Sunday, July 14, 2024
Homeदेश-समाज'मेरे बेटे को तड़पा कर मारा' : पंजाब विजिलेंस टीम की रेड में IAS...

‘मेरे बेटे को तड़पा कर मारा’ : पंजाब विजिलेंस टीम की रेड में IAS संजय के बेटे कार्तिक की मौत, माँ ने लगाया DSP पर इल्जाम

कार्तिक पोपली की मौत के बाद उनकी माँ ने आरोप लगाते हुए कहा कि जब तक वह उन पुलिस वालों की वर्दी को नहीं उतरवातीं तब तक वह अपने बेटे के खून लगे हाथ को नहीं धोएँगी।

पंजाब में आईएएस अधिकारी संजय पोपली के बेटे कार्तिक पोपली की मौत के बाद उनकी बीवी ने विजिलेंस टीम पर बेटे को तड़पा कर मारने का आरोप मढ़ा है। कार्तिक की माँ ने मीडिया में पुलिस दावे को खारिज करते हुए कहा है कि जाँच के नाम पर घर में घुसी टीम ने उनके बेटे को तड़पा कर मारा और उसके बाद वह वहाँ खड़े होकर हँसते रहे।

वीडियो में माँग को कहते सुना जा सकता है कार्तिक की माँ कहती है, “पहले वो मेरे पति को बुला ले गई। इतनी देर में गोली की आवाज आई और जाकर देखा तो कार्तिक खून में लथपथ था। मेरा बेटा इन्होंने मार दिया। उसको टॉर्चर किया। पूरी विजिलेंस टीम और डीएसपी, मुख्यमंत्री के दबाव में थे। उन्होंने झूठे केस लगाए। मेरा बेटा मारा। देखो सारे घर में खून है और वो लोग हँसते रहे।”

कार्तिक की मौत के बाद उनकी माँ ने आरोप लगाते हुए कहा कि जब तक वह उन पुलिस वालों की वर्दी को नहीं उतरवातीं तब तक वह अपने बेटे के खून लगे हाथ को नहीं धोएँगी।

इस मामले में संजय पोपली की एक रिश्तेदार अणु प्रीत कुलर ने कहा, “विजिलेंस टीम ने संजय पोपली से कहा कि वो किसी पेपर पर साइन करें वरना उनके बेटे के लिए अच्छा नहीं होगा। उन्होंने उसे एक कमरे में बंद कर दिया और बेटे को ऊपर ले गए। हम नीचे खड़े थे। ऊपर से गोली की आवाज आई। विजिलेंस टीम ने ही उसे मारा है।”

बता दें कि चंडीगढ़ में कार्तिक पोपली की हत्या के बाद संजय पोपली के परिजनों द्वारा लगाए जा रहे आरोपों पर पंजाब विजिलेंस ब्यूरो के डीएसपी अजय कुमार ने कहा कि ये मामला जाँच का है। ये सारे आरोप निराधार हैं। टीम वहाँ बस रिकवरी के लिए गई हैं। घटना के बारे में तो बाद में सूचना मिली। एसएसपी कुलदीप चहन घटना को लेकर बताया कि वो लोग भी यहाँ पड़ताल के लिए आए थे लेकिन गोली की आवाज आई। सत्यापन के बाद पता चला कि उनके बेटे ने खुद को लाइसेंसी गन से गोली मार ली है।

उल्लेखनीय है कि पंजाब विजिलेंस ब्यूरो ने पिछले सप्ताह आईएएस संजय पोपली को भ्रष्टाचार संबंधी मामलों में गिरफ्तार किया था। उन्हें चार दिन की पुलिस रिमांड में लिया गया था। अब चूँकि वो रिमांड खत्म हो रही थी तो विजिलेंस टीम कथिततौर पर दोबारा इसी मामले में आगे की पड़ताल के लिए उनके घर गई थी जहाँ उनकी कार्तिक के साथ बहस हुई और फिर उन्हें कमरे में ले जाया गया। इसके बाद गोली की आवाज सुनाई पड़ी और परिजनों ने ऊपर जाकर देखा तो कार्तिक खून से लथपथ पड़े थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

डोनाल्ड ट्रंप को मारी गई गोली, अमेरिकी मीडिया बता रहा ‘भीड़ की आवाज’ और ‘पॉपिंग साउंड’: फेसबुक पर भी वामपंथी षड्यंत्र हावी

डोनाल्ड ट्रंप की हत्या के प्रयास की पूरी दुनिया के नेताओं ने निंदा की, तो अमेरिकी मीडिया ने इस घटना को कमतर आँकने की कोशिश की।

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट के पूर्व जज रोहित आर्य BJP में हुए शामिल, ओडिशा हाई कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश चितरंजन दास बोले- मैं भी...

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट के न्यायाधीश रोहित आर्य रिटायरमेंट के लगभग तीन महीने बाद शनिवार (13 जुलाई 2024) को भाजपा में शामिल हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -