘सीता माता पर अपशब्द… शिकायत करने पर RSS कार्यकर्ता राजेश फूलमाली की हत्या’ – अनुसूचित जाति आयोग से न्याय की अपील

"खंडवा में संघ कार्यकर्ता राजेश फूलमाली द्वारा फेसबुक में सीता माता पर अपशब्द की शिकायत पुलिस से करने पर 18 मई को रोजेदारों नें लिंचिंग की थी, इलाज के दौरान उनकी मृत्यु हो गई। 15 नमाजियों को अरेस्ट किया गया है, हमारी टीम राजेश के परिवार को न्याय दिलाने के लिए वहाँ तत्पर है।"

बकरी चराने को लेकर दो गुटों में हुए विवाद में RSS कार्यकर्ता राजेश फूलमाली (Rajesh Phoolmali) की मौत को लेकर अब सोशल मीडिया पर उन्हें न्याय दिलाने के लिए आवाज उठनी शुरू हो गई है। राजेश फूलमाली गत 18 मई को हुए विवाद में घायल हो गए थे और इलाज के दौरान 31 मई को इंदौर में उनकी मौत हो जाने की खबर से मृतक के गाँव में आक्रोश का माहौल है।

वहीं सोशल मीडिया पर सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता प्रशांत पटेल उमराव ने मृतक राजेश फूलमाली (Rajesh Phoolmali) को न्याय दिलाने की बात कहते हुए लिखा है – “आरएसएस कार्यकर्ता राजेश एससी समुदाय से थे। हम पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने के लिए अनुसूचित जाति आयोग के पास जा रहे हैं।”

प्रशांत पटेल ने अपने ट्वीट में लिखा है कि एससी समुदाय को भारत में सबसे ज्यादा ‘शांतिप्रियों’ द्वारा सताया जाता है। बाबा साहब ने इसके बारे में चेतावनी दी थी। इस ट्वीट में ही राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष राम शंकर कठेरिया को टैग करते हुए उन्होंने एक्शन लेने की माँग की है।

एक अन्य ट्वीट में प्रशांत पटेल ने लिखा है – “खंडवा, MP में संघ कार्यकर्ता राजेश फूलमाली (26) द्वारा फेसबुक में सीता माता पर अपशब्द की शिकायत पुलिस से करने पर 18 मई को रोजेदारों नें लिंचिंग की थी, इलाज के दौरान उनकी मृत्यु हो गई। 15 नमाजियों को अरेस्ट किया गया है, हमारी टीम राजेश के परिवार को न्याय दिलाने के लिए वहाँ तत्पर है।”

पहले था बकरी विवाद

मध्य प्रदेश के खंडवा जिला स्थित दीपला गाँव के जंगल में बकरी चराने की बात पर विवाद हो गया था। यह विवाद बाद में मारपीट तक पहुँच गया। पथराव के दौरान राजेश फूलमाली, निवासी दीपला को गंभीर चोट आई थी। इसके बाद उन्हें जिला अस्पताल लाया गया था, जहाँ उनकी हालत बिगड़ने पर उन्हें इंदौर रेफर किया गया था।

18 मई को दो पक्षों के बीच हुए इस विवाद में घायल युवक की रविवार (मई 31, 2020) को इलाज के दौरान इंदौर में मौत हो गई। राजेश फूलमाली की मौत की खबर खंडवा पहुँचते ही अफरा-तफरी मच गई। स्थिति को देखते हुए सुरक्षा की दृष्टि से दीपला गाँव में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया।

खांडवा जिले के एसपी ने इस संबंध में न्यू इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि इस मामले के मद्देनजर 22 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। इनमें से 19 को पुलिस ने गिरफ्तार भी कर लिया है। बाकी बचे आरोपितों को पकड़ने का भी प्रयास जारी है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

इस्लामी आक्रांताओं की पोल खुली, सेक्युलर भी बोले ‘जय श्री राम’: राम मंदिर से ऐसे बदली भारत की राजनीतिक-सामाजिक संरचना

राम मंदिर के निर्माण से भारत के राजनीतिक व सामाजिक परिदृश्य में आए बदलावों को समझिए। ये एक इमारत नहीं बन रही है, ये देश की संस्कृति का प्रतीक है। वो प्रतीक, जो बताता है कि मुग़ल एक क्रूर आक्रांता था। वो प्रतीक, जो हमें काशी-मथुरा की तरफ बढ़ने की प्रेरणा देता है।

हॉकी में ब्रॉन्ज मेडल: 4 दशक के बाद टोक्यो ओलंपिक में भारतीय टीम ने रचा इतिहास, जर्मनी को 5-4 से हराया

टोक्यो ओलंपिक में भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए जर्मनी को करारी शिकस्त देकर ब्रॉन्ज मेडल पर कब्जा कर लिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,048FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe