रविदास मंदिर तोड़ने को लेकर लोगों में जबरदस्त आक्रोश, पंजाब में स्कूल-कॉलेज बंद

सुप्रीम कोर्ट ने पिछले दिनों दिल्ली के तुगलकाबाद में गुरू रविदास की मंदिर को तोड़ने का आदेश दिया था जिसके बाद दिल्ली के साथ पंजाब में विरोध शुरू हो गया.....

दिल्ली में गुरु रविदास मंदिर तोड़ने के विरोध में मंगलवार (अगस्त 13, 2019) को पंजाब में रविदास समाज के लोगों ने राज्य बंद का ऐलान किया है। साथ ही मामले को लेकर सूबे की सरकार ने सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त किए हैं। प्रदेश के सभी जिलों में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है और साथ ही सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है। इसके अलावा एहतियात के तौर पर जालंधर, होशियारपुर, कपूरथला और गुरदासपुर के सारे शिक्षण संस्थान को बंद कर दिया गया है। इसके अलावा रविदास समाज के लोगों ने 15 अगस्त को काला दिवस मनाने का ऐलान किया है।

पंजाब की कैप्टन अमरिंदर सरकार ने इस बाबत प्रधानमंत्री मोदी से दखल की अपील की थी। पटियाला प्रशासन का कहना है कि वहाँ की स्थिति अभी नियंत्रण में है। इसलिए होशियारपुर, जालंधर, कपूरथला और गुरुदासपुर की तरह वहाँ स्कूल, कॉलेजों को बंद करने की जरूरत नही पड़ी। वहीं, अमृतसर में मिला जुला मामला दिखाई दे रहा है। जालधंर के डिप्टी कश्मिर वरिंदर के शर्मा ने कहा कि आमतौर पर बंद के दौरान सबसे ज्यादा स्कूली बच्चों को परेशानी होती है इसलिए जहाँ जरूरत लगी वहाँ की स्कूलों को बन्द कर दिया गया है।

गौरतलब है कि, सुप्रीम कोर्ट ने पिछले दिनों दिल्ली के तुगलकाबाद में गुरू रविदास की मंदिर को तोड़ने का आदेश दिया था जिसके बाद दिल्ली के साथ पंजाब में विरोध शुरू हो गया और फिर ऑल इंडिया आदि धर्म मिशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष संत सतविंदर हीरा और साधु समाज के प्रधान संत सरवण दास महाराज ने 13 अगस्त को बंद का एलान करते हुए कहा था कि इससे उनके समाज की धार्मिक भावनाएँ आहत हुई हैं, और प्रदर्शन करके वो अपने समाज के संगठित होने का अहसास करवाना चाहते हैं।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

राजदीप सरदेसाई, राम मंदिर
राजदीप सरदेसाई के इस बदले सुर से सभी हैरान हैं। अपनी ही बात से पलट गए हैं। पहले उन्होंने जल्दी सुनवाई ख़त्म करने का स्वागत किया था, अब वह पूछ रहे हैं कि इतनी जल्दी भी क्या है? उन्होंने गिरगिट की तरह रंग बदला है। राजदीप जजों को ही खरी-खोटी सुनाने लगे।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

104,900फैंसलाइक करें
19,227फॉलोवर्सफॉलो करें
109,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: