Tuesday, June 25, 2024
Homeदेश-समाजरोहित को बनाना चाहते थे मुस्लिम, जहर खाकर दे दी जान: हथियारों के साथ...

रोहित को बनाना चाहते थे मुस्लिम, जहर खाकर दे दी जान: हथियारों के साथ घर में घुसे थे सलमान-सत्तार, मोबाइल में मिले Video से खुला राज

रोहित ने पता नहीं किस मजबूरी या दबाव में 18 नवंबर को पहले अपनी पूरी आपबीती एक वीडियो में बताई और फिर जहर खा लिया। वीडियो में उसने सत्तार के परिवार वालों पर खुद को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है।

उत्तर प्रदेश के औरैया जिले में धर्मान्तरण के दबाव के चलते एक हिन्दू युवक ने आत्महत्या कर ली। मृतक का नाम रोहित है। रोहित के परिजनों का आरोप है कि इस्लाम न कबूलने की वजह से उस पर सत्तार, सलमान आदि ने पॉक्सो के तहत केस दर्ज करवा दिया था। आरोपितों ने रोहित पर एक मुस्लिम लड़की से निकाह करने का दबाव भी बनाया था।

दरअसल, शनिवार (18 नवंबर, 2023) को जहर खा कर की गई आत्महत्या से पहले रोहित ने वीडियो बना कर अपनी पीड़ा जाहिर करने का प्रयास किया था। फ़िलहाल, पुलिस ने एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है और बाकियों की तलाश की जा रही है।

यह मामला औरैया जिले के विधूना थानाक्षेत्र का है। यहाँ के गाँव बरके पुरवा की रहने वाली सरोजनी देवी ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है। शिकायत में पीड़िता ने बताया कि उनके बेटे रोहित की औरैया के ही सत्तार से अच्छी दोस्ती थी। इसी दोस्ती के चलते रोहित का सत्तार के घर आना जाना था। घर आने-जाने के दौरान रोहित की जान-पहचान सत्तार की बेटी से हो गई।

आरोप है कि सत्तार अपनी बेटी का निकाह रोहित से करवाना चाहता था। इसलिए उसने सलमान और बंटी खान आदि के साथ मिल कर रोहित पर इस्लाम कबूल करने का दबाव बनाया। पीड़ितों का आरोप है कि जब रोहित ने हिन्दू धर्म छोड़ने से मना कर दिया तब आरोपितों ने उस पर औरैया के ही सहार थाने में 6 सितंबर, 2023 को FIR दर्ज करवा दी।

इस FIR में सलमान ने अपनी बहन को नाबालिग बताते हुए रोहित पर उसके अपहरण का आरोप लगाया था। इसी केस में रोहित के साथ अनुज और आर्यन खान को भी नामजद किया गया था जिन पर अपहरण में रोहित के सहयोग का आरोप था।

तब इस मामले में पुलिस ने रोहित को गिरफ्तार कर के लड़की को बरामद करने का दावा किया था। हालाँकि, ऑपइंडिया से बात करते हुए मृतक की बहन ने दावा किया है कि उनके भाई पर आरोप लगाने वाली लड़की बालिग़ थी जिसकी उम्र सत्तार और सलमान ने कम कर के लिखवाई थी।

बाद में रोहित पर नाबालिग से रेप की धारा और पॉक्सो एक्ट की बढ़ोत्तरी की गई थी। इस मामले में लगभग डेढ़ माह जेल में रह कर रोहित बाहर निकला। वह ई रिक्शा चला कर अपना गुजरा करने लगा। 15 नवंबर, 2023 को सुबह लगभग 7 बजे सत्तार, सलमान, बंटी खां, दुल्ली खां, टुन्नन खां और वकील खां रोहित के घर पहुँचे। आरोपितों के हाथों में चाकू और गँड़ासे थे जिसे दिखा कर उन्होंने रोहित को इस्लाम कबूल करने का दबाव बनाया। इस दौरान रोहित को जान से मारने और उसके माता-पिता को जेल भिजवाने की धमकी दी गई।

इस केस में सरोजनी देवी का आरोप है कि गाँव वालों के बीच-बचाव के चलते उनके परिवार की जान बच पाई थी। वहीं गाँव से चले जाने के बाद भी सत्तार अपने साथियों सहित रोहित पर इस्लाम कबूलने का दबाव बनाता रहा। रोहित की बहन ने ऑपइंडिया से बात करते हुए बताया कि रोहित ने किसी भी हाल में हिन्दू धर्म न छोड़ने का ऐलान कर दिया था।

आखिरकार रोहित ने पता नहीं किस मजबूरी या दबाव में 18 नवंबर को पहले अपनी पूरी आपबीती एक वीडियो में बताई और फिर जहर खा लिया। वीडियो में उसने सत्तार के परिवार वालों पर खुद को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है।

पुलिस ने इस मामले में सत्तार, सलमान, बंटी, वकील, दुल्ली और टुन्नन खां को नामजद करते हुए केस दर्ज कर लिया है। इन सभी पर IPC की धारा 147, 506, 306 के साथ उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम की धारा 3/5(1) के तहत कार्रवाई की गई है।

बता दें कि ऑपइंडिया के पास FIR कॉपी मौजूद है। औरैया की पुलिस अधीक्षक चारू निगम के मुताबिक एक आरोपित को गिरफ्तार कर के बाकियों की तलाश और मामले में जाँच करवाई जा रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

राहुल पाण्डेय
राहुल पाण्डेयhttp://www.opindia.com
धर्म और राष्ट्र की रक्षा को जीवन की प्राथमिकता मानते हुए पत्रकारिता के पथ पर अग्रसर एक प्रशिक्षु। सैनिक व किसान परिवार से संबंधित।

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शिखर बन जाने पर नहीं आएँगी पानी की बूँदे, मंदिर में कोई डिजाइन समस्या नहीं: राम मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेन्द्र मिश्रा ने...

श्रीराम मंदिर निर्माण समिति के मुखिया नृपेन्द्र मिश्रा ने बताया है कि पानी रिसने की समस्या शिखर बनने के बाद खत्म हो जाएगी।

दर-दर भटकता रहा एक बाप पर बेटे की लाश तक न मिली, यातना दे-दे कर इंजीनियरिंग छात्र की हत्या: आपातकाल की वो कहानी, जिसमें...

आज कॉन्ग्रेस पार्टी संविधान दिखा रही है। जब राजन के पिता CM, गृह मंत्री, गृह सचिव, पुलिस अधिकारी और सांसदों से गुहार लगा रहे थे तब ये कॉन्ग्रेस पार्टी सोई हुई थी। कहानी उस छात्र की, जिसकी आज तक लाश भी नहीं मिली।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -