Thursday, July 29, 2021
Homeदेश-समाजजिस असम को हिंदुस्तान से काटना चाहता था शरजील, 4 दिन की रिमांड पर...

जिस असम को हिंदुस्तान से काटना चाहता था शरजील, 4 दिन की रिमांड पर वहीं पहुँचा

एएमयू में 16 जनवरी को आयोजित सभा में शरजील ने कहा था कि अगर 5 लाख लोग संगठित हों तो वो असम से हिंदुस्तान को हमेशा के लिए अलग कर सकता है।

देशद्रोह के आरोपित और जेएनयू के छात्र शरजील इमाम को गुरुवार (फरवरी 20, 2020) को गुवाहाटी की एक स्थानीय अदालत में पेश किया गया। यहाँ कोर्ट ने मामले पर सुनवाई करते हुए उसे 4 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया। शरजील ने अलीगढ़ में सीएए विरोध प्रदर्शन के दौरान देशविरोधी बयान देते हुए असम को देश से काटने की बात कही थी। जिसके बाद उसको पिछले महीने बिहार में उसके गृहनगर जहानाबाद से गिरफ्तार किया गया था।

गिरफ्तारी के बाद उसके लैपटॉप में विवादित पोस्टर, फोटो और मोबाइल फोन से कई आपत्तिजनक मैसेज बरामद हुए थे। इसके अलावा कुछ अन्य लोगों के नामों का भी खुलासा हुआ था और साथ ही उसके बैंक खातों में विदेशी फंडिंग के संकेत भी मिले थे। बता दें कि एएमयू में 16 जनवरी को आयोजित सभा में शरजील ने कहा था कि अगर 5 लाख लोग संगठित हों तो हम असम से हिंदुस्तान को हमेशा के लिए अलग कर सकते हैं।

जामिया मामले में भी शरजील पर हिंसा भड़काने का आरोप है। जिसके मद्देनजर पिछले दिनों दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने उसके खिलाफ चार्जशीट भी दाखिल की थी। इसमें उसकी भूमिका को instigator (दंगा/हिंसा भड़काने वाला) के रूप में बताया गया था। गुवाहाटी लाए जाने से पहले शरजील को दिल्ली की तिहाड़ जेल में रखा गया था।

गौरतलब है कि एक ओर जहाँ शरजील इमाम के खिलाफ कानून कार्रवाई की प्रक्रिया चालू है। वहीं, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के सदस्यों ने भी उसके ख़िलाफ़ गुवाहाटी रेलवे स्टेशन के बाहर विरोध प्रदर्शन किया और अपना विरोध जताया।। बता दें कि इससे पहले इमाम को 18 फरवरी को कोर्ट ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया था।

शाहीन बाग के मास्टरमाइंड शरजील इमाम का होगा वॉयस टेस्ट, देशविरोधी भाषणों से किया जाएगा मिलान
शरजील इमाम के बैंक खातों से मिले विदेशी फंडिंग के संकेत, क्राइम ब्रांच ने शुरू की जाँच
जिन्ना बनना चाहता था शरजील इमाम: मस्जिदों में बँटवाए थे भड़काऊ पर्चे, फोन व लैपटॉप जब्त

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बिन बुलाए घर पर आकर करने लगा किस, कहा- शिल्पा से रिश्ते ठीक नहीं हैं: राज कुंद्रा पर शर्लिन चोपड़ा ने लगाए यौन उत्पीड़न...

शर्लिन के अनुसार, वह कभी भी एक शादीशुदा शख्स के साथ रिश्ता नहीं बनाना चाहती थीं और न ही उनके साथ कोई व्यापार करना चाहती थीं।

झारखंड: दिनदहाड़े खुली सड़क पर जज की हत्या, पोस्‍टमॉर्टम र‍िपोर्ट में हथौड़े से मारने के म‍िले न‍िशान, देखें Video

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जज के सिर पर हथौड़े से मारने वाले निशान पाए गए हैं। इसके अलावा जिस ऑटो ने उन्हें टक्कर मारी वह भी चोरी का था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,723FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe