Thursday, September 23, 2021
Homeदेश-समाज'आप दोनों बंगाल और महाराष्ट्र को अलग देश घोषित कर PM बन जाएँ, भारत...

‘आप दोनों बंगाल और महाराष्ट्र को अलग देश घोषित कर PM बन जाएँ, भारत से लें आज़ादी’: SFJ की ममता और उद्धव को सलाह

"मैं महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल के नागरिकों को संदेश देना चाहता हूँ। मराठी और बंगाली भाई-भाई होते हैं। मैंने ममता बनर्जी और उद्धव ठाकरे को पत्र लिख कर कहा है कि वो एकतरफा रूप से दोनों राज्यों को भारत से आज़ाद घोषित करें। दोनों राज्यों की सांस्कृतिक और भाषाई पहचान को बचाने के लिए भारत की प्रधानता का खत्म होना ज़रूरी है।"

खालिस्तानी संगठन ‘सिख्स फॉर जस्टिस (SFJ)’ ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से अपील की है कि आप अपने-अपने राज्यों को ‘भारत से आज़ाद’ घोषित करें। यूट्यूब पर ‘फ्री बंगाल फ्री महाराष्ट्र’ नाम से चैनल बना कर पहला वीडियो भी अपलोड कर दिया गया है, जिसमें SFJ के गुरपतवंत सिंह पन्नू ने कहा कि वो मानवाधिकार के लिए लड़ रहा है और पंजाब को ‘कब्ज़ा से मुक्ति’ दिलाने के लिए लड़ रहा है।

वीडियो में उसने कहा, “मैं महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल के नागरिकों को संदेश देना चाहता हूँ। मराठी और बंगाली भाई-भाई होते हैं। मैंने ममता बनर्जी और उद्धव ठाकरे को पत्र लिख कर कहा है कि वो एकतरफा रूप से दोनों राज्यों को भारत से आज़ाद घोषित करें। दोनों राज्यों की सांस्कृतिक और भाषाई पहचान को बचाने के लिए भारत की प्रधानता का खत्म होना ज़रूरी है। भारत इन सब को ख़त्म कर उन पर राज़ करना चाहता है।”

SFJ के इस वीडियो में गुरपतवंत सिंह पन्नू ने कहा कि दोनों राज्यों के मुख्यमंत्री वहाँ के आधिकारिक मुखिया हैं, ऐसे में उनके पास अधिकार है कि वो ‘आज़ादी की घोषणा’ करें। उसने कहा कि अंतरराष्ट्रीय कानून भी इसका समर्थन करेगा और विवाद की स्थिति में ‘इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस’ निर्णय करेगा। पन्नू ने दावा किया कि पिछले 73 वर्षों से भारत सरकारों ने दोनों राज्यों के प्राकृतिक संसाधनों का ‘दोहन’ किया है।

SFJ ने भारत के ‘टुकड़े-टुकड़े’ करने की बात की

उसने वहाँ के लोगों की गरीबी के लिए भी भारत सरकार को ही जिम्मेदार ठहराया। पन्नू ने कहा कि पिछले 20 वर्षों से महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल में किसानों की आत्महत्या के आँकड़े बढ़ते जा रहे हैं और वो देश में सर्वाधिक हैं क्योंकि भारत सरकार ने हमेशा ‘महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल विरोधी नीतियाँ’ बनाई हैं। उसने कहा कि ममता और उद्धव को इतिहास में ऐसे नेता के रूप में सम्मान देकर याद किया जाएगा, जिन्होंने ‘अपने नागरिकों का साथ’ दिया।

SFJ के पन्नू ने कहा, “आप दोनों (ममता और उद्धव) के पास क्षमता है कि आप पश्चिम बंगाल और महाराष्ट्र को अलग-अलग देश घोषित करें। अभी आप मुख्यमंत्री हैं, लेकिन ऐसा होते ही आप दोनों अपने-अपने देशों के प्रधानमंत्री बन जाएँगे। अभी वो समय यही जब आप अपनी शक्ति, कलम और जनता के वोटों का इस्तेमाल करे। हम लोग अंतरराष्ट्रीय मंच पर आपका समर्थन करेंगे। कोसोवा को ऐसे ही हमने आज़ादी दिलाई।”

बता दें कि गणतंत्र दिवस हिंसा से पहले प्रतिबंधित खालिस्तानी संगठन ‘सिख्स फॉर जस्टिस (SFJ)’ ने ऐलान किया था कि जो भी दिल्ली के लाल किला पर खालिस्तानी झंडा फहराएगा, उसे 2.5 लाख डॉलर (1.83 करोड़ रुपए) इनाम के रूप में दिए जाएँगे। लाल किले पर प्रदर्शनकारियों की भीड़ चढ़ भी गई थी और वहाँ तिरंगे का अपमान भी किया गया। पन्नू ने हिंसा करने वालों का भी जम कर समर्थन किया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गुजरात के दुष्प्रचार में तल्लीन कॉन्ग्रेस क्या केरल पर पूछती है कोई सवाल, क्यों अंग विशेष में छिपा कर आता है सोना?

मुंद्रा पोर्ट पर ड्रग्स की बरामदगी को लेकर कॉन्ग्रेस पार्टी ने जो दुष्प्रचार किया, वह लगभग ढाई दशक से गुजरात के विरुद्ध चल रहे दुष्प्रचार का सबसे नया संस्करण है।

‘मुंबई डायरीज 26/11’: Amazon Prime पर इस्लामिक आतंकवाद को क्लीन चिट देने, हिन्दुओं को बुरा दिखाने का एक और प्रयास

26/11 हमले को Amazon Prime की वेब सीरीज में मु​सलमानों का महिमामंडन किया गया है। इसमें बताया गया है कि इस्लाम बुरा नहीं है। यह शांति और सहिष्णुता का धर्म है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,821FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe