Wednesday, April 17, 2024
Homeदेश-समाजरंजना से प्यार करता था इबरार आलम, दूसरे लड़के को पसंद करने की बात...

रंजना से प्यार करता था इबरार आलम, दूसरे लड़के को पसंद करने की बात पर काट डाला गला

घटना को अंजाम देने के बाद इबरार ने लड़की के शव को बगल के गली में ले जाकर फेंक दिया। जबकि अपने कपड़े, चाकू, मोबाइल को पास की नाली में जाकर फेंका।

बिहार के सीवान में 6 दिसंबर को इंटर की छात्रा रंजना कुमारी की गला रेतकर नृशंस हत्या की गई। घटना हुसैनगंज थाने के माहपुर खजरौनी गाँव में घटी। आरोपित की पहचान इबरार आलम के रूप में हुई। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही उसकी खून में सनी टीशर्ट, जींस और हत्या को अंजाम देने के लिए इस्तेमाल किया गया चाकू, मोबाइल फोन आदि भी बरामद कर लिया गया है।

प्रभात खबर की रिपोर्ट के अनुसार पुलिस अधीक्षक ने इस मामले पर जानकारी देते हुए बताया कि रंजना की हत्या आलम के साथ रहे प्रेम प्रसंग के कारण हुई। पुलिस के मुताबिक इबरार रंजना की बेवफाई से तंग था, इसलिए उसने प्लान बनाकर उसको मौत के घाट उतारा।

एसपी के अनुसार पचरुखी थाने की सुपौली निवासी रंजना साल 2017 में माहपुर खजरौनी (गाँव) अपनी नानी के घर मैट्रिक की परीक्षा देने आई थी। इसी दौरान उसे इबरार आलम से प्यार हो गया और दोनों में नजदीकियाँ बढ़ गईं। लेकिन, परीक्षा समाप्त होने के बाद रंजना वापस अपने पिता के पास कोलकाता चली गंई और दोनों के बीच मोबाइल पर बात होने लगीं। मगर 5-6 महीने पहले ये बातचीत का सिलसिला कम हो गया और लड़की किसी और लड़के को पसंद करने की बातें इबरार को बताने लगीं। जिसके कारण इबरार दुखी रहने लगा।

पुलिस के अनुसार 30 नवंबर को रंजना ने इबरार को मैसेज भेजकर बताया कि वे दोबारा अपने नानी के घर आ रही है। जिसके बाद आलम ने उसकी हत्या का पूरा प्लान बनाना शुरू किया। लड़की को मौत के घाट उतारने से पहले ही वे बाजार जाकर पॉलीथीन एवं चाकू खरीद लाया था। जिसे उसने अपने घर में रखा हुआ था।

इसके बाद अपने प्लान के अनुसार वह लड़की पर उससे मिलने का काफी दबाव बनाने लगा। जब 6 दिसंबर रंजना उससे मिलने के लिए राजी हुई तो वह उसे पास की एक झोपड़ी में ले जाकर बैठा और बात करने लगा। इबरार ने इस दौरान लड़की को कहा कि वो कोलकाता वाले लड़के को छोड़ दे और उससे शादी कर ले। लेकिन, बहुत कहने पर भी जब वह नहीं मानी, तो इबरार ने अपने प्लान अनुसार उसे पटककर उसका मुँह दबाया और चाकू से गला रेतकर उसकी हत्या कर दी।

घटना को अंजाम देने के बाद उसने लड़की के शव को बगल के गली में ले जाकर फेंक दिया। जबकि अपने कपड़े, चाकू, मोबाइल को पास की नाली में जाकर फेंका।

बता दें कि रंजना कुछ दिन पहले अपनी छोटी बहन पूनम के साथ कोलकाता से माहपुर इंटर की परीक्षा देने आई थी। लेकिन 6 दिसंबर को बगल की बिल्डिंग के पास मिले उसके शव ने सबको झकझोर के रख दिया। छात्रा के नाना ने इस मामले पर जानकारी देते हुए बताया था कि घटना वाली रात उनकी नातिन मकान के दूसरे मंजिल के कमरे में उनकी बहू तथा पोती के साथ सोई हुई थी। रात करीब 2 बजे उनकी बहू ने देखा की सोफा पर सोई रंजना वहाँ से गायब है। जिसके बाद उसकी खोजबीन शुरू हुई। खोजबीन के दौरान घर के लोगों ने मकान के बगल की गली में रंजना को मृत पाया। परिजनों ने बताया कि रंजना को जब उन्होंने देखा तो वो खून से लथपथ पड़ी थी तथा गर्दन शरीर से करीब-करीब अलग था। इसके बाद परिवार के लोगों ने इसकी सूचना हुसैनगंज थाने की पुलिस को दी और पुलिस ने मामले की जाँच शुरू की। करीब एक हफ्ते बाद इस मामले की परत खुल गई और इबरार पकड़ा गया। पूछताछ में उसने सारी कहानी उगली।

जमानत पर रिहा होते ही हंसिए से रेता महिला का गला, हुई मौत: नहाते वक्त बना लिया था अश्लील वीडियो
अब्दुल रहीम ने हॉस्टल वार्डन की गला रेतकर की हत्या: क्लास बंकिंग की सूचना देने से था नाराज
बहन राहिल ने की थी सपा के पूर्व मंत्री से लव मैरिज, भाई राहत ने बेरहमी से गला रेतकर मार डाला, फरार
सास शाहीन के साथ लिव इन में था शाहरुख ख़ान, आपसी विवाद के बाद गला रेत फरार
Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्कूल में नमाज बैन के खिलाफ हाई कोर्ट ने खारिज की मुस्लिम छात्रा की याचिका, स्कूल के नियम नहीं पसंद तो छोड़ दो जाना...

हाई कोर्ट ने छात्रा की अपील की खारिज कर दिया और साफ कहा कि अगर स्कूल में पढ़ना है तो स्कूल के नियमों के हिसाब से ही चलना होगा।

‘क्षत्रिय न दें BJP को वोट’ – जो घूम-घूम कर दिला रहा शपथ, उस पर दर्ज है हाजी अली के साथ मिल कर एक...

सतीश सिंह ने अपनी शिकायत में बताया था कि उन पर गोली चलाने वालों में पूरन सिंह का साथी और सहयोगी हाजी अफसर अली भी शामिल था। आज यही पूरन सिंह 'क्षत्रियों के BJP के खिलाफ होने' का बना रहा माहौल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe