Sunday, June 16, 2024
Homeदेश-समाजकौन है सलमान जो NCB वाले समीर वानखेड़े की फैमिली को कर रहा था...

कौन है सलमान जो NCB वाले समीर वानखेड़े की फैमिली को कर रहा था ‘ट्रैप’, कहाँ है अभी: जानिए सबकुछ

“बिचौलिया जिसने हमें फँसाने की कोशिश की थी, उसने इसी साल मुंबई पुलिस में एक झूठी शिकायत दर्ज करवाई थी। उस शिकायत की जाँच में कुछ भी सामने नहीं आया।"

महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने एक बार फिर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के जोनल डायरेक्टर पर नए सिरे से आरोप लगाए हैं। ये आरोप आलीशान जिंदगी जीने से लेकर ड्रग्स केस के नाम पर उगाही करने तक से जुड़े हुए हैं। मलिक ने वानखेड़े की बहन यास्मीन के ड्रग पेडलर से संबंध होने का भी दावा किया है। इन आरोपों पर वानखेड़े ने भी सिलसिलेवार तरीके से जवाब दिया है।

समीर वानखेड़े ने खुद पर और अपने परिवार पर लगाए जा रहे तमाम आरोपों को खारिज किया। उन्होंने मंगलवार (2 नवंबर 2021) को राष्ट्रवादी कॉन्ग्रेस पार्टी (NCP) नेता नवाब मलिक के आरोपों का जवाब दिया। कहा कि उन्हें फँसाने की पूरी कोशिश की जा रही है। 

समीर वानखेड़े ने बताया, “सलमान नाम के एक पेडलर ने मेरी बहन से संपर्क किया था, लेकिन वह एनडीपीएस के मामले नहीं लेती है, इसलिए उसने उसे वापस भेज दिया। सलमान ने बिचौलिए के जरिए भी हमें फँसाने की कोशिश की थी। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है और वह जेल में है। उसके व्हाट्सएप चैट को शेयर करके हमारे ऊपर झूठे आरोप लगाए जा रहे हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “बिचौलिया जिसने हमें फँसाने की कोशिश की थी, उसने इसी साल मुंबई पुलिस में एक झूठी शिकायत दर्ज करवाई थी। उस शिकायत की जाँच में कुछ भी सामने नहीं आया। इसके बाद सलमान जैसे ड्रग्स पेडलरों ने मेरे परिवार को फँसाने की कोशिश की। ऐसी कोशिशें अब भी चल रही हैं और इसके पीछे ड्रग्स माफिया का हाथ है।”

मलिक ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए समीर वानखेड़े की बहन यासमीन वानखेड़े पर ड्रग पेडलर के साथ संबंधों का आरोप लगाया था। उन्होंने यासमीन और ड्रग्स पेडलर के बीच के व्हाट्सएप चैट को भी सार्वजनिक किया था। बता दें कि यास्मीन वानखेड़े पेशे से वकील हैं।

मुंबई एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े ने महँगे कपड़े पहनने को लेकर नवाब मलिक के आरोपों का भी जवाब दिया है। समीर वानखेड़े ने कहा कि जहाँ तक उनके महँगे कपड़ों का सवाल है, यह सिर्फ एक अफवाह है। उन्हें कम जानकारी है और उन्हें इन बातों का पता लगाना चाहिए।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भाजपा विधायक T राजा सिंह हैदराबाद में गिरफ्तार: हमले के शिकार गोरक्षकों से जा रहे थे मिलने, आरोप- मूकदर्शक बनी रही थी तेलंगाना पुलिस

तेलंगाना के मेडक में गौ रक्षा कर रहे भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले में 2 लोग घायल। मिलने जा रहे भाजपा विधायक टी राजा सिंह गिरफ्तार।

बाबरी अब मस्जिद नहीं ‘ढाँचा’, राम मंदिर ‘राष्ट्रीय गर्व’, अयोध्या ‘पवित्र स्थल’: NCERT ने 12वीं की किताब में किया बदलाव, सुप्रीम कोर्ट के फैसले...

अयोध्या को भारत के सबसे पवित्र स्थलों में से एक बताया गया है। राम जन्मभूमि को 'राष्ट्रीय गर्व' लिखा गया है। सन् 1528 में इसे तोड़ कर यहाँ ढाँचा बना।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -