Tuesday, August 3, 2021
Homeदेश-समाज3 भगोड़े: माल्या-नीरव-मेहुल, SBI की अगुआई में बैंकों ने वसूले ₹792 करोड़; अब तक...

3 भगोड़े: माल्या-नीरव-मेहुल, SBI की अगुआई में बैंकों ने वसूले ₹792 करोड़; अब तक 13100 करोड़ की रिकवरी

हाल ही में ईडी ने बताया था कि देश छोड़ भागे विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की 18,170.02 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की जा चुकी है। यह इनके द्वारा की गई लूट का करीब 80 फीसदी हिस्सा है।

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की अगुवाई में बैंकों के कंसोर्टियम ने शुक्रवार (जुलाई 16, 2021) को भगोड़े विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के जब्त शेयरों की बिक्री कर 792.11 करोड़ रुपए वसूल किए। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने इसकी जानकारी दी है। ईडी ने तीनों भगोड़ों के शेयर जब्त कर एसबीआई के नेतृत्‍व वाले कंसोर्टियम को हैंडओवर किए थे।

इससे बैंकों का हजारों करोड़ रुपए लेकर विदेश फरार होने वाले विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी को तगड़ा झटका लगा है। इसके साथ ही इन तीनों से कुल रिकवरी 13,109.17 करोड़ रुपए हो गई है।

जाँच एजेंसी ने कहा कि माल्या और भगोड़े हीरा व्यापारी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी, जो पीएनबी घोटाले में शामिल थे, ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को उनकी कंपनियों के जरिए धन की हेराफेरी करके धोखा दिया। इसके चलते बैंकों को कुल 22,585.83 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ।

इससे पहले प्रवर्तन निदेशालय ने बताया था कि भगोड़ा कारोबारी नीरव मोदी की बहन पूर्वी मोदी ने 1 जुलाई को ब्रिटेन के बैंक खाते से 17 करोड़ से अधिक रुपए भारत सरकार को भेजे। भारत सरकार ने पूर्वी मोदी से कहा था कि अगर वह PNB Sacm की जाँच में सहयोग करेगी तो उसके खिलाफ क्रिमिनल कार्रवाई नहीं होगी।

ईडी ने एक बयान में कहा था, ‘‘24 जून को, पूर्वी मोदी ने प्रवर्तन निदेशालय को सूचित किया कि उन्हें लंदन, ब्रिटेन में उनके नाम पर एक बैंक खाते का पता चला जो उनके भाई नीरव मोदी के कहने पर खोला गया था और यह धन उनका नहीं था।’’

बयान में कहा गया था, “चूँकि पूर्वी मोदी को पूरा और सही खुलासा करने की शर्तों पर माफी की अनुमति दी गई थी, इसलिए उन्होंने ब्रिटेन के बैंक खाते से 23,16,889.03 अमरीकी डॉलर की राशि भारत सरकार, प्रवर्तन निदेशालय के बैंक खाते में भेज दी है।”

गौरतलब है कि हाल ही में ईडी ने बताया था कि देश छोड़ भागे विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की 18,170.02 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की जा चुकी है। यह इनके द्वारा की गई लूट का करीब 80 फीसदी हिस्सा है। जब्त की गई संपत्तियों में से 9,371.17 करोड़ रुपए के एसेट्स बैंकों और केंद्र सरकार को ईडी ने ट्रांसफर भी कर दिए गए हैं।

प्रवर्तन निदेशालाय ने अपने बयान में कहा था, “प्रोटेक्शन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (PMLA) कानून के तहत एजेंसी ने विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के मामले में 18,170.02 करोड़ रुपए की संपत्ति को जब्त किया है। यह राशि बैंकों को हुए कुल नुकसान का लगभग 80.45 फीसदी है। प्रवर्तन निदेशालय ने 9,371.17 करोड़ रुपए की कुर्क/जब्त की संपत्ति पीएसबी और केंद्र सरकार को ट्रांसफर भी कर दिया है।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सागर धनखड़ मर्डर केस में सुशील कुमार मुख्य आरोपित: दिल्ली पुलिस ने 20 लोगों के खिलाफ फाइल की 170 पेज की चार्जशीट

दिल्ली पुलिस ने छत्रसाल स्टेडियम में पहलवान सागर धनखड़ हत्याकांड में चार्जशीट दाखिल की है। सुशील कुमार को मुख्य आरोपित बनाया गया है।

यूपी में मुहर्रम सर्कुलर की भाषा पर घमासान: भड़के शिया मौलाना कल्बे जव्वाद ने बहिष्कार का जारी किया फरमान

मौलाना कल्बे जव्वाद ने आरोप लगाया है कि सर्कुलर में गौहत्या, यौन संबंधी कई घटनाओं का भी जिक्र किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,702FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe