Saturday, July 31, 2021
Homeदेश-समाजशरजील के फोन से चौंकाने वाले खुलासे, जामिया और एएमयू के छात्रों सहित...

शरजील के फोन से चौंकाने वाले खुलासे, जामिया और एएमयू के छात्रों सहित 15 पर कसा शिकंजा

शरजील के बैंक अकाउंट को भी खँगाला जा रहा है ताकि फंडिंग आदि से संबंधित जानकारी मिल सके। इसके अलावा इस बात की भी जाँच की जा रही है कि शरजील इमाम के साथ कौन-कौन लोग भड़काऊ भाषण में और विवादित पोस्टर छपवाने में शामिल थे।

भारत से असम को काटकर अलग कर देने की बात करने वाले शरजील इमाम के फोन से दिल्ली पुलिस को कई महत्वपूर्ण जानकारियाँ मिली हैं। कहा जा रहा है कि इन जानकारियों के आधार पर 15 और लोगों की पहचान हुई है। इनमें से कुछ को पुलिस ने नोटिस भी भेज दिया है और बाकी अन्य लोगों से पूछताछ जारी है। इन 15 चिह्नित लोगों में कुछ जामिया और कुछ एएमयू के छात्र भी शामिल हैं। इसके अलावा इस सूची में कुछ शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों का भी नाम है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार क्राइम ब्रांच की पड़ताल में कुछ और जरूरी खुलासे भी हुए हैं। जैसे, शरजील के लैपटॉप मे विवादित पोस्टर मिला। इसे जामिया हिंसा से ठीक एक दिन पहले यानी 14 दिसंबर को शरजील ने तमाम जगहों पर सर्कुलेट किया था। इस पोस्टर में जामिया में इकट्ठा होने की बात लिखी थी। साथ ही सीएए/एनआरसी से संबंधित विवादित चीजें भी उसमें थीं। इसलिए, अब इन्हीं सबूतों के आधार पर पुलिस शरजील के ख़िलाफ़ जामिया हिंसा मामले में भी एफआईआर दर्ज करेगी और इस मामले में भी उसकी गिरफ्तारी होगी।

अब आगे की पड़ताल में शरजील के बैंक अकाउंट को भी खँगाला जा रहा है ताकि फंडिंग आदि से संबंधित जानकारी मिल सके। इसके अलावा इस बात की भी जाँच की जा रही है कि शरजील इमाम के साथ कौन-कौन लोग भड़काऊ भाषण में और विवादित पोस्टर छपवाने में शामिल थे।

इंडिया टीवी की रिपोर्ट के अनुसार, एक पोस्टर में इमाम ने सीएए को असंवैधानिक बताया हुआ था। साथ ही उसमें मुस्लिमों के साथ होने वाले भेदभाव की भी बात थी। दिल्ली पुलिस के मुताबिक शरजील की इच्छा अंतरराष्ट्रीय मीडिया सुर्खियों में आने की थी। वो आर्टिकल 370, अयोध्या और सीएए को लेकर भारत के मुस्लिमों को कड़ी प्रतिक्रिया देने के लिए लगातार भड़का रहा था।

उल्लेखनीय है कि शुरुआती जाँच में पता चला है कि शरजील के लगभग 9 ऐसे लोगों से करीबी संबंध थे, जो इस्लामिक कट्टरपंथ से जुड़े थे। पीएफआई के भी वह लगातार संपर्क में था। पुलिस इस बात की जाँच कर रही है कि कहीं उसे विदेशी फंडिंग तो नहीं हुई।

हज़ारों मुस्लिम सड़क पर उतर के दिल्ली ठप्प करेंगे: शरजील के खतरनाक इरादे, मस्जिदों में बँटवाए थे पर्चे

जिन्ना बनना चाहता था शरजील इमाम: मस्जिदों में बँटवाए थे भड़काऊ पर्चे, फोन व लैपटॉप जब्त

भारत को इस्लामिक मुल्क बनाना चाहता है शरजील इमाम, पूछताछ में माना- वीडियो से नहीं हुई छेड़छाड़

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20 से ज्यादा पत्रकारों को खालिस्तानी संगठन से कॉल, धमकी- 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के CM को नहीं फहराने देंगे तिरंगा

खालिस्तान समर्थक सिख फॉर जस्टिस ने हिमाचल प्रदेश के 20 से अधिक पत्रकारों को कॉल कर धमकी दी है कि 15 अगस्त को सीएम तिरंगा नहीं फहरा सकेंगे।

‘हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेजी’: PM मोदी के खिलाफ पोस्टर पर 25 FIR, रद्द करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना वाले पोस्टर चिपकाने को लेकर दर्ज एफआईआर को रद्द करने से इनकार कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,090FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe