Thursday, July 29, 2021
Homeदेश-समाज100 करोड़ वसूली में पवार का भी नाम: गुटखा गैंग से उठाने थे पैसे,...

100 करोड़ वसूली में पवार का भी नाम: गुटखा गैंग से उठाने थे पैसे, Dy-CM के करीबी ने बताए थे ट्रिक: वाजे का लेटर

सचिन वाजे ने कहा कि शरद पवार उन्हें वापस नौकरी पर नहीं रखना चाहते थे, लेकिन अनिल देशमुख ने पैसे की बात करके मनाने का आश्वासन दिया। डिप्टी सीएम अजित पवार के करीबी ने गुटखा गैंग से पैसे जुगाड़ने की तरकीब भी बताई।

मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह की चिट्ठी के बाद अब एक और चिट्ठी सामने आई है। राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) की हिरासत में बंद मुंबई पुलिस के सस्पेंड हो चुके अधिकारी सचिन वाजे की बुधवार (अप्रैल 7, 2021) को मीडिया में कथित चिट्ठी सामने आई है। इसमें सचिन वाले ने महाराष्ट्र की महाविकास अघाड़ी सरकार के कई नेताओं पर आरोप लगाए हैं।

यह चिट्ठी अपने आप में खास है क्योंकि अब तक पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख का ही नाम इस मामले में आया था लेकिन इस चिट्ठी ने देशमुख के अलावा ताकतवर पवार का भी नाम जोड़ लिया है। इस चिट्ठी में सचिन वाजे ने आरोप लगाया है कि पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख ने उन्हें नौकरी पर वापस रखने के बदले 2 करोड़ रुपए माँगे थे।

इस चिट्ठी में वाज़े ने सनसनीखेज आरोप लगाए हैं। चिट्ठी में सचिन वाजे ने कहा है कि शरद पवार उन्हें वापस नौकरी पर नहीं रखना चाहते थे, लेकिन अनिल देशमुख ने उनसे कहा कि वो शरद पवार को मना लेंगे लेकिन उसके लिए दो करोड़ रुपए देने होंगे। चिट्ठी में वाजे आगे लिखते हैं, “मैंने कहा मैं अभी पैसे नहीं दे सकता है। जिस पर देशमुख ने उन्हें बाद में भुगतान करने के लिए कहा।”

सचिन वाजे दावा करते हैं कि नवंबर 2020 में, उन्हें एक व्यक्ति (दर्शन घोड़ावत) से मिलवाया गया, जो डिप्टी सीएम अजित पवार के करीबी थे। उन्होंने वाजे को महाराष्ट्र में गुटखा के अवैध व्यापार के बारे में सूचित किया और जोर देकर कहा कि सचिन वाजे को अवैध गुटखा विक्रेताओं से कम से कम 100 करोड़ रुपए वसूल करने होंगे।

1 जनवरी 2021 से, उन्होंने कहा कि उन्होंने गुटखा विक्रेताओं पर छापे मारने शुरू किए। उन्होंने गुटखा के अवैध कारखानों के खिलाफ भी कार्रवाई शुरू की। इसके बाद दर्शन घोड़ावत सचिन वाजे से मिलने आया और डिप्टी सीएम अजित पवार के नाखुश होने के बारे में बताया।

चिट्ठी में सचिन वाजे लिखते हैं कि गृह मंत्री ने उन्हें 1650 बार से उगाही के लिए कहा था लेकिन उन्होंने असमर्थता जता दी थी। इसके बाद कथित चिट्ठी में वाजे ने कहा कि गृह मंत्री के पीए ने उन्हें गृह मंत्री के ऑफर पर विचार करने के लिए कहा। 

सचिन वाजे की चिट्ठी में महाराष्ट्र के मंत्री अनिल परब पर भी आरोप लगाए गए हैं। चिट्ठी में वाजे ने लिखा है कि अनिल परब ने उन्हें 50 करोड़ लेकर SBUT की जाँच बंद करने को कहा। वाजे की चिट्ठी में एक और आरोप लगाया गया है। वाजे ने चिट्ठी में लिखा है कि अनिल परब ने उसे बीएमसी के 50 ठेकेदारों से 100 करोड़ रुपए वसूलने को कहा था।

बता दें कि मुंबई पुलिस के निलंबित अधिकारी सचिन वाजे को बुधवार (अप्रैल 7, 2021) को विशेष एनआईए अदालत के सामने पेश किया गया। यहाँ राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) ने अदालत से सचिन वाजे की हिरासत चार दिन और बढ़ाने की माँग की। अदालत ने वाजे की हिरासत को 9 अप्रैल तक के लिए बढ़ा दिया। 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के जलसे में भारत के वामपंथियों की ता थैया, पीछे-पीछे कॉन्ग्रेसी भी कह सकते हैं- हम भी आ गए भैया!

चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के साथ समझौता करने वाली कॉन्ग्रेस, वामपंथियों की कला सीख चीनी दूतावास के समारोहों में खुलेआम दिखाई दे तो चौंकिएगा मत।

जान बचानी है तो TMC ज्वाइन करो: जिस रितु से हुआ गैंगरेप उसे धमकी, ऑपइंडिया से कहा- हिंदू होना, BJP को वोट देना गुनाह

रितु ने हमें बताया कि उसे धमकी भरे फोन भी आए हैं कि अगर उसने पुलिस के पास जाने की कोशिश की तो पुलिस भी उसके साथ बलात्कार करेगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,836FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe