Monday, July 15, 2024
Homeदेश-समाजसचिन वाजे सस्पेंड, NIA को CCTV फुटेज और फिंगरप्रिंट्स समेत कई सबूत मिले

सचिन वाजे सस्पेंड, NIA को CCTV फुटेज और फिंगरप्रिंट्स समेत कई सबूत मिले

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक सीसीटीवी फुटेज से पुष्टि होती है कि सचिन वाजे 25 फरवरी को मनसुख हिरेन से मिला था। उसी दिन मुकेश अंबानी के आवास के बहार जिलेटिन से लदी स्कॉर्पियो की मिली थी।

एंटीलिया केस की जाँच कर रही राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) द्वारा गिरफ्तार किए गए पुलिस अफसर सचिन वाजे को सस्पेंड कर दिया गया है। मुंबई पुलिस ने सोमवार (मार्च 15, 2021) को वाजे को सस्पेंड कर दिया। एडिशनल कमिश्नर ऑफ पुलिस के आदेश से सचिन वाजे का निलंबन हुआ है। फिलहाल सचिन वाजे 25 मार्च तक एनआईए की हिरासत में है। उस पर एंटीलिया केस का सूत्रधार होने के आरोप हैं।

इधर NIA ने सचिन वाजे के खिलाफ कई सबूत इकट्ठा किए हैं, जिनमें सीसीटीवी फुटेज, फिंगर प्रिंट्स और अन्य चीजें शामिल हैं। टीवी 9 मराठी की रिपोर्ट के अनुसार NIA ने 25 फरवरी से 5 मार्च 2021 तक सचिन वाजे के CIU ऑफिस के 2 किमी के दायरे को कवर करते हुए सीसीटीवी फुटेज को प्राप्त किया है।

एनआईए के अनुसार सीसीटीवी फुटेज से पुष्टि होती है कि सचिन वाजे 25 फरवरी को मनसुख हिरेन से मिला था। उसी दिन मुकेश अंबानी के आवास के बहार जिलेटिन से लदी स्कॉर्पियो की मिली थी। रिपोर्ट यह भी बताती है कि स्कॉर्पियो पर मिले फिंगर प्रिंट सचिन वाजे से मेल खाते हैं। बरामद सीसीटीवी फुटेज के आधार पर एनआईए उसके ठिकानों पर, उसके द्वारा विजिट किए गए स्थानों और ऊपर बताए गए तारीखों में मिले लोगों पर नज़र रखने के लिए गहन जाँच कर रही है।

Relevant portion of TV9 report (image courtesy: @imac_too on Twitter)

यह बात भी सामने आई है कि एंटीलिया के बाहर मिली स्कॉर्पियो चार महीने पहले भी सचिन वाजे के पास थी। इसका इस्तेमाल पत्रकार अर्णब गोस्वामी को गिरफ्तार करने के लिए किया गया था। हालाँकि उस समय कार की नंबर प्लेट अलग थी। NIA के अधिकारियों ने मुंबई पुलिस आयुक्त के कार्यालय से सफेद इनोवा कार भी बरामद की है। शक है कि 25 फरवरी को एंटीलिया के बाहर विस्फोटक लदी स्कॉर्पियों खड़ी करने की घटना में एक सफेद इनोवा कार का भी इस्तेमाल किया गया था।

एनआईए ने मुंबई पुलिस के मोटर ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट से सफेद इनोवा को कब्जे में लिया, जिसे मुंबई पुलिस मुख्यालय के अंदर पार्क किया गया था। हैरानी की बात है कि CIU भी एक सफेद वाहन की तलाश में था। यह पूछे जाने पर कि पुलिस को उस वाहन का पता कैसे नहीं लग सका जो मुख्यालय में ही खड़ा था, आईपीएस अधिकारी ने दावा किया कि उन्हें इसके बारे में जानकारी नहीं थी।

जैसे ही एनआईए ने मामले पर अपनी पकड़ मजबूत की, सचिन वाजे की तबीयत बिगड़ गई और उसे जेजे अस्पताल ले जाया गया। जे के अंदर काम करने वाले दो अधिकारी और दो ड्राइवर को भी जाँच के दायरे में हैं। रिपोर्ट के अनुसार, और भी अन्य अधिकारियों को जल्द ही आगे की जाँच के लिए बुलाया जाएगा।

सचिन वाजे की गिरफ्तारी

गौरतलब है कि मुंबई पुलिस के विवादित अधिकारी सचिन वाजे से NIA ने शनिवार (मार्च 13, 2021) को 12 घंटे तक पूछताछ की और फिर देर रात उसे गिरफ्तार कर लिया था। उसके खिलाफ IPC की धारा-120B (आपराधिक षड्यंत्र), 286 (किसी विस्फोटक पदार्थ के बारे में उपेक्षापूर्ण आचरण), 465 (कूटरचना), 473 (कूटरचना करने के आशय से कूटकृत मुद्रा को बनाना या कब्जे में रखना) और 506(2) (आपराधिक धमकी) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कॉन्ग्रेस के चुनावी चोचले ने KSRTC का भट्टा बिठाया, ₹295 करोड़ का घाटा: पहले महिलाओं के लिए बस सेवा फ्री, अब 15-20% किराया बढ़ाने...

कर्नाटक में फ्री बस सेवा देने का वादा करना कॉन्ग्रेस के लिए आसान था लेकिन इसे लागू करना कठिन। यही वजह है कि KSRTC करोड़ों के नुकसान में है।

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -